मीडिया की गलत खबर: निर्मला सीतारमण ने कहा कि अर्थव्यवस्था पर नोटबंदी का कोई असर नहीं हुआ

2 जुलाई को, कई मीडिया संगठनों ने रिपोर्ट किया कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने राज्यसभा में कहा कि भारतीय अर्थव्यवस्था पर नोटबंदी का कोई असर नहीं हुआ है।

उपरोक्त स्क्रीनशॉट, आउटलुक द्वारा प्रकाशित किये गए लेख का है। लेख में लिखा गया है कि,“केंद्रीय बजट पेश करने से कुछ दिन पहले, वित्त मंत्री ने मंगलवार को राज्यसभा में दावा किया कि भारत सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था है और नोटबंदी का कोई असर भारतीय अर्थव्यवस्था पर नहीं हुआ है”-(अनुवाद)। कई अन्य मीडिया संगठन, जिन्होंने इसी दावे को प्रकाशित किया है, जिसमें द इकनोमिक टाइम्स, NDTV, स्क्रोल, डेक्कन हेराल्ड, द क्विंट, द प्रिंट, ब्लूमबर्ग क्विंट और हिंदू बिज़नेस लाइन शामिल हैं। NDTV की हैडलाइन को बाद में बदल दिया गया था।

तथ्य जांच

इस मामले में बात यह है कि वित्त मंत्री ने राज्य सभा में यह कभी नहीं कहा कि नोटबंदी का असर भारतीय अर्थव्यवस्था पर नहीं हुआ था। ऑल्ट न्यूज़ ने सदन में सदस्यों द्वारा पूछे गए प्रश्नों के लिए राज्य सभा की वेबसाइट पर सर्च किया। कांग्रेस नेता और सांसद दिग्विजय सिंह ने भारतीय अर्थव्यवस्था, MSMEs और रोजगार पर नोटबंदी के प्रभाव के बारे में सवाल पूछा था। इसके जवाब में, वित्त मंत्री ने कहा था कि इसके बारे में कोई अध्ययन नहीं किया गया है।

इसके अलावा, वित्त मंत्री ने स्वयं NDTV के ट्वीट पर जवाब देते हुए ट्वीट किया था।

जिसके जवाब में, NDTV ने बताया कि प्रकाशित लेख का शीर्षक प्रेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया (PTI) से लिया गया था। आगे उन्होंने लिखा कि लेख को उसके अनुसार अपडेट कर दिया गया है, और इसके बारे में समाचार एजेंसी को सूचित किया गया है।

कांग्रेस पार्टी ने एक ट्वीट के माध्यम से सीतारमण पर निशाना साधा।

ऑल्ट न्यूज़, हाल में चल रहे मोनसून सत्र में राज्यसभा में वित्त मंत्री द्वारा दिए गए ऐसे किसी भी भाषण का पता नहीं लगा पाया है। श्रीमती निर्मला सीतारमण के हवाले से प्रकाशित किया गया लेख, सदन में आनंद शर्मा के द्वारा भारतीय अर्थव्यवस्था में मंदी के बारे में पूछे गए सवाल के जवाब में लिखित स्वरुप में दिया गया था।

इससे यह दोहराया जा सकता है कि राज्यसभा में श्रीमती निर्मला सीतारमण ने यह नहीं कहा था कि भारतीय अर्थव्यवस्था पर नोटबंदी का प्रभाव नहीं हुआ है। उन्होंने यह कहा था कि इसके बारे में कोई अध्ययन नहीं हुआ है।

योगदान करें!!
सत्ता को आइना दिखाने वाली पत्रकारिता जो कॉरपोरेट और राजनीति के नियंत्रण से मुक्त भी हो, वो तभी संभव है जब जनता भी हाथ बटाए. फेक न्यूज़ और गलत जानकारी के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद कीजिये. डोनेट करिये.

Donate Now

तत्काल दान करने के लिए, ऊपर "Donate Now" बटन पर क्लिक करें। बैंक ट्रांसफर / चेक / डीडी के माध्यम से दान के बारे में जानकारी के लिए, यहां क्लिक करें

Send this to a friend