तबरेज़ अंसारी की हत्या में शामिल व्यक्ति की गोली मारकर हत्या? नहीं, मध्यप्रदेश का वीडियो शेयर

25 जून को, झारखंड पुलिस ने 11 लोगों को 24 वर्षीय तबरेज़ अंसारी की मॉब लिंचिंग के इलज़ाम में गिरफ्तार किया था। उसके कुछ दिनों बाद, एक वीडियो, जिसमें एक मृत व्यक्ति स्ट्रेचर पर पड़ा है, इस दावे से साझा किया गया कि वह अपराधियों में से एक है, जिसकी गोली मारकर हत्या कर दी गई है।

इस वीडियो को व्हाट्सअप पर एक संदेश के साथ साझा किया जा रहा है –“जिसने तबरेज़ को मारा था वो मार गया कुत्ते कि मौत”। कुछ उपयोगकर्ताओं ने ऑल्ट न्यूज़ को इसकी पुष्टि करने के लिए संपर्क किया है।

इसी दावे के साथ फेसबुक पर कुछ उपयोगकर्ताओंने यह वीडियो साझा किया है।

इसके अतिरिक्त, मरे हुए व्यक्ति की तस्वीर और तबरेज़ अंसारी की हत्या में शामिल व्यक्ति, पप्पू मंडल की तस्वीरों को एक साथ व्हाट्सअप पर साझा किया गया है। इन तस्वीरों के कॉलाज से यह दिखाने की कोशिश की गई है कि मरने वाला व्यक्ति पप्पू मंडल था।

झारखंड से असंबंधित वीडियो

यूट्यूब पर कुछ कीवर्ड्स से सर्च करने पर, ऑल्ट न्यूज़ को इसी दावे से पोस्ट किया गया एक वीडियो मिला। हालांकि, वीडियो के कमेंट बॉक्स में, नोमान अली नामक व्यक्ति ने बताया था कि यह वीडियो पिंकू काला नाम के एक गैंगस्टर का था, जिसे मार दिया गया था।

पिंकू काला को मध्य प्रदेश के जबलपुर में बालदेबाग के पास 29 जून, 2019 को मार दिया गया था। वन इंडिया की गई रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस ने चार आरोपियों की पहचान की थी और उनके खिलाफ FIR दर्ज़ की गई है।

ऑल्ट न्यूज़ से बातचीत के दौरान, जबलपुर एसपी अमित सिंह ने इस बात की पुष्टि की है कि वीडियो में दिख रहा आदमी पिंकू काला है। उन्होंने कहा,”पिंकू काला एक नामी गैंगस्टर था, जिस पर तक़रीबन 50 केस दर्ज़ थे। हमने इस हत्या के केस में चार आरोपियों की पहचान की है, राजेश मिश्रा, अक्की मिश्रा, राहुल टिंडे और लूला”

ऑल्ट न्यूज़ ने इससे आगे झारखंड पुलिस से संपर्क किया। सरायकेला-खरसावां के एसपी कार्तिक एस ने सोशल मीडिया के दावों को झूठा बताया और कहा, “वीडियो के साझा किया गया दावा, गलत है। तबरेज़ अंसारी के मामले में आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है और वे न्यायिक हिरासत में हैं”

निष्कर्ष के रूप में, मध्य प्रदेश के गैंगस्टर की हत्या के वीडियो को तबरेज़ अंसारी की मॉब लिंचिंग में शामिल आरोपी व्यक्ति की मौत के दावे से साझा किया गया है।

योगदान करें!!
सत्ता को आइना दिखाने वाली पत्रकारिता जो कॉरपोरेट और राजनीति के नियंत्रण से मुक्त भी हो, वो तभी संभव है जब जनता भी हाथ बटाए. फेक न्यूज़ और गलत जानकारी के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद कीजिये. डोनेट करिये.

Donate Now

तत्काल दान करने के लिए, ऊपर "Donate Now" बटन पर क्लिक करें। बैंक ट्रांसफर / चेक / डीडी के माध्यम से दान के बारे में जानकारी के लिए, यहां क्लिक करें

Send this to a friend