सोशल मीडिया पर 2 तस्वीरें वायरल हैं. पहली तस्वीर में एक व्यक्ति अस्पताल के बेड पर लेटा है और उसके आस-पास कुछ मशीनें दिख रही है. वहीं दूसरी तस्वीर न्यूज़18 वायरल्स के एक वीडियो की फ़ीचर इमेज है. इसके अलावा, इस तस्वीर में एक व्यक्ति कुछ खाते हुए दिख रहा है और साथ में लिखा है – “एक चम्मच गोबर खाने से तनमन हो जाता है पवित्र”. ये दोनों तस्वीरें शेयर करते हुए कहा जा रहा है कि गोबर खाने वाले इस डॉक्टर को इन्फ़ेक्शन हो गया और वो फ़िलहाल अस्पताल में भर्ती है.

ट्विटर यूज़र ‘Doctor Gulati L L B’ ने ये तस्वीरें इसी दावे के साथ ट्वीट की. (ट्वीट का आर्काइव लिंक)

ट्विटर यूज़र मोहम्मद हुसैन ने भी ये तस्वीरें इसी दावे के साथ ट्वीट की. कहा गया कि ये डॉक्टर करनाल से है. आर्टिकल लिखे जाने तक इस ट्वीट को 300 से ज़्यादा बार रीट्वीट किया जा चुका है. (ट्वीट का आर्काइव लिंक)

कुछ और ट्विटर यूज़र्स ने भी ये तस्वीरें ट्वीट की हैं.

This slideshow requires JavaScript.

फ़ेसबुक पर भी ये तस्वीरें इसी दावे के साथ वायरल हैं.

फ़ैक्ट-चेक

हमने अस्पताल में लेटे मरीज़ की तस्वीर का गूगल रिवर्स इमेज सर्च किया. और हमें ‘गो फ़ड मी’ वेबसाइट का लिंक मिला. वेबसाइट के मुताबिक, तस्वीर में दिख रहा शख्स 29 वर्षीय बिधन थापा है. ये व्यक्ति अमेरिका में रहता था. जहां तबीयत खराब होने पर उसे 7 जुलाई 2017 को अस्पताल में भर्ती करवाया गया था. आगे, लिखा है कि बिधन की 10 जुलाई 2017 को मृत्यु हो गई थी. और ये पोस्ट बिधन के शव को उसके देश नेपाल ले जाने के लिए किया गया था.ताकि पैसे जुटाए जा सकें.

अब बात करते हैं दूसरी तस्वीर की. की-वर्ड्स सर्च करने पर ऑल्ट न्यूज़ को न्यूज़18 वायरल्स का 17 नवंबर 2021 का एक वीडियो मिला. वीडियो में दिख रहे शख्स की पहचान हरियाणा के डॉ. मनोज मित्तल के रूप में की गई है जो अच्छी सेहत ले लिए गाय का गोबर खाने की बात कह रहे हैं.

ऑल्ट न्यूज़ ने उनसे संपर्क करने की कोशिश की. लेकिन हमारी बात डॉ. मनोज से नहीं हो पाई. हालांकि, उनके रिसेप्सनिस्ट ने हमें इस बात की पुष्टि की कि डॉ. मनोज बिल्कुल स्वस्थ हैं. और फ़िलहाल अस्पताल में मरीज़ों को देख रहे हैं.

यहां, पर ये बात तो साफ़ हो जाती है कि अस्पताल में लेटे शख्स की तस्वीर कम से कम 4 साल पुरानी है. और इसका डॉ. मनोज मित्तल से कोई लेना-देना नहीं है.

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.