JNU हिंसा के दौरान दिखी नक़ाबपोश महिला के तस्वीर की पड़ताल

5 जनवरी की शाम को, दिल्ली के जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में लाठिया और रॉड लिए कुछ लोग घुस आये थे। इस भीड़ में ज़्यादातर लोगों ने अपने चेहरे को कपड़े से ढका हुआ था। उन्होंने उग्र होकर, हॉस्टल के कमरों की तोड़फोड़ और परिसर में मौजूद छात्रों को मारना शुरू कर दिया। इस घटना के तुरंत बाद, सोशल मीडिया में इस घटना की तस्वीरें और वीडियो वायरल होने लगी। नीचे दिए गए वीडियो में, कुछ नक़ाबपोश लोगों को हॉस्टल में घूमते हुए देखा जा सकता है।

इन व्यक्तियों में से एक का नाम कोमल शर्मा है, जो दिल्ली RSS से जुड़े ABVP की सदस्य है। एक फेसबुक उपयोगकर्ताओं ने दावा किया कि, “जेएनयू के गर्ल्स हॉस्टल में तोड़फोड़ करने वाली लड़की का जो वीडियो मिला है, वह कोमल शर्मा है। वह दिल्ली के एबीवीपी की सदस्य है।” (अनुवाद)

The girl who is found on multiple videos vandalising JNU Girls Hostel is Komal Sharma. She is from Delhi University ABVP…

Posted by Reetam Singh on Sunday, January 5, 2020

स्कूल के सीनियर ने किया भांडाफोड़

ट्विटर उपयोगकर्ता अनुजा ठाकुर ने इंस्टाग्राम पर एक व्यक्ति के साथ हुई बातचीत की रिकॉर्डिंग साझा की, जिसमें उनका नाम ‘komal❤sharma😎 ABVP ❤️’ दिखाई देता है। उनका यूज़र नेम है ’26_saravashisth’। ठाकुर ने दावा किया कि शर्मा के साथ हुई बातचीत में, उस महिला को हिंसा करने वाली भीड़ का हिस्सा बताया। स्क्रीनरिकॉर्डिंग में एक ऑडियो क्लिप को सुना जा सकता है, जिसमें शर्मा ने इस बात की पुष्टि की कि वह हिंसा के दौरान परिसर में मौजूद थी। ऑल्ट न्यूज़ कथित इंस्टाग्राम अकाउंट तक नहीं पहुंच पाया था, क्योंकि इस अकाउंट को अब डिलीट कर दिया गया है।

 

View this post on Instagram

 

Komal Sharma Student Activist from ABVP was my junior in college as well as in school. Last night I messaged her just to confirm the fact if she was there at JNU campus or not but I asked her indirectly starting from that ‘I saw you today at Munirka’ and ‘if she was wearing red white checkered shirt’ and her admission to all my questions (which were my urges to confirm her presence there at the campus) with the following audio in which she says ‘Didi, please kisiko matt batana’ is the legal evidence that she is the same person as in the pictures that were leaked yesterday confirming the fact that she was the girl with the iron stick in the “unidentified mobs”. I screen recorded her audio and chat as her Instagram account is no longer found. Share this as much as you can. #goonsofabvp @reallyswara @umar_khalid87 @youthkiawaaz @kanhaiyakumar @ravishndtv @peeinghuman @unbhakt @akashbanerjee.in @mallikadua @anuragkashyap10 @vidushak

A post shared by Anuja Thakur (@anujathakur30) on Jan 6, 2020 at 2:38am PST

उनकी विस्तृत पोस्ट में, ठाकुर ने लिखा है – “ABVP की कार्यकर्ता कोमल शर्मा स्कूल और कॉलेज में भी मेरी जूनियर रही है। कल रात मैंने सिर्फ इस बात की पुष्टि करने के लिए कि वह जेएनयू कैंपस में हिंसा के वक़्त थी या नहीं, मैंने उनसे परोक्ष रूप से पूछा कि ‘मैंने उन्हें मुनरिका में देखा है’ और ‘क्या उसने लाल और सफ़ेद रंग के चेक्स वाला शर्ट पहना था या नहीं’ और उन्होंने मेरे सवालों का जवाब उपरोक्त ऑडियो के अनुसार दिया कि ‘दीदी किसी को मत बताना’ यह एक क़ानूनी सबूत है कि कल वायरल हुई तस्वीर में वही मौजूद थी और यह इस बात का सबूत है कि “अज्ञात भीड़” में लौहे के रॉड लिए खड़ी लड़की वही है। मैंने उनके ऑडियो को रिकॉर्ड किया और चैट के स्क्रीनशॉट लिया क्योंकि अब उसका इंस्टाग्राम अकाउंट उपलब्ध नहीं है।”

बातचीत का ऑडियो नीचे सुना जा सकता है।

ऑल्ट न्यूज़ से बातचीत के दौरान, ठाकुर ने यह दोहराया कि उन्होंने इंस्टाग्राम अकाउंट के ज़रिए शर्मा से बात की थी।

अनुजा ठाकुर के भाई अपूर्व ठाकुर ने भी, इस समान तस्वीरों को फेसबुक पर पोस्ट किया है। उनकी पोस्ट में, उन्होंने एक अतिरिक्त स्क्रीनशॉट शेयर किया था, जिसमें शर्मा को ठाकुर ने एक सवाल पूछा था कि वह क्यों सोशल मीडिया में वायरल हो रही है। उसके जवाब में शर्मा ने, उसके नाम से वायरल हो रही कथित तस्वीरें भेजी थी।

’26_saravashisth’ की पहचान ट्रेक करना

ऑल्ट न्यूज़ स्वतंत्र रूप से इस बात की जांच कर पाया कि वीडियो रिकॉर्डिंग में दिख रहा इंस्टाग्राम अकाउंट ABVP कार्यकर्ता कोमल शर्मा का है। मगर अकाउंट ‘@26_Saravashisth’ को या तो निष्क्रिय या फिर डिलीट कर दिया गया है। हालांकि, हम उनके प्रोफाइल के आर्काइव संस्करण को ढूंढ पाए है। नीचे, हमने वीडियो रिकॉर्डिंग में दिखाई दे रहे इंस्टाग्राम अकाउंट के स्क्रीनशॉट और आर्काइव किये गए इंस्टाग्राम अकाउंट के स्क्रीनशॉट की तुलना की है।

शर्मा के फेसबुक अकाउंट का नाम ‘कोमल शर्मा एबीवीपी’ है, वह भी इस समय निष्क्रिय है। हालांकि उनकी पुरानी फेसबुक प्रोफाइल और न के बराबर सक्रीय ट्विटर अकाउंट भी, (सारा वशिष्ठ) उनके इंस्टाग्राम अकाउंट से मेल खाते हैं। इस प्रकार यह अकाउंट उनकी पहचान की पुष्टि करता है। दोनों अकाउंट कम-से-कम एक साल से मौजूद है और प्रोफाइल में उनकी तस्वीर भी साझा की गई है। उनकी फेसबुक प्रोफाइल के अनुसार, प्रोफाइल के रूप में साझा की गई तस्वीर जुलाई 2017 की है।

हमने शर्मा के दो अन्य अकाउंट का पता भी लगाया – फेसबुक, ट्विटर – जिसमें उनका नाम सारा वशिष्ट है।

कोमल शर्मा ने एबीवीपी के भरत शर्मा के समर्थन में भी ट्वीट किये हैं, जो कि कैमरा के सामने एक व्यक्ति को लात मारते हुए देखे गए थे। यह ट्वीट 18 दिसंबर, 2019 को साझा की गई थी –“मैं आपका समर्थन करती हूं। सही किया। आप सही हो भाई। मुझे आप पर गर्व है। मुझे उस दिन लेफ्ट के गुंडों से बचाने के लिए।” (अनुवाद)

इन सभी सबूतों के आधार पर ऑल्ट न्यूज़ इस बात कि पुष्टि कर पाने में सफल हुआ है कि जेएनयू में नक़ाबपोश लोगों के समूह में एबीवीपी की कार्यकर्ता कोमल शर्मा शामिल थी।

योगदान करें!!
सत्ता को आइना दिखाने वाली पत्रकारिता जो कॉरपोरेट और राजनीति के नियंत्रण से मुक्त भी हो, वो तभी संभव है जब जनता भी हाथ बटाए. फेक न्यूज़ और गलत जानकारी के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद कीजिये. डोनेट करिये.

Donate Now

तत्काल दान करने के लिए, ऊपर "Donate Now" बटन पर क्लिक करें। बैंक ट्रांसफर / चेक / डीडी के माध्यम से दान के बारे में जानकारी के लिए, यहां क्लिक करें

Send this to a friend