सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल है. इस वीडियो में एक पुरुष बुर्का पहने हुए नज़र आता है. वीडियो में पुलिस भी दिख रही है. ‘मोदी वन्स मोर’ नाम की एक फ़ेसबुक पेज ने 6 नवम्बर को ये वीडियो पोस्ट किया है जिसे 74 हज़ार से अधिक बार देखा जा चुका है. पेज ने इसे शेयर करते हुए लिखा कि अब ये मत पूछना कि पुलवामा में विस्फ़ोटक कहां से आया.

Now do not ask how the explosive came in pulwama

Now do not ask how the explosive came in pulwama

Posted by Modi Once More on Saturday, 6 November 2021

फ़ेसबुक यूज़र शशि पाटील ने ये वीडियो पोस्ट करते हुए लिखा कि ये वीडियो उनके लिए है जो पूछते हैं कि पुलवामा में विस्फ़ोटक कहां से आया. इस वीडियो को 13 हज़ार व्यूज़ मिले.

 

पुलवामा मध्ये स्फोटके आली कुठून विचारणार्या लपडझंडीस लोकांसाठी हा व्हिडीओ 😡😡😡

Posted by Shashi Patil on Thursday, 23 September 2021

फ़ेसबुक यूज़र सुजय अनु ने ये वीडियो पोस्ट करते हुए लिखा कि ये व्यक्ति बुर्के में बारूद लेकर घूम रहा है.

 

भाईजान बुर्के में बारूद लेकर घूम रहे हैं।

Posted by सुजय अनु on Tuesday, 20 July 2021

और भी कई फ़ेसबुक यूज़र्स ने ये वीडियो पोस्ट किया है.

This slideshow requires JavaScript.

फ़ैक्ट-चेक

गूगल रिवर्स इमेज सर्च करने पर ऑल्ट न्यूज़ को 11 मार्च 2021 का एक यूट्यूब वीडियो मिला. बांग्लादेशी यूट्यूब चैनल स्माइल टीवी ने ये वीडियो अपलोड करते हुए बताया था कि चटगांव में एक व्यक्ति गर्भवती महिला का भेष बनाकर नशीले पदार्थ की तस्करी कर रहा था. पुलिस ने ऐसे 2 तस्करों को गिरफ़्तार किया था.

वीडियो में दिख रहे पुलिसकर्मियों की यूनिफ़ॉर्म बांग्लादेश पुलिस की है. नीचे, वीडियो में दिख रहे पुलिसकर्मी और चटगांव पुलिस की यूनिफ़ॉर्म दिखाया गया है जिससे साफ़ होता है कि ये वीडियो बांग्लादेश का है.

आगे, की-वर्ड्स सर्च करते हुए चटगांव के मीडिया आउटलेट ‘सी वॉइस 24’ का आर्टिकल मिला. 9 मार्च 2021 की इस रिपोर्ट में रावज़ान पुलिस स्टेशन के ऑफ़िस इन-चार्ज के हवाले से बताया गया था कि चेक पोस्ट पर पुलिस तैनात थी और सभी यात्रियों की तलाशी ले रही थी. इस दौरान, एक रिक्शा की तलाशी लेते वक़्त सामने आया कि ये व्यक्ति कोई महिला नहीं बल्कि पुरुष था. और गर्भवती होने का भेष बनाकर शराब की तस्करी कर रहा था.

इस तरह, बांग्लादेश में बुर्का पहनकर शराब की तस्करी कर रहे आदमी का वीडियो भारतीय सोशल मीडिया पर शेयर किया गया. इसे शेयर करते हुए कहा गया कि ये लोग विस्फ़ोटक पदार्थ की तस्करी कर रहे हैं. इससे पहले भी कई बार बांग्लादेश के वीडियोज़ और तस्वीरें भारत के बताकर भ्रामक दावे के साथ शेयर किये गए हैं.


रूसी आर्टिस्ट की कृष्ण और पांडवों की पेंटिंग को लोगों ने पंजशीर पैलेस में मौजूद पेंटिंग बताया :

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.

Tagged: