सोशल मीडिया पर एक महिला के पैर में गोली लगने का वीडियो काफ़ी शेयर किया जा रहा है. गोली एक पुलिसवाला चलाता दिख रहा है. दावा है कि मामूली सी बात पर पुलिसकर्मी ने मुस्लिम महिला पर गोली चला दी. फ़ेसबुक पेज ‘काजल निषाद’ ने ये वीडियो पोस्ट किया. आर्टिकल लिखे जाने तक इस वीडियो को 56 हज़ार बार देखा जा चुका है. (पोस्ट का आर्काइव लिंक)

दिल्ली पुलिस ने की क्रूरता की हद पार गाड़ी से थोड़ा लगने पर मुस्लिम युवक के माँ पर चला दी गोली!!!

Posted by काजल निषाद on Sunday, 20 December 2020

एक और फ़ेसबुक पेज ‘इमरान बाँकवी’ ने ये वीडियो पोस्ट किया है. (आर्काइव लिंक)

दिल्ली

दिल्ली पुलिस ने की क्रूरता की हद पार गाड़ी से थोड़ा लगने पर मुस्लिम युवक के माँ पर चला दी गोली!!!

Posted by Imran Bankwi on Saturday, 19 December 2020

फ़ेसबुक पर ये वीडियो वायरल है.

फ़ैक्ट-चेक

की-वर्ड्स सर्च करने पर हमें 26 नवंबर 2020 की हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट मिली. रिपोर्ट के मुताबिक, दिल्ली के रोहिणी नगर में एक पुलिसकर्मी ने मामले को संभालने के लिए ज़मीन पर 4 गोलियां चलाई थीं. इसमें से एक गोली महिला के पैर पर लगी थी. रिपोर्ट में रोहिणी के डीसीपी पीके मिश्रा के हवाले से बताया गया है कि ये महिला अब खतरे से बाहर है. पुलिस ने हमला करने वाले लोगों पर ऑन ड्यूटी पुलिसकर्मी से बदसलूकी करने, उसे ड्यूटी करने से रोकने, बंदूक और बाकी समान छीनने का केस दर्ज किया है. रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस प्रशासन ने पुलिस कॉन्स्टेबल पुनीत शर्मा पर कोई चार्ज नहीं लगाया है. लेकिन पुनीत से इस मामले में पूछताछ जारी जारी है.

अमर उजाला की 26 नवंबर की रिपोर्ट में गोली लगने वाली महिला का नाम मधु बताया गया है. रिपोर्ट में पुलिस के हवाले से बताया गया है कि पुनीत शर्मा की मेडिकल जांच करने पर सामने आया था कि वो उस वक़्त नशे में नहीं था.

आगे, ज़्यादा जानकारी जुटाने के लिए ऑल्ट न्यूज़ ने रोहिणी के डीसीपी प्रमोद कुमार मिश्रा से बात की. उन्होंने बताया, “इस घटना में कोई सांप्रदायिक बात नहीं है. जिस कॉलोनी की ये घटना है वहां पर सभी हिन्दू ही रहते हैं. हमारे पास एक कम्प्लेंट आई थी. इसके चलते पुनीत शर्मा नाम का एक कॉन्स्टेबल घटना स्थल पर पहुंचा था. दूसरा परिवार, जिससे बुज़ुर्ग दम्पत्ति का झगड़ा हुआ था, वो काफ़ी गुस्से में था. वो लोग कॉन्स्टेबल से बंदूक और सामान छीनने लगे थे. इस कारण पुनीत ने अपने और बुज़ुर्ग दंपति के बचाव में गोली चलाई थी. इस दौरान एक गोली उस महिला के पैर की छोटी उंगली पर लगी थी. पुलिस कॉन्स्टेबल पुनीत ने हमला करने वाले परिवार के खिलाफ़ शिकायत दर्ज की है. लेकिन ये कोई सांप्रदायिक मामला नहीं है. ” प्रमोद कुमार मिश्रा ने आगे बताया, “कॉन्स्टेबल पुनीत शर्मा ड्यूटी पर कार्यरत है.”

डीसीपी ने ऑल्ट न्यूज़ को FIR की कॉपी भी भेजी.

कुल मिलाकर, दिल्ली में पड़ोसियों के आपसी झगड़े को सुलझाने पहुंचे एक पुलिस कॉन्स्टेबल ने मामला शांत करने के लिए ज़मीन पर गोलियां चलाई थी. इस दौरान एक गोली मधु नाम की एक महिला के पैर पर लगी थी. इस घटना का वीडियो झूठे सांप्रदायिक दावे से शेयर किया गया कि दिल्ली पुलिस मुस्लिम महिला पर एक मामूली बात के चलते गोली चला रही है.


BJP ने लगाया AAP सरकार पर महंगे दामों में oximeter ख़रीदने का आरोप, देखिये सच्चाई :

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

Donate Now

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.
Tagged: