एक वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर करते हुए ये दावा किया जा रहा है कि ये कुकटपल्ली, हैदराबाद का वीडियो है. जहां DAV पब्लिक स्कूल की प्रिंसिपल बच्चों के पेरेंट्स से इस तरह सलूक कर रही हैं.

फ़ेसबुक पर भी इसी दावे से ये वीडियो शेयर हो रहा है.

DAV Public School Hyderabad – Facebook Search

ऑल्ट न्यूज़ के ऑफ़िशियल ऐप पर भी इस वीडियो की पड़ताल की रिक्वेस्ट मिली हैं.

priyanka (2)

पटना के एक स्कूल का वीडियो

ये वीडियो कुछ दिन पहले ही वायरल हुआ था. मामला है पटना के बिशप स्कॉट गर्ल्स स्कूल का जहां बच्चे के परिजन का कहना है कि जब स्कूल खुला नहीं और बच्चे स्कूल नहीं गए तो ट्रांसपोर्टेशन फ़ीस अनावश्यक क्यों वसूली जा रही है. 20 जून, 2020 को एक फ़ेसबुक यूज़र ने इस घटना के कुछ और वीडियो शेयर किये हैं, जिसे लाखों बार देखा गया है. उन्होंने इसे पटना के बिशप स्कॉट गर्ल्स स्कूल का वीडियो बताया है और महिला को स्कूल की डायरेक्टर बताया है.

This video belongs to BISHOP SCOTT GIRLS SCHOOL PATNA .This lady is director of school

Posted by Dharmendra Kumar on Saturday, 20 June 2020

न्यूज़18 की 23 जून की रिपोर्ट में बताया गया है, “बिशप स्कॉट गर्ल्स स्कूल की संचालिका द्वारा एक महिला अभिभावक के साथ स्कूल फी को लेकर न केवल बदतमीजी की गई थी बल्कि मोबाइल छीनने का भी प्रयास किया गया था. इस मामले में विभाग ने कड़ा रुख अख्तियार करते हुए स्कूल प्रबंधन के खिलाफ जांच के आदेश दिये हैं.”

रिपोर्ट में ये भी लिखा है, “प्राथमिक शिक्षा निदेशक रणजीत कुमार सिंह ने पटना के बिशप स्कॉर्ट गर्ल्स स्कूल के खिलाफ जांच का आदेश दे दिया है और पूरे मामले में दो सदस्यीय जांच टीम गठित कर दी गयी है. निदेशक ने साफ कहा कि लॉकडाउन के दौरान सरकार ने आदेश दिया था कि किसी तरह का ट्रांसपोर्टेशन चार्ज नहीं लगेगा और यहां तक कि फीस के लिए भी स्कूल दवाब नहीं बनाएगा. सरकारी आदेश अल्पसंख्यक स्कूलों को छोड़कर बाकि सभी स्कूलों पर लागू है, ऐसे में विभाग ने पूरे मामले को गंभीरता से लेते हुए आरडीडीई सुरेंद्र सिन्हा और डीईओ ज्योति कुमार पटना को पूरे मामले पर जांच का आदेश दिया है”

इस तरह पटना के एक स्कूल की घटना को हैदराबाद के स्कूल से जोड़कर शेयर किया जा रहा है.

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

Donate Now

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.
About the Author

Priyanka Jha specialises in monitoring and researching mis/disinformation at Alt News. She also manages the Alt News Hindi portal.