राजनीति बयान

स्पष्टीकरण के बावजूद आर्मी चीफ बिपिन रावत का नकली बयान सोशल मीडिया पर फैलाया जा रहा

भारतीय सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत का एक नकली बयान फेसबुक पेज आई सपोर्ट डोवाल (I Support Doval), जिसके 17 लाख से अधिक फ़ॉलोअर्स हैं, के द्वारा शेयर किया गया। रावत की तस्वीर के साथ संदेश में कहा गया है, “आर्मी चीफ बिपिन रावत जी ने कहा अगर नेता बनना है तो 5 साल पहले देश की सेवा के लिए आर्मी में होना अनिवार्य कर दिया जाए! यकीन मानिए देश का 80% कचरा अपने आप ही साफ़ हो जायेगा. इनके बातो से कितने लोग सहमत है जो सहमत हैं शेयर करे”। लेख लिखते समय तक इसे 3100 से अधिक बार शेयर और 6000 से अधिक ‘लाइक’ किया गया है।

Posted by I Support Doval on Sunday, September 16, 2018

उपरोक्त तस्वीर पहले भी शेयर की गई थी, जिसके जवाब में, भारतीय सेना ने 11 सितंबर, 2018 को अपने सोशल मीडिया चैनलों के माध्यम से स्पष्ट कर दिया था कि जनरल बिपिन रावत का सोशल मीडिया पर फैलाया जा रहा दावा गलत है। यह स्पष्टीकरण भारतीय सेना के आधिकारिक फेसबुक पेज और ट्वीटर हैंडल से प्रकाशित किया गया था। यह कहा गया था कि कुछ असामाजिक तत्वों ने जनरल बिपिन रावत के नाम से झूठा बयान जारी किया था। इस स्पष्टीकरण के बावजूद, इसी नकली बयान को एक बार फिर 16 सितंबर, 2018 को सोशल मीडिया पर शेयर किया गया है।

Social Media per Sena Adhyaksh Gen Bipin Rawat dwara jaari kiya hua ek jhoontha bayan kuch asamajik tatvon ne failane ka…

Posted by ADGPI – Indian Army on Tuesday, September 11, 2018

यह बार-बार देखा गया है कि राजनीतिक प्रचार के तौर पर सार्वजनिक व्यक्तियों के नकली बयान नियमित रूप से फेसबुक पेजों द्वारा प्रसारित किए जाते हैं। यूजर्स को सलाह दी जाती है कि वे सोशल मीडिया पर आने वाले किसी कथन/दावे को लेकर चौकस रहें और उसे सत्यापित करें।

योगदान करें!!
सत्ता को आइना दिखाने वाली पत्रकारिता जो कॉरपोरेट और राजनीति के नियंत्रण से मुक्त भी हो, वो तभी संभव है जब जनता भी हाथ बटाए. फेक न्यूज़ और गलत जानकारी के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद कीजिये. डोनेट करिये.

तत्काल दान करने के लिए, ऊपर "Donate Now" बटन पर क्लिक करें। बैंक ट्रांसफर / चेक / डीडी के माध्यम से दान के बारे में जानकारी के लिए, यहां क्लिक करें

Send this to a friend