सोशल मीडिया में गड्ढों से भरी एक सड़क की तस्वीर खूब शेयर की जा रही है. दावा किया जा रहा है कि ये तस्वीर केरला के वायनाड ज़िले की है. तस्वीर शेयर करते हुए यूज़र्स राहुल गांधी पर तंज़ कस रहे हैं क्योंकि वायनाड राहुल गांधी का संसदीय क्षेत्र है. संजीत चौहान ने ‘BJP Mission 400 for 2024’ नाम के फ़ेसबुक ग्रुप में इस तस्वीर को पोस्ट करते हुए लिखा, “#राहुल_गांधी का संसदीय क्षेत्र #वायनाड बना देश का पहला #स्मार्ट सिटी 😊हर घर के आगे सबका अलग अलग स्विमिंग पूल बनाने वाला पहला शहर 😂😂” आर्टिकल लिखे जाने तक इस पोस्ट को 1,400 बार लाइक और 550 से ज़्यादा बार शेयर किया जा चुका है.

ABVP कार्यकर्ता और भाजपा से जुड़ी प्रिया शर्मा ने ये तस्वीर 9 जुलाई 2020 को इसी दावे के साथ ट्वीट की थी. (ट्वीट का आर्काइव लिंक)

हमने पाया कि ये तस्वीर वायनाड की बताते हुए ट्विटर और फ़ेसबुक पर वायरल है. ऑल्ट न्यूज़ के ऑफ़िशियल मोबाइल ऐप पर इस तस्वीर की हकीकत जानने के लिए कुछ रीक्वेस्ट भी आई हैं.

फ़ैक्ट-चेक

गूगल रिवर्स इमेज सर्च करने पर हमें 3 जुलाई 2017 की ‘एबीपी न्यूज़’ की एक वीडियो रिपोर्ट मिली. रिपोर्ट के मुताबिक, 2017 में ये तस्वीर बिहार की बताते हुए खूब शेयर की गई थी. जुलाई 2017 में इस तस्वीर को शेयर करते हुए यूज़र्स बिहार सरकार पर निशाना साध रहे थे. ये तस्वीर बिहार के भागलपुर से पीरपैंती जाने वाले नेशनल हाईवे 80 की ही है. ‘एबीपी न्यूज़’ की रिपोर्ट में बताया गया है कि ये तस्वीर जुलाई 2017 के 2 महीने पहले यानी मई 2017 की है. इसका मतलब है कि मई 2017 में नेशनल हाईवे 80 की हालत काफ़ी खराब थी जिसे जुलाई 2017 तक सुधार दिया गया था.

Viral Sach: Is this road full of potholes in Bihar?

Viral Sach: Is this road full of potholes in Bihar?

Posted by ABP Live on Monday, 3 July 2017

‘एबीपी न्यूज़’ वायरल तस्वीर में दिखने वाली सड़क का मुआयना करने के लिए उस वक़्त भागलपुर से पीरपैंती जाते नेशनल हाईवे 80 पर पहुंचा. वीडियो रिपोर्ट में मई 2017 में गड्ढों से भरी हुई सड़क के दृश्य दिखाए गए है. साथ ही में उसी सड़क के जुलाई 2017 के दृश्य भी ‘एबीपी’ की रिपोर्ट में देखे जा सकते हैं जिसमें साफ़ दिखाई दे रहा है कि जुलाई 2017 तक इस सड़क की स्थिति में सुधार आ गया था. वहां के एक स्थानीय समाज सेवक दिलीप मिश्रा ने रिपोर्ट में मई 2017 में इस सड़क के बुरे हाल होने की बात बताई है. वहीं उन्होंने ये भी बताया कि जुलाई 2017 तक इस सड़क की मरम्मत के काम को पूरा कर लिया गया था. 29 जून 2017 को ‘टाइम्स ऑफ़ इंडिया’ ने नेशनल हाईवे 80 की तस्वीर शेयर करते हुए इस सड़क की खस्ता हालत के बारे में एक रिपोर्ट पब्लिश की थी.

इस तरह, मई 2017 में बिहार के भागलपुर ज़िले से होकर गुज़रने वाले नेशनल हाईवे 80 की खस्ता हालत तस्वीर सोशल मीडिया में केरला के वायनाड ज़िले की हालिया स्थिति की बताते हुए शेयर किया जा रहा है. 3 साल पुरानी बिहार की तस्वीर का इस्तेमाल कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर निशाना साधने के लिए किया जा रहा है.

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

Donate Now

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.