सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर किया जा रहा है. कहा जा रहा है कि ये वाराणसी के काशी विश्वनाथ मंदिर का है. सोशल मीडिया यूज़र्स दावा कर रहे हैं कि ये दृश्य मंदिर के नवीनीकरण (renovation) के बाद के हैं.

वीडियो में एक भव्य मंदिर में कई हिन्दू देवी-देवताओं की मूर्तियां और शानदार नक्काशी वाली छत दिखती है. फ़ेसबुक पेज ‘World Of Divine’ ने ये वीडियो पोस्ट करते हुए इसे वाराणसी का काशी विश्वनाथ मंदिर बताया. आर्टिकल लिखे जाने तक इस वीडियो को 11 हज़ार बार देखा जा चुका है. (पोस्ट का आर्काइव लिंक)

 

Newly Renovated Kasi Viswanath Temple, Varanasi.

Posted by World Of Divine on Monday, 14 June 2021

फ़ेसबुक पर ये वीडियो वायरल है.

यूट्यूब पर भी ये वीडियो काशी विश्वनाथ मंदिर का बताते हुए अपलोड किया गया है.

फ़ैक्ट-चेक

हमने वीडियो के फ़्रेम्स का रिवर्स इमेज सर्च किया. इसपर हमें एक वीडियो मिला जो यूट्यूब पर 21 अगस्त 2020 को अपलोड किया गया था. वीडियो में इस मंदिर को वाराणसी में दुर्गाकुंड का मणि मंदिर बताया गया. यही वीडियो श्री मणि मंदिर की वेबसाइट पर भी मिलता है.

फ़ेसबुक पर भी कई यूज़र्स ने ये वीडियो मणि मंदिर का बताया है.

आगे, वीडियो की असलियत जानने के लिए हमने गूगल मैप पर मौजूद मणि मंदिर की तस्वीरें देखीं. मैप पर मौजूद मणि मंदिर की तस्वीरों और वायरल वीडियो में कई समानताएं दिखी जिन्हें नीचे की तुलना में साफ़ देखा जा सकता है.

This slideshow requires JavaScript.

बता दें कि वाराणसी के काशी विश्वनाथ मंदिर के विस्तार और सौंदर्यीकरण का काम चल रहा है. इस प्रोजेक्ट को काशी-विश्वनाथ कॉरीडोर परियोजना नाम दिया गया है. काशी विश्वनाथ कॉरिडोर प्रोजेक्ट में कोरोना वायरस की दूसरी लहर के कारण देरी होने की ख़बर भी है. ये प्रोजेक्ट इस साल अगस्त तक पूरा होने वाला था लेकिन अब नवंबर तक इसके पूरा होने का अनुमान लगाया जा रहा है.

काशी-विश्वनाथ कॉरीडोर परियोजना के अंतरगर्त मंदिर के परिसर या गर्भगृह में किसी तरह का कोई बदलाव किया जाएगा या नहीं?, इस बारे में हमने श्री काशी विश्वनाथ मंदिर ट्रस्ट के CEO सुनील वर्मा से बात की. उन्होंने बताया, “सोशल मीडिया का दावा पुरी तरह से गलत है. परियोजना के भगरूप मंदिर या उसके गर्भगृह में किसी भी तरह के कोई बदलाव नहीं किये जाएंगे. किसी भी प्राचीन मंदिर के गर्भगृह में बदलाव नहीं किये जाते हैं.”

कुल मिलाकर, वाराणसी के मणि मंदिर का वीडियो काशी विश्वनाथ मंदिर के नवीनीकरण के बाद का बताकर शेयर किया गया.


पश्चिम बंगाल में सब-इन्स्पेक्टर के पद पर ज़्यादातर मुसलमान उम्मीदवारों का हुआ चयन?

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

Donate Now

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.
Tagged: