एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल है जिसमें एक लड़का साधु की दाढ़ी और बाल काटता हुआ दिखता है. वीडियो में ये लड़का साधु को गालियां भी दे रहा है. इसे शेयर करते हुए कहा जा रहा है कि खंडवा में एक मुस्लिम लड़के ने साधु के साथ ऐसा दुर्व्यवहार किया. ट्विटर यूज़र ‘महेश साहू’ ने ये वीडियो इसी दावे के साथ ट्वीट किया और हिन्दू एक्ट में सज़ा होने की बात की. (ट्वीट का आर्काइव लिंक)

और भी कई ट्विटर यूज़र्स ने ये वीडियो इसी दावे के साथ ट्वीट किया है.

फ़ेसबुक पर भी ये वीडियो इसी सांप्रदायिक दावे के साथ वायरल है.

फ़ैक्ट-चेक

वायरल वीडियो पर ‘पृथ्वी चक्र’ का लोगो दिख रहा है. इसे ध्यान में रखते हुए सर्च करने पर ऑल्ट न्यूज़ को मालूम चला कि ‘पृथ्वी चक्र’ नाम के चैनल ने ये वीडियो फ़ेसबुक पर 24 मई को 2022 को पोस्ट किया था. पोस्ट के मुताबिक, मध्यप्रदेश के खंडवा में प्रवीण नाम के एक व्यक्ति ने साधु की पिटाई की.

आगे, ऑल्ट न्यूज़ ने गूगल पर की-वर्ड्स सर्च किया. कई मीडिया संगठनों ने इस घटना पर रिपोर्ट पब्लिश की है. नवभारत टाइम्स ने रिपोर्ट किया कि खंडवा ज़िले के पतजन गांव में प्रवीण गौर नाम के एक लड़के ने नाई की दुकान के सामने एक साधु के बाल और दाढ़ी काट दिए थे. आर्टिकल में बताया गया है कि प्रवीण एक होटल व्यवसायी का बेटा है. और उसने ऐसा नशे की हालत में किया था. रिपोर्ट में लिखा है कि इस घटना के पीछे की कोई वजह सामने नहीं आयी है.

आज तक के आर्टिकल में भी आरोपी लड़के का नाम प्रवीण गौर ही बताया गया है. फिलहाल उसे पुलिस ने गिरफ़्तार कर लिया है. साथ में खंडवा के SP विवेक सिंह के हवाले से बताया गया है कि इस मामले में केस दर्ज कर उचित कारवाई की जा रही है.

ऑल्ट न्यूज़ ने खंडवा के थाना प्रभारी P R डावर से भी बात की. उन्होंने बताया कि इस घटना में कोई सांप्रदायिक ऐंगल नहीं है. उन्होंने कहा, “इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ तब लोगों ने साधु के साथ इस तरह की हरकत होने पर आपत्ति जताई. इसके बाद पुलिस ने केस दर्ज किया और आरोपी लड़के को हिरासत में लिया गया. लेकिन छानबीन के दौरान, पीड़ित साधु का पता नहीं लगा. आरोपी लड़का मुस्लिम नहीं बल्कि हिन्दू समुदाय से ही है. और फिलहाल वो जेल में बंद है.”

कुल मिलाकर, मध्यप्रदेश के खंडवा में एक लड़के ने साधु के साथ दुर्व्यवहार किया था. इसका वीडियो सोशल मीडिया पर सांप्रदायिक रंग देकर शेयर किया गया. लेकिन जांच में सामने आया कि आरोपी हिन्दू समुदाय से ही है और उसकी गिरफ़्तारी हो चुकी है.

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.

Tagged: