19 दिसंबर को, NewsX ने नागरिकता संशोधन विधेयक(CAA) के खिलाफ देशभर में चल रहे विरोध प्रदर्शन को लेकर एक डिबेट किया था। 57 मिनट का यह कार्यक्रम यूट्यूब पर उपलब्ध है, जिसका शीर्षक ‘CAA पर युवा छात्रों की राय, आइए CAA पर जारी युद्ध का हल निकालें ‘ (अनुवाद)।

20 दिसंबर को, ट्विटर हैंडल @theotherdemon02 ने कथित तौर पर आरोप लगाया था कि NewsX ने अपने पत्रकारों को ही डिबेट के दौरान छात्रों के रूप में पेश किया है। उन्होंने लिखा, “ANI एक बार #NewsX चैनल पर ध्यान दें। NewsX चैनल ने अपने ही पत्रकारों को कार्यक्रम के दौरान छात्रों के रूप में पेश किया, पैनल में 6 में से 4 लोग चैनल से ही हैं और वे असली छात्रों के हित के खिलाफ बात कर रहे है।” (अनुवाद)

तथ्य-जांच

ऑल्ट न्यूज़ ने इसकी पड़ताल करने के लिए NewsX के एक पूर्व कर्मचारी से सम्पर्क किया, (नाम जाहिर ना करने की शर्त पर) जिन्होंने कुछ ही क्षणों में पहचान लिया कि यह पैनल में छात्र के रूप में बैठे दोनों – अर्शिया भल्ला और सृष्टि गोयल – NewsX के ही पत्रकार है। स्त्रोत के अनुसार, सृष्टि और अर्शिया दोनों ही NewsX की डिजिटल टीम के लिए काम करती है।

क्या NewsX ने सृष्टि और अर्शिया को छात्रा के रूप में प्रदर्शित किया?

पैनल के लोगों का परिचय देते हुए एंकर देविका चोपड़ा ने कहा, “…मेरे साथ है, स्टूडियो में अब कुछ छात्र।” इसके परिणाम स्वरुप दर्शकों को यह विश्वास हो गया कि सभी पैनल में बैठे सदस्य छात्र हैं।

दूसरी अतिथि ‘अशिर्या भल्ला’ है। चोपड़ा उनका परिचय 5:20 मिनट पर यह कहते हुए देती है, “अशिर्या भल्ला भी हमारे साथ अभी जुडी है।” (अनुवाद) NewsX उन्हें दुबारा 5:54 मिनट पर छात्रा के रूप में परिचित करता है। हालांकि, वीडियो में बाद में भल्ला को ‘प्रोफेशनल’ और फिर उन्हें ‘युवा प्रोफेशनल’ के रूप में पेश किया गया।

शो के दौरान भल्ला की टिप्पणी के अनुसार, वह विरोध-प्रदर्शन का समर्थन नहीं करती है। कार्यक्रम के अंत में वह प्रधानमंत्री के अंतिम शब्दों को सही ठहरती है – “कपड़ों से पहचानो।”

8.30 मिनट पर, देविका चोपड़ा तीसरी “मेहमान” सृष्टि गोयल का परिचय देती है। एंकर कहती है कि, “मेरे साथ अभी जामिया की छात्रा सृष्टि गोयल भी है।” (अनुवाद) 8:39 मिनट पर, गोयल टिप्पणी देती है कि, “सबसे पहले, जैसा कि आपने कहा मैं एक जामिया स्टूडेंट हूं…” (अनुवाद) और CAA के खिलाफ चल रहे विरोध प्रदर्शनों को लेकर अपने विचार रखने के लिए कहा।

स्क्रीन पर, NewsX ने गोयल को पहली बार 10:12 मिनट पर ‘जामिया छात्रा’ के रूप में परिचय दिया था। भल्ला की तरह ही कार्यक्रम में, गोयल को पहले ‘प्रोफेशनल’ और फिर ‘युवा प्रोफेशनल’ की तरह दर्शाया गया।

गोयल शो के दौरान एक ऐसे व्यक्ति के रूप में सामने आयी, जो नागरिकों के प्रदर्शन करने के हक़ को वाजिब मानती हो। उन्होंने एनआरसी पर भी चिंता व्यक्त की, हालांकि, उन्होंने यह भी कहा कि सरकार को तैयार रहना चाहिए जैसे कि वह कश्मीर के वक़्त थी।

एक अन्य “मेहमान” ‘आदर्श’ का देविका चोपड़ा ने शो में 15:54 मिनट पर परिचय दिया था। उन्हें भी कार्यक्रम में 16:22 मिनट पर स्क्रीनग्राफ में छात्र के रूप में सदर्भित किया और बाद में पूरे कार्यक्रम के दौरान उन्हें स्क्रीन पर छात्र ही बताया गया।

आदर्श ने यह कहते अपने बयान की शुरुआत की, “मेरा मानना है कि दोनों तरफ कोई समस्या नहीं है।” (अनुवाद) हालांकि, उन्होंने पुलिस और कानून व्यवस्था कि भेदभावपूर्ण प्रकृति की अधिक आलोचना की।

क्या आदर्श, अर्शिया भल्ला और सृष्टि गोयल NewsX से जुड़े हुए है?

ऑल्ट न्यूज़ ने पाया कि अर्शिया भल्ला और सृष्टि गोयल 22 दिसंबर को NewsX के यूट्यूब लाइव कार्यक्रम में एंकरिंग कर रही थी। भल्ला को ‘बिग बॉस 13 लाइव: वीकेंड का वार – एपिसोड 82’ में देखा जा सकता है। उनके फेसबुक और लिंक्डइन प्रोफाइल के अनुसार, वह वर्तमान में NewsX में काम करती है।

भल्ला और गोयल की NewsX की वेबसाइट पर ऑथर प्रोफाइल भी है।

यह ध्यान देने लायक है कि चैनल ने गोयल को पहले ‘Sristi’ के नाम से संदर्भित किया और बाद में 14:50 मिनट पर उन्हें अलग वर्तनी ‘Shristi’ से संदर्भित किया गया, जो कि उनके NewsX वेबसाइट पर मौजूद वर्तनी से मेल खाता है।

गोयल को NewsX के लिए ‘बिग बॉस 13 लाइव: 17 दिसंबर फुल एपिसोड‘ में एंकरिंग करते हुए देखा जा सकता है।

आदर्श का पूरा नाम आदर्श शुक्ला है। वह इंडिया न्यूज समूह से जुड़े हुए इनख़बर के पत्रकार है। NewsX और इनख़बर दोनों ही ITV नेटवर्क समूह द्वारा संचालित समाचार संगठन है।

ऑल्ट न्यूज़ ने पाया कि शुक्ला ने इनख़बर के एक शो की एंकरिंग की थी, जिसका शीर्षक था, “वशिष्ठ नारायण सिंह की मृत्यु जिन्हें नाज़ है हिंद पर वो कहां हैं?” | India News’ – on November 14″

इनखबर की वेबसाइट पर शुक्ला का एक लेखक प्रोफाइल भी है, जो उन्हें मुख्य उप-संपादक के रूप में संबोधित करता है। उनकी बायलाइन से अंतिम रिपोर्ट 23 दिसंबर को प्रकाशित हुई थी।

निष्कर्ष

इस तरह NewsX ने नागरिकता संशोधन अधिनियम के विरोध प्रदर्शन पर आयोजित बहस के दौरान कम से कम अपने तीन पत्रकारों को छात्रों के रूप में पेश किया। जहां अर्शिया भल्ला और सृष्टि गोयल NewsX डिजिटल से जुड़ी हैं, वहीं आदर्श शुक्ला पत्रकार हैं। इस बहस को ‘छात्रों को सुनें’ ‘Hear the students’ कहकर प्रसारित किया गया था, जिसमें विवादास्पद कानून पर छात्रों के आवाज़ के रूप में मूल संगठन ITV नेटवर्क के व्यक्ति थे। ऑल्ट न्यूज़ के लेख के बाद एंकर देविका चोपड़ा ने ट्वीट किया, उन्होंने तीनों में से एक के बारे में बताया कि वो जामिया की छात्रा है, लेकिन ये स्पष्ट नहीं किया कि ये तीनों News X से जुड़े हुए नहीं हैं।

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.

About the Author

Archit is a senior fact-checking journalist at Alt News. Previously, he has worked as a producer at WION and as a reporter at The Hindu. In addition to work experience in media, he has also worked as a fundraising and communication manager at S3IDF.