ट्विटर के ऐक्विज़िशन के बाद एलन मस्क ट्विटर के नए मालिक बन गए हैं. इस टेकओवर के बाद ट्विटर ने बड़े स्केल पर कर्मचारियों की छंटनी कर दी और उन्हें नौकरी से निकाल दिया. इसके बाद से ये खबर सुर्खियों में है. कई लोग इसपर मीम बनाकर सोशल मीडिया पर शेयर कर रहे हैं, वहीं कुछ लोग इसका कड़े शब्दों में आलोचना कर रहे हैं.

15 नवंबर को एलन मस्क ने 2 व्यक्ति के साथ अपनी एक तस्वीर शेयर की. इसके साथ उन्होंने लिखा, “लिग्मा और जॉनसन का फिर से स्वागत है.” इसी ट्वीट के थ्रेड में उन्होंने कहा कि अगर मैं ग़लत हूं तो इसे स्वीकार करना ज़रूरी है. और इन्हें निकालना मेरी सबसे बड़ी ग़लती थी.

इस ट्वीट के आधार पर इंडिया टुडे ग्रुप के हिन्दी चैनल आजतक ने अपने सोशल मीडिया पर पोस्ट शेयर करते हुए दावा किया कि एलन मस्क ने अपनी गलती मान ली है और कर्मचारियों को नौकरी से निकालना उनकी सबसे बड़ी गलती थी. आजतक ने इसे ट्विटर और फ़ेसबुक पर शेयर किया. बाद में आजतक ने ट्वीट डिलीट कर दिया.

जागरण ने भी एलन मस्क के ट्वीट के आधार पर आर्टिकल लिखा. इसमें भी दावा किया गया था कि उन्होंने दो कर्मचारियों को वापस बुलाया और अपनी गलती स्वीकार किया. (आर्काइव लिंक)

इसी प्रकार इंडिया टीवी, टीवी9 भारतवर्ष, वन इंडिया ने भी इसी दावे के साथ आर्टिकल पब्लिश किया.

This slideshow requires JavaScript.

फ़ैक्ट-चेक

हमने देखा कि एलन मस्क ने अपने ट्वीट में लिग्मा और जॉनसन नाम मेंशन किया था. हमने इससे जुड़े की-वर्ड्स सर्च किये तो हमें कई ऐसे न्यूज़ रिपोर्ट्स मिले जिसमें तस्वीर में एलन मस्क के साथ खड़े दो व्यक्ति को राहुल लिग्मा और डैनियल जॉनसन बताया गया है जो कि प्रैंकस्टर हैं. आपको बताते चलें कि ‘लिग्मा‘ कोई सरनेम नहीं, बल्कि एक इंटरनेट स्लैंग है.

न्यू यॉर्क टाइम्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक, 27 अक्टूबर 2022 को एलन मस्क ने ट्विटर पर कब्ज़ा के तुरंत बाद कंपनी ने चार शीर्ष अधिकारियों को निकाल दिया था. इसमें ट्विटर के CEO पराग अग्रवाल, CFO नेड सेगल, लीगल पॉलिसी की हेड विजया गड्डे, इत्यादि शामिल थे.

इसपर व्यंग्य करते हुए ये दोनों प्रैंकस्टर्स् 28 अक्टूबर को ट्विटर के हेडक्वाटर्स के सामने बॉक्स लेकर खड़े हुए थे. इस घटना को कई मीडिया आउटलेट्स जैसे CNBC, ब्लूमबर्ग इत्यादि ने सच मानकर रिपोर्ट किया था कि ट्विटर ने इन कर्मचारियों को निकाल दिया है. हालांकि, बाद में मीडिया संस्थानों ने अपनी गलती मान रिपोर्ट में सुधार किया था. अमेरिकन टेक्नॉलजी न्यूज़ साइट The Verge ने स्पष्ट किया कि ये दोनों ट्विटर के कर्मचारी नहीं हैं.

CNBC से जुड़ी Dierde Bosa ने दोनों प्रैंकस्टर्स् को ट्विटर का असल कर्मचारी मानकर उनसे बात की थी और दावा किया था कि ट्विटर के डाटा इंजीनियर्स को नौकरी से निकाल दिया था. बाद में उन्होंने अपनी गलती स्वीकार की और इसपर अपना स्पष्टीकरण दिया.

कुल मिलाकर, हिन्दी चैनल आजतक, इंडिया टीवी, टीवी9 भारतवर्ष, वन इंडिया ने प्रैंकस्टर्स को ट्विटर का असल कर्मचारी समझकर न्यूज़ रिपोर्ट पब्लिश की. असल में एलन मस्क ने मज़ाकिया लहजे में ट्वीट किया था.

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.

Tagged:
About the Author

Abhishek is a journalist at Alt News.