मानसिक रूप से बीमार व्यक्ति का वीडियो, बच्चा चोरी के झूठे आरोप से साझा

“सिकराय गनीपुर रोड़ पंचमुखी मंदिर के पास पकड़ा गया एक ओर गिरोह का सदस्य आदमीयो को देख कर खेत मे भाग गया मोके पे पुलिस बुला कर पकड़ाया– इस संदेश को फेसबुक पेज दौसा टाइम्स द्वारा 7 अगस्त, 2019 को एक वीडियो के साथ साझा किया गया था। वीडियो में कुछ लोग एक व्यक्ति को धक्का मार रहे हैं, जिनका हाथ रस्सी से बंधा हुआ है। वीडियो में भीड़ में से एक व्यक्ति को संदिग्ध की तरफ इशारा करते हुए यह पूछते हुए सुना जा सकता है,“अब तक आपने कितने बच्चों को पकड़ा है?”

वीडियो के साथ साझा किए गए संदेश में बताया गया है कि राजस्थान के दौसा जिले के सिकराय शहर में बच्चे को अगवा करने वाले गिरोह के एक सदस्य को पुलिस ने गिरफ्तार किया था। फेसबुक पेज – JK Meena Saray – ने अलग एंगल से लिया गया एक वीडियो समान संदेश के साथ साझा किया है। भीड़ के लोग कथित रूप से उस व्यक्ति को सवाल पूछते हुए दिखते है, लेकिन वह व्यक्ति कभी भी कुछ भी बोलना शुरू कर देता है और कई बार उसके जवाब सवाल से असंबधित भी मालूम होते है।

मानसिक रूप से बीमार व्यक्ति को लोगों ने बच्चा चोर समझकर पीटा

एक समान्य सर्च से राजस्थान के दौसा जिले से जुड़े समाचार की तलाश करने पर हमें कुछ खास खबर नहीं मिला। इस मामले को लेकर ऑल्ट न्यूज़ ने मानपुर पुलिस स्टेशन से संपर्क किया। हमने SHO सुरेंद्र कुमार बकोलिया को यह वीडियो भेजा। उन्होंने इस वीडियो को देख कर हमें बताया कि यह व्यक्ति मानसिक रूप से बीमार था। उन्होंने कहा,“यह घटना 7 अगस्त को हुई थी। वह मानसिक रूप से बीमार व्यक्ति है,जो लोगों के सवालों की प्रतिक्रिया के रूप में कुछ भी बोल रहा है। उन्हें मेडिकल जांच के लिए भेजा गया था और उन्हें ज़्यादा चोट नहीं आयी थी। बाद में इस व्यक्ति को भरतपुर स्थित एक NGO में भेजा गया, जो मानसिक रूप से बीमार लोगों की देखभाल करता है।”

ऑल्ट न्यूज़ ने राजस्थान के भरतपुर जिले में स्थित NGO ‘अपना घर’,  से संपर्क किया, जो बेघर और मानसिक रूप से विकलांग लोगों की देखभाल करता है। संगठन के एक सदस्य ने कहा,“हाँ, मानपुर, दौसा से एक आदमी हमारे पास आया है। वह मानसिक रूप से बीमार है। उन्होंने कहा कि उनका नाम जयचंद है इसके अलावा उन्होंने और कुछ नहीं बताया है”

निष्कर्ष के तौर पर, वीडियो में मानसिक रूप से बीमार व्यक्ति पर बच्चा चोरी का झूठा आरोप लगाया गया। इस तरह राजस्थान के दौसा जिले में भीड़ द्वारा बंधक बनाकर प्रताड़ित करने का वीडियो कुछ फेसबुक पेजों पर बच्चा चोरी की अफवाहों के साथ प्रसारित की गई। इससे पहले, राजस्थान के श्री गंगा नगर जिले में एक मानसिक रूप से बीमार महिला का वीडियो साझा किया गया था, जिसमें महिला पर बच्चे को अगवा करने के संदेह में लोगों ने उसे बंदी बना लिया था।

योगदान करें!!
सत्ता को आइना दिखाने वाली पत्रकारिता जो कॉरपोरेट और राजनीति के नियंत्रण से मुक्त भी हो, वो तभी संभव है जब जनता भी हाथ बटाए. फेक न्यूज़ और गलत जानकारी के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद कीजिये. डोनेट करिये.

Donate Now

तत्काल दान करने के लिए, ऊपर "Donate Now" बटन पर क्लिक करें। बैंक ट्रांसफर / चेक / डीडी के माध्यम से दान के बारे में जानकारी के लिए, यहां क्लिक करें

Send this to a friend