[चेतावनी: आर्टिकल के विज़ुअल्स कुछ लोगों को विचलित कर सकते हैं. पाठकों से आग्रह है कि अपने विवेक का इस्तेमाल करें.]

व्हाट्सऐप पर कुछ तस्वीरें और वीडियो शेयर किये जा रहे हैं जिन्हें मध्य प्रदेश के बांधवगढ़ का बताया जा रहा है. इन्हीं में से एक वीडियो में एक वेयरवुल्फ़ (मानव-भेड़िया) जैसा प्राणी दिख रहा है जो घायल है और हांफ़ रहा है. देखने में लग रहा है कि वो एक अस्पताल में है. एक अन्य वीडियो में कुछ लोगों को खून से लथपथ देखा जा सकता है जो दर्द से कराह रहे हैं और उनके आस-पास डॉक्टर्स इलाज में लगे हुए हैं.

ऑल्ट न्यूज़ को व्हाट्सऐप (+91 76000 11160) पर वायरल वीडियो और तस्वीरें वेरिफ़ाई करने के लिए कई रिक्वेस्ट भेजी गयीं.

This slideshow requires JavaScript.

कुछ क्लिप्स यूट्यूब पर भी अपलोड की गईं और लिखा गया, “बांधववगढ़ में पाया गया इंसान की शकल में भेड़िया मध्य प्रदेश का हादसा.”

फ़ैक्ट-चेक

पहला वीडियो

पहले वीडियो में लाइकन (मिथकों में पाये जाने वाले वेयरवुल्फ़ की एक प्रजाति) जैसा प्राणी दिख रहा है. जब हमने इसके बारे में कीवर्ड सर्च किया तो पॉप-कल्चर से जुड़े कॉन्टेंट कवर करने वाली अमेरिकी वेबसाइट TMZ का एक आर्टिकल मिला. इसके मुताबिक ये क्लिप पहले ट्विटर पर वायरल हुई थी और लोगों ने इसे नाइजीरिया का समझ लिया था. वजह थी, वीडियो में नाइजीरिया की एक भाषा हौज़ा में आ रही आवाज़.

लेकिन TMZ के मुताबिक ये वीडियो नाइजीरिया का नहीं है, इसे बाद में एडिट करने ये आवाज़ डाली गयी थी. आगे बताया गया कि ये वीडियो पुर्तगाली शॉर्ट फ़िल्म ‘Lobisomem Morto a Tiros’ का हिस्सा है. ऑल्ट न्यूज़ ने पाया कि यही वीडियो ट्विटर और व्हाट्सऐप पर शेयर किया जा रहा है. आप इस वीडियो को पलटा हुआ पायेंगे. TMZ के मुताबिक, स्वतंत्र शिल्पकार जोज़फ-रॉब कोबेस्की ने ये लाइकन बनाया था.

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Joseph-Rob Cobasky (@robcobasky)

ऑल्ट न्यूज़ ने जोज़फ से इस बारे संपर्क किया. उन्होंने बताया कि TMZ का ये दावा ग़लत है कि इस वेयरवुल्फ़ को पुर्तगाली फ़िल्म में दिखाया गया था. उन्होंने कहा कि वो एक फ़िल्म के सेट पर शॉर्ट फिल्म शूट करने की कोशिश कर रहे थे. उन्होंने कहा, “मैं ये दिखाना चाह रहा था कि वेयरवुल्फ़ को एक कार ने टक्कर मार दी है.” उन्होंने ये भी बताया कि किसी ने बिना अनुमति लिए लोगों को डराने के मकसद से ऑडियो एडिट कर दिया.

दूसरा वीडियो

जिस वीडियो में दानव हांफ़ता दिख रहा है उसे भी जोज़फ ने ही बनाया था. जोज़फ ने बताया, “मैंने ये अपने फ़ोन में रिकॉर्ड किया था. मैं वेयरवुल्फ़ की पीठ अपने हाथ से दबा रहा था ताकि वो हांफ़ता हुआ दिखे. मैंने इसके लिए खुद अपने मुंह से आवाज़ निकाली थी और बाद में एडिट किया था.”

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Joseph-Rob Cobasky (@robcobasky)

वायरल व्हाट्सऐप फ़ॉरवर्ड की कुछ तस्वीरें यहां और यहां देखी जा सकती हैं.

तीसरा वीडियो

हमने तीसरे वीडियो के फ़्रेम का रिवर्स इमेज सर्च किया और हमें जून 2019 का यूट्यूब वीडियो मिला जिसे पुकार एशिया (Pukar Asia) ने अपलोड किया था. (हम वीडियो की संवेदनशीलता को देखते हुए उसे इस आर्टिकल में नहीं लगा रहे हैं.)

इसके बाद जब हमने इस घटना के बारे में सर्च किया तो ANI की एक रिपोर्ट मिली. रिपोर्ट के मुताबिक ये पाकिस्तान के ननकाना साहिब के ज़िला मुख्यालय अस्पताल में दो गुटों में झड़प और गोलीबारी हुई थी. इस घटना में 5 लोगों की मौत हो गयी थी और सात लोग घायल हुए थे. ANI ने ज़िन्हुआ न्यूज़ एजेंसी के हवाले से ख़बर देते हुए आगे बताया कि अस्पताल के इमरजेंसी वॉर्ड में किसी बात पर हुई बहस के बाद दो गुट आपस में भिड़ गए और गोलीबारी पर उतर आये.

यानी, असंबंधित वीडियोज़ को एक-साथ शेयर करते हुए ग़लत दावा किया गया कि मध्य प्रदेश के बांधवगढ़ में वेयरवुल्फ़ देखा गया.


योगी आदित्यनाथ की भेंट की हुई किताबों को मीडिया ने बताया हार्वर्ड की स्टडी, मगर असलियत कुछ और है

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

Donate Now

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.
About the Author

Kalim is a journalist with a keen interest in tech, misinformation, culture, etc