वायरल हो रहे वीडियो के बारे में दावा किया जा रहा है कि इसमें दिख रहा शख्स हिमालया ड्रग कंपनी का मालिक है और मुस्लिम है. इस वीडियो में उसे बाबरी मस्जिद का हवाला देते हुए मुस्लिम समुदाय को न्यायतंत्र, पुलिस, स्वास्थ्य और अन्य क्षेत्रों में मुस्लिमों की भागीदारी बढ़ाने के लिए कहते सुना जा सकता है.

*ये मुल्ला हिमालया कम्पनी का मालिक है। जो फेस वाश व ब्यूटी प्रॉडक्ट्स आदि सामान बनाती है। इसकी कम्पनी के उत्पादों का बहिष्कार करें। घुटनों पर आ जायगा। कृपया हर समूह में भेजें और जागरूक करें।..*

Posted by ठाकुर सुमीत राजपूत फरल on Friday, 18 June 2021

वीडियो शेयर करने के साथ ही लोगों को हिमालया कम्पनी के प्रोडक्ट्स खरीदने और इस्तेमाल करने से मना किया जा रहा है. व्हाट्सऐप पर भी ये वीडियो शेयर किया जा रहा है. ऑल्ट न्यूज़ को इसे वेरीफ़ाई करने के लिए रिक्वेस्ट मिली है. फ़ेसबुक पर भी ये वीडियो वायरल है.

This slideshow requires JavaScript.

2020 से शेयर

सितम्बर 2020 में ये वीडियो ऐसे मिलते जुलते दावों के साथ शेयर किया जा रहा था.

कई यूज़र्स ने वीडियो को फ़ेसबुक और ट्विटर पर शेयर किया.

ऑल्ट न्यूज़ को ऑफ़िशियल मोबाइल ऐप पर कुछ लोगों ने इसके फ़ैक्ट चेक के लिए रिक्वेस्ट भेजी.

फ़ैक्ट चेक

ऑल्ट न्यूज़ ने वीडियो वेरिफ़िकेशन टूल InVid से इस वीडियो के फ़्रेम्स निकाले. इन फ़्रेम्स का जब यांडेक्स पर रिवर्स इमेज सर्च किया गया तो हमें इसी व्यक्ति का यूट्यूब पर एक और वीडियो मिला. व्यक्ति ने अपना नाम उर्दू में लिखा है – नकी अहमद नदवी.

ये नाम सर्च करने पर नकी अहमद नदवी की फ़ेसबुक प्रोफ़ाइल मिली. हमें वायरल हो रहा वीडियो नकी के फ़ेसबुक पेज पर मिला जिसे 6 अगस्त, 2020 को उर्दू कैप्शन के साथ पोस्ट किया गया था, “ابری مسجد کا انہدام اوراسکی جگہ پر رام مندر کا قیام تاریخ ہند کا ایک ایسا موڑ ہے جس کے بارے میں مسلمانوں کو سنجیدگی سے غور کرنا ہوگا! (अनुवाद – बाबरी मस्जिद का विध्वंस और राम मंदिर का शिल्यान्यास इतिहास में एक बहुत बड़ा मोड़ है और मुस्लिम समुदाय को इसपर गंभीरता से विचार करने की ज़रुरत है.)”

नकी अहमद नदवी की लिंक्ड-इन प्रोफ़ाइल के मुताबिक वो सऊदी अरब के रियाध में एक खदान कंपनी मादेन के मालिक हैं. उनकी प्रोफ़ाइल के अनुसार उन्होंने अपनी पढ़ाई भारत में पूरी की है और पिछले 15 साल से सऊदी अरब में रह रहे हैं.

हिमालया ड्रग कंपनी के संस्थापक मोहम्मद मेनल थे जिनका 1986 में ही निधन हो चुका है. कंपनी की वर्तमान अध्यक्ष और सीईओ फ़िलिप हेडन हैं. कंपनी ने 27 सितम्बर को एक फ़ैक्ट चेक रिपोर्ट भी ट्वीट की थी.

ये पहली बार नहीं है जब इस कंपनी के बारे में सोशल मीडिया पर गलत जानकारी फ़ैलाई जा रही हो. इसी साल मार्च में ग़लत दावा किया जा रहा था कि इसके संस्थापक आतंकियो को फ़ण्ड करते हैं.

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

Donate Now

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.
About the Author

Aqib is monitoring and researching mis/disinformation at Alt News