नहीं, कपिल सिब्बल को कोर्ट के बाहर थप्पड़ नहीं मारा गया था, गलती से माइक टकराया था

“कल राम मंदिर के फैसले के बाद कपिल सिब्बल को कोर्ट के बाहर किसी ने लपड़ा दिया मतलब 1 थप्पड़ जड़ दिया. इस घटना की पुष्टि करती हुई ये विडियो ऐसी खुश खबरी आपको मीडिया नहीं बताएगी।” इस संदेश के साथ कांग्रेस नेता और वरिष्ठ अधिवक्ता कपिल सिब्बल का यह वीडियो कि कोर्ट के बाहर जब वे मीडिया से बात कर रहे थे तब उन्हें थप्पड़ मारा गया, फेसबुक और ट्वीटर पर खूब शेयर किया गया है।

यह वीडियो 9 से 17 सेकंड तक लंबा है, और सिब्बल को अपने चेहरे पर हाथ फेरते हुए दर्द से मुंह भिंचते देखा जा सकता है।

5 जनवरी की सुबह पोस्ट किए गए उपरोक्त ट्वीट के 800 से अधिक रीट्वीट हुए हैं। भाजपा समर्थक कई सोशल मीडिया यूजर्स ने उत्साहपूर्वक इस वीडियो को शेयर किया है।

 

कपिल सिब्बल को कोर्ट के बाहर किसी ने थप्पड़ जड़ दिया।

Posted by Shivraj Singh Chouhan Fans Clube on Saturday, 5 January 2019

उपरोक्त पोस्ट फेसबुक पेज शिवराज सिंह चौहान फैन्स क्लब का है। यहां, इसे अब तक 14000 बार देखा और 500 से अधिक बार शेयर किया गया है। इस वीडियो को एक अन्य फेसबुक पेज मिशन मोदी 2019 द्वारा भी शेयर किया गया है। वी सपोर्ट नरेंद्र मोदी ग्रुप में भी इसे पोस्ट किया गया है।

ऑल्ट न्यूज़ ने पाया कि इस दावे के साथ पहला ट्वीट सोशल मीडिया यूज़र ममता शर्मा ने किया था। फेसबुक पर यूजर मनीष शर्मा इसे सबसे पहले शेयर करने वालों में थे। कई पेजों, समूहों और सोशल मीडिया यूजर्स द्वारा इसे पोस्ट किए जाने से यह वीडियो सोशल मीडिया प्लेटफार्मों पर आग की तरह फैल गया है।

थप्पड़ नहीं, माइक टकराया

इस वीडियो को गौर से देखने पर पता चलता है कि सिब्बल को किसी ने थप्पड़ नहीं मारा था। दरअसल मौके पर इकट्ठा हुए मीडियाकर्मियों में से किसी एक का माइक उनके चेहरे से टकरा गया था। नीचे उसी वीडियो को स्लो मोशन में पोस्ट किया गया है।

उपरोक्त वीडियो में स्पष्ट देखा जा सकता है कि सिब्बल के चेहरे से गलती से एक माइक टकरा गया है। इस वीडियो का वह फ्रेम, जिसमें यह घटना हुई, नीचे पोस्ट किया गया है।

एक सरसरी निगाह से देखने पर भी यह पता चल जाता है कि यहां सिब्बल को थप्पड़ मारे जाने का कोई सवाल नहीं है। लेकिन शायद उन लोगों के लिए ऐसा नहीं है, जिन्होंने इस वीडियो को उत्साहपूर्वक शेयर किया है।

योगदान करें!!
सत्ता को आइना दिखाने वाली पत्रकारिता जो कॉरपोरेट और राजनीति के नियंत्रण से मुक्त भी हो, वो तभी संभव है जब जनता भी हाथ बटाए. फेक न्यूज़ और गलत जानकारी के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद कीजिये. डोनेट करिये.

Donate Now

तत्काल दान करने के लिए, ऊपर "Donate Now" बटन पर क्लिक करें। बैंक ट्रांसफर / चेक / डीडी के माध्यम से दान के बारे में जानकारी के लिए, यहां क्लिक करें

Send this to a friend