एक आंगन में खून से लथपथ एक महिला और दो बच्चों का वीडियो सोशल मीडिया पर काफ़ी वायरल है. वीडियो के साथ किए जा रहे दावे के अनुसार, अजमल खान नाम के एक व्यक्ति को राजस्थान की एक हिंदू लड़की से प्यार हो गया. वो शादी के लिए बात करने उसके घर गया लेकिन लड़की के पिता ने उसे भगा दिया. दावे के अनुसार, अगले दिन वो चाकू लेकर आया और पूरे परिवार की हत्या कर दी. वीडियो में काफ़ी हिंसा दिख रही है, इसलिए ऑल्ट न्यूज़ इसे आर्टिकल में शामिल नहीं कर रहा है.

वीडियो के साथ किया गया पूरा दावा हिंदी में इस प्रकार है, “राज्यस्थान मे एक मुस्लिम हुआ बेकाबू अजमल खान को एक हिन्दु परिवार की लड़की पसंद आ गई और वो शादी करने के लिए पहुचा उसके घर रिश्ता ले केफिर लड़की के बाप ने उसे धमका के भगा दिया उसके बाद अजमल ने परिवार के साथ क्या किया देखे आप सभी”

ऑल्ट न्यूज़ को अपने व्हाट्सऐप नंबर (+91 76000 11160) पर वीडियो की सही जानकारी पता करने के लिए कई सारी रिक्वेस्ट मिलीं.

This slideshow requires JavaScript.

इस क्लिप को ट्विटर पर भी शेयर किया गया है.

झूठी सांप्रदायिक कहानी

स्थानीय हिंदी न्यूज़ रिपोर्ट्स के अनुसार, राजस्थान के अजमेर में एक व्यक्ति ने अपनी पत्नी और बेटियों पर हमला किया था. आरोपी की पहचान अजीत के रूप में हुई. किसी भी मीडिया आउटलेट ने इसके पीछे कोई सांप्रदायिक कारण नहीं बताया. बात घरेलू हिंसा की थी.

ऑल्ट न्यूज़ ने अजमेर पुलिस से संपर्क किया और उन्हें ये वायरल वीडियो भी भेजा. पुलिस ने हमें बताया कि ये दावा झूठा है. उन्होंने कहा, “अजीत ने अपनी पत्नी कविता और बेटियों एंजेल (5 वर्ष ) और अनु (7 वर्ष) पर हमला करके खुद को भी घायल कर लिया था. उसकी दोनों बेटियों की मौत हो गयी और दोनों पति-पत्नी को अस्पताल में भर्ती कराया गया है.” अपराध के पीछे मकसद के बारे में पूछे जाने पर पुलिस ने कहा, “कविता को हिस्टेरेक्टॉमी हुई थी, जिसकी वजह से वो फिर से गर्भवती नहीं हो सकती थी. अजीत पिछले कुछ महीनों से ये जानते हुए काफी उदास था कि उसे और बच्चे नहीं हो सकते. उनकी दो बेटियां थीं और उन्हें एक बेटा चाहिए था”

पुलिस ने ये भी बताया कि कविता हिंदू परिवार से है और अजीत राजस्थान के चीता मेहरत समुदाय से है जिसमें हिंदू और मुस्लिम दोनों आते हैं. पुलिस ने बताया, “अजीत के परिवार में हिंदू थे पर उनकी पहचान एक मुस्लिम के रूप में होती थी. लेकिन मार-पीट और हत्या सांप्रदायिक वजहों से नहीं हुई थी.” राजस्थान के कई जिलों में फैला चीता मेहरत समुदाय इस मायने में काफ़ी अलग है कि एक हिंदू पिता जो इस समुदाय का हिस्सा है, उसके बच्चे या तो इस्लाम या इससे अलग धर्म का पालन कर सकते हैं. समुदाय के अंदर हर व्यक्ति की जीवन शैली उसके द्वारा पालन किए जाने वाले धर्म पर आधारित होती है.

अजमेर पुलिस ने एक बयान के अनुसार, ये घटना 14 जुलाई को हुई थी. कविता के परिवार को हमले की सूचना दी गई थी, लेकिन उन्होंने आने से मना कर दिया. अजीत से शादी करने के बाद से कविता का परिवार उससे नाराज़ है. शादी को 10 साल हो गए.

इस घटना को मीडिया में भी रिपोर्ट किया गया है. हालांकि, ख़बर कुछ हद तक अलग है. दैनिक जागरण की रिपोर्ट के अनुसार, अजमेर जिले के ब्यावर अनुमंडल के हाइवे पर स्थित खरवा गांव निवासी अजीत ने बेरोजगारी और आर्थिक तंगी से परेशान होकर अपने परिवार पर हमला कर दिया. पत्नी की हिस्टेरेक्टॉमी के बाद अजीत घर के कामों में व्यस्त था. वो उन्हें मारकर बाद में आत्महत्या करके मरना चाहता था. पत्रिका के अनुसार, अजीत ने भागने की कोशिश की, पर गांव वालों ने उसे पकड़ लिया. वीडियो शेयर करने वाले पहले ट्विटर यूज़र में से एक ने भी यही दावा किया था.

इस तरह, अपनी दो बेटियों की हत्या करने और पत्नी को घायल करने की घटना को सोशल मीडिया पर झूठा सांप्रदायिक रंग दिया गया. ये मनगढ़ंत कहानी कि ‘अजमल खान’ ने उस महिला के परिवार को मार डाला, जिससे वह शादी करना चाहता था, काफ़ी तेज़ी से शेयर की जा रही है.

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

Donate Now

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.
Tagged:
About the Author

Pooja Chaudhuri is a senior editor at Alt News.