तथ्य जांच: क्या राहुल गांधी के जन्म के वक्त मौजूद नर्स की उम्र 13 वर्ष थी?

@MuralikrishnaE1 ट्विटर हैंडल द्वारा किया गया दावा सोशल मीडिया में काफी चर्चित हो रहा है। उन्होंने अपनी ट्वीट में दावा किया है कि नर्स राजम्मा वावथिल, जो राहुल गांधी के जन्म के वक़्त वहां पर मौजूद थी, उनकी उम्र उस वक़्त 13 साल थी। उनके इस दावे के मुताबिक, राजम्मा की हालिया उम्र 62 वर्ष है जबकि राहुल की उम्र 49 वर्ष है। उपयोगकर्ता ने राहुल गांधी का मज़ाक उड़ाते हुए यह ट्वीट किया है,“यहां भी साला स्कैम”। इस ट्विटर हैंडल ने ANI के एक ट्वीट को कोट ट्वीट किया है। ANI का ट्वीट में राहुल गांधी की अपने नए निर्वाचन क्षेत्र में 3 दिवसीय यात्रा के दौरान राजम्मा वावथिल के साथ हुई भेंट के बारे में है।

मुरलीकृष्ण को ट्विटर पर पियूष गोयल के ऑफिस द्वारा भी फॉलो किया जाता है। इस लेख को लिखते समय ही इस ट्वीट को 12,100 बार लाइक किया गया है और 6,700 बार रीट्वीट भी किया गया है।

इसी ट्वीट के स्क्रीनशॉट को कई व्यक्तिगत उपयोगकर्ता ने फेसबुक पर भी साझा किया है।

तथ्य जांच

कुछ ख़बरों के मुताबिक, ऑल्ट न्यूज़ ने पाया कि राजम्मा की उम्र को लेकर किया गया यह दावा गलत है। इंडिया टुडे द्वारा प्रकाशित लेख के अनुसार, राजम्मा “72 वर्षीय” सेवा निवृत नर्स है। द हिन्दू, द क्विंट, रिपब्लिक टीवी औरद एशियन एज ने भी प्रकाशित रिपोर्ट में राजम्मा की उम्र 72 वर्ष बताई है।

इसके अलावा, द आउटलुक द्वारा प्रकाशित किए गए एक विस्तृत लेख के मुताबिक राजम्मा वावथिल, जो उस वक़्त होली फ़ैमिली अस्पताल में बतौर नर्स काम करती थीं। उनकी उम्र राहुल गांधी के जन्म के समय यानि 1970 में 23 वर्ष थी।

Source: Times Fact Check

ऑल्ट न्यूज़ ने उम्र की पुष्टि करने के लिए राजम्मा वावथिल से संपर्क किया। उन्होंने कहा, “मैं 23 साल की थी, जब राहुल गांधी का जन्म हुआ था। अभी मैं 72 साल की हूं। उनके जन्म के 48 साल हो चुके हैं। मेरे और राहुल गांधी के बीच संबंध यह है कि वह मेरे सामने पैदा हुए थे और मैं उन्हें बेटा कहती हूं। मेरी जन्म तिथि 1 जून, 1947 है। उनका जन्म 19 जून, 1970 को हुआ था। आप अब अंदाज़ा लगा लीजिए। मैं इस तरह अपमानित नहीं होना चाहती, मैं राजनीति में भी नहीं हूं।” इस तरह, यह दावा कि राहुल गांधी का जन्म के समय राजम्मा केवल 13 साल की थीं, तथ्यात्मक रूप से गलत साबित होता है।

योगदान करें!!
सत्ता को आइना दिखाने वाली पत्रकारिता जो कॉरपोरेट और राजनीति के नियंत्रण से मुक्त भी हो, वो तभी संभव है जब जनता भी हाथ बटाए. फेक न्यूज़ और गलत जानकारी के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद कीजिये. डोनेट करिये.

Donate Now

तत्काल दान करने के लिए, ऊपर "Donate Now" बटन पर क्लिक करें। बैंक ट्रांसफर / चेक / डीडी के माध्यम से दान के बारे में जानकारी के लिए, यहां क्लिक करें

Send this to a friend