टाइम्स नाउ के प्रोग्राम में अमित शाह ने BJP के भड़काऊ बयानों पर ग़लत जानकारी दी?

13 फरवरी को प्राइवेट न्यूज़ चैनल टाइम्स नाउ के एक कार्यक्रम में देश के गृहमंत्री अमित शाह पत्रकार नविका कुमार से बात कर रहे थे. इस दौरान उनसे दिल्ली चुनाव और उसके नतीजों को लेकर सवाल पूछा गया जिसका जवाब देश भर में सुर्खियां बना रहा है. नविका कुमार ने सवाल पूछा कि चुनाव प्रचार के दौरान कुछ हद तक भड़काऊ बातें, जो कि भाजपा की तरफ़ से कही गईं, अगर दूसरा मौका मिले तो भाजपा उन्हें दोहराना चाहेगी? इसके जवाब में अमित शाह ने कहा कि कई ऐसी बातें कहीं गईं जिनसे वो इत्तेफ़ाक नहीं रखते हैं और उन्हें नहीं कहा जाना चाहिए था. इसमें मुख्यतः अनुराग ठाकुर के ‘देश के गद्दारों को…’ और कपिल मिश्रा के ‘इंडिया-पाकिस्तान’ वाले ट्वीट का ज़िक्र हुआ. इसके साथ ही एक और बयान था जिसका जवाब देते हुए अमित शाह ने जो कहा वो सच नहीं था.

क्या कहा अमित शाह ने?

नविका कुमार ने अपने सवाल के एक हिस्से में अमित शाह के सामने बिना नाम लिए भारतीय जनता पार्टी के एमपी प्रवेश वर्मा के बयान का ज़िक्र किया. नविका ने पार्टी के ‘कुछ बयानों’ का ज़िक्र किया जिसमें से एक था – “शाहीन बाग़ में जो प्रोटेस्टर्स बैठे हैं वो लोगों के घर में घुस के बहू बेटियों का बलात्कार कर देंगे… इस तरह के वाक्यों…” इससे पहले कि नविका अपना वाक्य ख़तम कर पातीं, अमित शाह ने उन्हें रोका और कहा, “ऐसा बयान नहीं दिया किसी ने… बहू-बेटियों का बलात्कार करेंगे… मगर बाकी सब जो आपने कहा, वो भी बयान नहीं देने चाहिए थे…” (इस पूरी बात को नीचे टाइम्स नाउ के ऑफिशियल हैंडल से किये गए ट्वीट में 2 मिनट 58 सेकंड पर देखा जा सकता है.)

ऑल्ट न्यूज़ का फ़ैक्ट चेक

अमित शाह के इस बयान का फैक्ट चेक काफ़ी आसान था. लेकिन बेहद ज़रूरी भी. चूंकि अमित शाह देश के गृह मंत्री हैं इसलिए उनका तथ्यों से करीब रहना बेहद ज़रूरी है. उनकी कही बात हर जगह फैलती है इसलिए ये भी ज़रूरी है कि जहां ग़लती हो, उसे बताया भी जाए. गूगल पर सिर्फ़ एक सर्च करने से साफ़ मालूम चलता है कि अमित शाह का ये कहना कि ‘शाहीन बाग़ के प्रोटेस्टर्स कल को घरों में घुस कर बहू-बेटियों का बलात्कार करेंगे’ जैसा कोई भी बयान नहीं दिया गया है, ग़लत है. उनकी ही पार्टी के एमपी प्रवेश वर्मा ने ये बयान दिया है और ANI ने इसे ट्वीट भी किया था.

ये ट्वीट 28 जनवरी का है और इसमें साफ़-साफ़ प्रवेश वर्मा को कहते हुए सुना जा सकता है – “दिल्ली की जनता जानती है जो आग आज से कुछ साल पहले कश्मीर में लगी थी, वहां पे जो कश्मीरी पंडित हैं उनकी बहन-बेटियों के साथ में रेप हुआ था, उसके बाद में वो आग यूपी में लगती रही, हैदराबाद में लगती रही, केरल में लगती रही, आज वो आग दिल्ली के एक कोने में लग गई है. वहां पे लाखों लोग इकट्ठे हो जाते हैं. और वो आग कभी भी दिल्ली के घरों तक पहुंच सकती है. हमारे घर में पहुंच सकती है, ये दिल्ली वालों को सोच-समझ के, फ़ैसला लेना पड़ेगा. ये लोग आपके घरों में घुसेंगे, आपकी बहन-बेटियों को उठाएंगे, उनको रेप करेंगे, उनको मारेंगे इसलिए आज समय है, कल मोदी जी नहीं आएंगे बचाने. कल अमित शाह जी नहीं आएंगे बचाने.”

इसलिए हमने पाया कि अमित शाह की ये बात – “ऐसा बयान नहीं दिया किसी ने… बहू-बेटियों का बलात्कार करेंगे…” ग़लत है और भाजपा सांसद प्रवेश वर्मा ने ये बयान दिल्ली चुनावों में दिया था.

योगदान करें!!
सत्ता को आइना दिखाने वाली पत्रकारिता जो कॉरपोरेट और राजनीति के नियंत्रण से मुक्त भी हो, वो तभी संभव है जब जनता भी हाथ बटाए. फेक न्यूज़ और गलत जानकारी के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद कीजिये. डोनेट करिये.

Donate Now

तत्काल दान करने के लिए, ऊपर "Donate Now" बटन पर क्लिक करें। बैंक ट्रांसफर / चेक / डीडी के माध्यम से दान के बारे में जानकारी के लिए, यहां क्लिक करें

Send this to a friend