सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर किया जा रहा है. वीडियो में कुछ लोग ‘लव जिहाद’ की बात कहते हुए एक लड़के की पिटाई कर रहे हैं. वीडियो में पुलिसवाले भी दिख रहे हैं. वीडियो के साथ दावा किया जा रहा है कि भोपाल में एक मुस्लिम लड़का, हिन्दू लड़की को बहलाकर ले जा रहा था. फ़ेसबुक यूज़र गीतम सिंह चहर ने ये वीडियो इसी दावे के साथ पोस्ट किया. आर्टिकल लिखे जाने तक इस वीडियो को 36 हज़ार व्यूज़ मिले. (आर्काइव लिंक)

 

एक और फ़ेसबुक यूज़र ने भी ये वीडियो इसी दावे के साथ पोस्ट किया.

 

फ़ेसबुक पर भी ये वीडियो काफ़ी शेयर किया गया है. (लिंक 1, लिंक 2)

This slideshow requires JavaScript.

फ़ैक्ट-चेक

की-वर्ड्स सर्च करने पर ऑल्ट न्यूज़ को द न्यू इंडियन एक्सप्रेस का आर्टिकल मिला. 4 सितंबर 2021 के इस आर्टिकल में बताया गया कि मध्य प्रदेश के देवास में एक 16 वर्षीय लड़के की पिटाई की गई थी. ये लड़का 12 वर्षीय एक लड़की के साथ भागकर मध्यप्रदेश पहुंचा था. लोगों को लगा कि ये लड़का मुस्लिम समुदाय से है और हिन्दू लड़की को भगाकर ले जा रहा था. इसे ‘लव जिहाद’ समझकर भीड़ ने लड़के की पिटाई की थी. पुलिस के हवाले से रिपोर्ट में बताया गया कि लड़का और लड़की दोनों ही हिन्दू थे और उत्तर प्रदेश के रहनेवाले थे.

आर्टिकल में बताया गया कि इस घटना के बाद इन दोनों को उत्तर प्रदेश पुलिस को सौंप दिया गया. देवास पुलिस वीडियो में से 4 लोगों की पहचान कर चुकी थी और 15 अज्ञात लोगों के खिलाफ़ शिकायत भी दर्ज की.

द क्विन्ट ने भी इस घटना के बारे में खबर शेयर की. रिपोर्ट में वायरल वीडियो का स्क्रीनशॉट भी शेयर किया गया था. जनसत्ता ने भी इस बारे में आर्टिकल पब्लिश किया.

इस पूरे मामले की जानकारी जुटाने के लिए ऑल्ट न्यूज़ ने देवास के एसपी शिव दयाल सिंह से संपर्क किया. उन्होंने बताया, “इस घटना में कोई लव जिहाद का ऐंगल नहीं है. दोनों, लड़का और लड़की नाबालिग थे और दोनों ही हिन्दू समुदाय से थे. इस मामले में पुलिस ने लड़के को पीटने वाले लोगों के खिलाफ़ शिकायत दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है. और लड़का और लड़की को उत्तर प्रदेश पुलिस को सौंप दिया गया था.”

कुल मिलाकर, ‘लव जिहाद’ समझकर मध्यप्रदेश में भीड़ ने एक नाबालिग लड़के की पिटाई की थी. उनका मानना था कि ये लड़का एक हिन्दू लड़की को भगाकर ले जा रहा था. इस पूरी घटना के वीडियो को भी सोशल मीडिया पर ‘लव जिहाद’ ऐंगल से शेयर किया गया.


मीडिया ने पंजशीर घाटी में तालिबानी आतंकियों के मारे जाने का बताकर पुराने वीडियोज़ चलाए :

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

Donate Now

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.
Tagged: