सोशल मीडिया पर अजीबो-गरीब दिखने वाले एक जानवर की कुछ तस्वीरें काफ़ी शेयर हो रही हैं. यूज़र्स इसे शेयर करते हुए किसानों को सावधानी बरतने के लिए कह रहे हैं. दावा है कि ये जानवर असली है और काफ़ी खतरनाक भी है. मेसेज के मुताबिक, ये जानवर गुजरात से राजस्थान की ओर बढ़ रहा है. एक फ़ेसबुक यूज़र ने ये तस्वीरें शेयर करते हुए लिखा है, “सभी किसान भाइयों से निवेदन है कि अकेले खेत में ना जाएं और सुरक्षित रहें सावधान रहें यह बहुत ही खतरनाक जानवर आया है गुजरात से राजस्थान के लिए रवाना हो गया है.” (पोस्ट का आर्काइव लिंक)

फ़ेसबुक और ट्विटर पर ये तस्वीरें इसी दावे के साथ शेयर हुई हैं. कुछ वेबसाइट्स ने भी भारत में ऐसे अजीबो-गरीब जानवर देखे जाने का दावा इस तस्वीर के साथ शेयर किया है. वायरल ट्रैक, मिडल एरा इनमें कुछ नाम हैं.

This slideshow requires JavaScript.

29 अक्टूबर 2018 के न्यूज़18 के एक आर्टिकल में इस जानवर की तस्वीर जगितला ज़िले की बताकर पब्लिश हुई थी. रिपोर्ट में इस बारे में अटकलें लगाई गयी है कि ये तस्वीर असली हो भी सकती है और नहीं भी.

ऑल्ट न्यूज़ के ऑफ़िशियल मोबाईल ऐप पर इन तस्वीरों के वेरिफ़िकेशन के लिए कुछ रीक्वेस्ट मिली हैं.

This slideshow requires JavaScript.

फ़ैक्ट-चेक

रिवर्स इमेज सर्च करने पर 13 जुलाई 2020 के एक ब्लॉगपोस्ट में ये तस्वीरें शेयर की हुई मिलीं. ब्लॉगपोस्ट के मुताबिक, ये तस्वीरें सिलिकॉन आर्टवर्क की है. ब्लॉगपोस्ट में बताया गया है कि ये सिलिकॉन आर्टवर्क लाइरा मगानुको ने बनाया है. लाइरा मगानुको के फ़ेसबुक पेज पर 3 अक्टूबर 2018 को वायरल हो रही तस्वीरों के साथ कुछ वीडियोज़ भी पोस्ट की हुई मिलीं. तस्वीरें शेयर करते हुए लाइरा मगानुको बताती हैं ये अर्मेडिलो नामक जानवर के हाइब्रिड वर्ज़न के सिलिकॉन आर्टवर्क की तस्वीरें हैं. लाइरा मगनुको के इंस्टाग्राम पेज पर भी ऐसे कई सिलिकॉन आर्टवर्क की तस्वीरें शेयर की गई हैं.

single piece silicone armadillo hybrid.

Posted by Laira Maganuco on Tuesday, 2 October 2018

इसके अलावा, अमेरिकन आर्टवर्क वेबसाइट इट्सी (etsy.com) पर लाइरा मगानुको की प्रोफ़ाइल मिली. यहां मिली जानकारी के अनुसार ये इटली के पावीया शहर की रहनेवाली है. और वो इस तरह के सिलिकॉन आर्टवर्क बनाकर बेचती हैं.

वायरल तस्वीर में दिखने वाले अर्मेडिलो आर्टवर्क की कीमत 7,953.74 अमेरिकन डॉलर है. इट्सी पर इस आर्टवर्क के बारे में बताया गया है कि ये एसिटिक सिलिकॉन पेस्ट से बनाया गया है.

इस तरह, आर्टवर्क की तस्वीरें असली बताकर सोशल मीडिया पर शेयर की गई हैं. इन तस्वीरों के साथ शेयर हो रहे मेसेज से लोगों के मन में डर पैदा करने की कोशिश की गई है. इसके असली जानवर होने का गलत दावा किया जा रहा है. सोशल मीडिया पर पहले भी कलाकृतियों की तस्वीरें असली बताते हुए कई मनगढ़ंत कहानियों के साथ शेयर किये गए हैं.

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

Donate Now

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.