सोशल मीडिया यूज़र्स राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और गृहमंत्री अमित शाह की एक तस्वीर शेयर करते हुए लिख रहे हैं, “अहमदाबाद: मोदी सरकार ने स्टेडियम का नाम अपने नाम करके सरदार पटेल को सम्मान दिया उसी दिन गृहमंत्री शाह ने भी रेड कार्पेट पर चलकर और राष्ट्रपति कोविंद जी को रेड कार्पेट से बाहर चलवाकर भरपूर सम्मान दिया …..इतना सम्मान भाजपा ही दे सकती है.”

फ़ेसबुक यूज़र रानी राजेश के इस पोस्ट को आर्टिकल लिखे जाने तक 6,200 से ज़्यादा लोग शेयर कर चुके हैं.

अधिवक्ता और कार्यकर्ता दीपिका राजावत ने भी ये तस्वीर ट्वीट की. आर्टिकल लिखे जाने तक उनका ट्वीट 800 से ज़्यादा बार रीट्वीट भी किया जा चुका है.

एक अन्य यूज़र इशरत खान ने भी ये तस्वीर शेयर करते हुए लिखा, “यह देश के राष्ट्पति हैं जो जहाँपनाह मोदी और गब्बर अमित शाह के लिए लाल कार्पेट छोड़ कर खुद नीचे चल रहे हैं देश ऐसे गुलाम राष्ट्रपति को पाकर धन्य हो गया.” इशरत के ट्वीट को भी 300 से ज़्यादा लोग रीट्वीट कर चुके हैं.

ये दावा फ़ेसबुक और ट्विटर पर बहुत वायरल है कि राष्ट्रपति कोविंद अमित शाह के लिए रेड कारपेट के नीचे चल रहे हैं.

This slideshow requires JavaScript.

भ्रामक दावा

तस्वीर पर NDTV का वॉटरमार्क है. इससे हिंट लेते हुए हमने यूट्यूब पर कीवर्ड सर्च किया और NDTV का वो वीडियो मिला जिसका स्क्रीनशॉट वायरल है. ये वीडियो हाल ही में मोटेरा स्टेडियम का नाम नरेंद्र मोदी स्टेडियम किये जाने को लेकर है. 24 फ़रवरी, 2021 को अपलोड किये गये इस वीडियो में 3 मिनट 11 सेकंड पर वो विज़ुअल नज़र आता है जिसका स्क्रीनशॉट वायरल है. वीडियो मोटेरा स्टेडियम के उद्घाटन के मौके का है जब राष्ट्रपति और गृह मंत्री स्टेडियम के भूमिपूजन के लिए वहां पहुंचे थे.

DD न्यूज़ ने पूरे कार्यक्रम का लाइव प्रसारण किया था. ये वीडियो 1 घंटा 41 मिनट से ज़्यादा लम्बा है और राष्ट्रपति के पहुंचने से लेकर उनके और गृह मंत्री के भाषण तक पूरा कार्यक्रम देखा जा सकता है. वीडियो की शुरुआत में ही हम देखते हैं कि राष्ट्रपति कोविंद कारपेट के बीच में चल रहे हैं और अमित शाह उनके बगल में चलते हुए उन्हें गाइड कर रहे हैं. भूमि पूजन के बाद दोनों नेता स्टेज की तरफ़ बढ़ते हैं जहां केवल कुछ समय के लिए राष्ट्रपति चलते-चलते कारपेट से उतर जाते हैं. मौके पर गुजरात के राज्यपाल आचार्य देवव्रत, खेल राज्य मंत्री किरण रिजीजू भी मौजूद थे. आगे, 11 मिनट से देखा जा सकता है कि सभी नेता एक-एक करके स्टेज पर आते हैं. 14 मिनट 46 सेकंड पर राष्ट्रपति पहुंचते हैं और सभी नेता खड़े होकर उन्हें सम्मान देते हैं. पूरे कार्यक्रम से सिर्फ़ एक पल का स्क्रीनशॉट वायरल कर ये दिखाया गया कि अमित शाह खुद रेड कारपेट पर चल रहे हैं और राष्ट्रपति को उससे नीचे चलना पड़ रहा है.

भारत में राष्ट्रपति का ओहदा सबसे बड़ा होता है. इसी को आधार बनाकर लोगों ने ये भ्रामक दावा किया कि गृहमंत्री अमित शाह ने राष्ट्रपति पद का अपमान किया है.


कांग्रेस के ट्वीट के बाद रिपब्लिक भारत ने डिलीट किया अपना ट्वीट और दिखाई सही ख़बर

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

Donate Now

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.
Tagged:
About the Author

A journalist and a dilettante person who always strives to learn new skills and meeting new people. Either sketching or working.