सोशल मीडिया में एक तस्वीर खूब वायरल हो रही है. इसमें एक मैदान दिख रहा है जो कि लोगों से भरा हुआ है. तमाम झंडे भी दिखाई दे रहे हैं. इन्ही झंडों के बीच भारत का राष्ट्रीय झंडा भी दिखाई देता है. इसके साथ कैप्शन है, “70 सालो तक हमे पाकिस्तान का झंडा लहरा कर चिढ़ाया जाता था । कल करांची की रैली में हिंदुस्तान के झंडे लहराये गए ।” इसी कैप्शन के साथ बहुत सारे सोशल मीडिया यूज़र्स ने ये तस्वीर शेयर की है.

ट्विटर यूज़र और अपने ट्विटर बायो के अनुसार एक आरएसएस समर्थक ज्योति द्विवेदी ने ये तस्वीर पोस्ट करते हुए यही दावा किया और लिखा, “#Arrest_Deepika_Rajawat”. बता दें कि कठुआ रेप केस में पीड़िता की तरफ़ से लड़ने वाली वकील दीपिका राजावत ने सोमवार को एक कार्टून पोस्ट किया था जिसके बाद कई लोगों ने इसपर आपत्ति जताई. कार्टून के ज़रिये उन्होंने कहा था कि नवरात्र में 9 दिन स्त्री की पूजा करते हैं और बाक़ी दिन उसका शोषण. ये हैशटैग इस तस्वीर के साथ और भी कई लोगों ने डाला था. ये आर्टिकल लिखे जाने तक इस पोस्ट को 600 से ज़्यादा लोग शेयर कर चुके हैं. (आर्काइव लिंक)

ट्विटर हैंडल गुड गवर्नेंस, जिसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी फॉलो करते हैं, ने ये तस्वीर पोस्ट करते हुए लिखा, “#करांची में पाक आर्मी के खिलाफ तिरंगा लहराया गया. (Tricolour being waved in protests against Pak Army in #Karachi).” (आर्काइव लिंक)

ट्विटर यूज़र्स @Shubhamrajbjym (आर्काइव लिंक), @Real18ashutosh (आर्काइव लिंक), @Ani_Chakravarty (आर्काइव लिंक), @Zoya_nafidi (आर्काइव लिंक) और @dixit_purva (आर्काइव लिंक) ने भी ये तस्वीर शेयर की और सभी पोस्ट्स को कुल मिलाकर करीब 1000 बार रीट्वीट किया गया. इनके आलावा दर्जनों और लोगों ने भी इसी दावे के साथ ये तस्वीर ट्वीट की.

This slideshow requires JavaScript.

इसी तरह, फे़सबुक पर भी ये तस्वीर बहुत तेज़ी से वायरल हो रही है. फे़सबुक यूज़र विद्यार्थी शिवम के पोस्ट को 2,000 से ज़्यादा लोग शेयर कर चुके हैं. (आर्काइव लिंक)

भारत माता की जय ❤️🔥

Posted by Vidyarthi Shivam on Tuesday, October 20, 2020

एक अन्य फे़सबुक यूज़र अवध बिहारी वर्मा ने ये तस्वीर फे़सबुक ग्रुप ‘सुधीर चौधरी’ में पोस्ट की जिसे 450 से ज़्यादा लोगों ने शेयर किया. और भी बहुत सारे लोगों ने वायरल कैप्शन के साथ फे़सबुक पर इसे शेयर किया.

ऑल्ट न्यूज़ को इसके फै़क्ट चेक के लिए व्हाट्सऐप नंबर (+917600011160) पर भी रिक्वेस्ट भेजी गयी.

एडिटेड तस्वीर

ऑल्ट न्यूज़ ने जब इस तस्वीर का रिवर्स इमेज सर्च किया तो हमें पाकिस्तान के राजनीतिक दल जमीयत उलेमा-ए-इस्लाम पाकिस्तान का एक फ़ेसबुक पोस्ट मिला जो हुबहू यही तस्वीर है. लेकिन इसमें भारतीय राष्ट्रीय ध्वज नहीं दिखता है.

پاکستان ڈیموکریٹک موومنٹ کراچی کے جلسہ عام کے مناظر ۔

‎#MaulanaLeadsPDMInKhi

Posted by Jamiat Ulama-e-Islam Pakistan on Sunday, October 18, 2020

इससे हिंट लेते हुए जब हमने की-वर्ड, ‘PDM karachi rally’ सर्च किया तो हमें पाकिस्तानी न्यूज़ आउटलेट पाकिस्तान टुडे की 19 अक्टूबर, 2020 की एक रिपोर्ट मिली. इस रिपोर्ट के साथ पब्लिश की गयी तस्वीर वायरल तस्वीर से एकदम मिलती है. रिपोर्ट के मुताबिक, पाकिस्तान में 11 पार्टियों के गठबंधन, पाकिस्तान डेमोक्रेटिक मूवमेंट (PDM) ने सरकार के विरोध में एकजुटता का प्रदर्शन करने के लिए ये रैली निकाली थी.

एक अन्य पाकिस्तानी आउटलेट डेली टाइम्स ने भी अपनी रिपोर्ट में यही तस्वीर पब्लिश की है.

नीचे, दोनों तस्वीरों में देखा जा सकता है कि वायरल इमेज को मॉर्फ़ किया गया है.

हालांकि तस्वीर को गौर से देखने पर पता चलता है कि इसमें कई झंडे भारतीय तिरंगे से मिलते-जुलते हैं. लेकिन ये झंडा पाकिस्तानी पार्टी पख़्तूनख़्वा मिली आवामी पार्टी (PMAP) का झंडा है. इसे पार्टी के फे़सबुक पेज पर भी देखा जा सकता है.

यानी, कराची की तस्वीर शेयर करते हुए भारतीय सोशल मीडिया यूज़र्स वहां की रैली में भारतीय झंडा लहराये जाने का दावा कर रहे हैं. लेकिन ये दावा बिलकुल ग़लत है. ये तस्वीर मॉर्फ़ की हुई है.

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

Donate Now

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.
Tagged:
About the Author

A journalist and a dilettante person who always strives to learn new skills and meeting new people. Either sketching or working.