कोविड-19 के दूसरे वेव ने भारत में भयावह रूप ले लिया है. 20 अप्रैल के ताज़ा आंकड़ों के मुताबिक भारत में 24 घंटे में कोविड के कुल 2 लाख 59 हज़ार से ज़्यादा नए मामले सामने आए, 1761 लोगों की मौत हुई और कुल मामला डेढ़ करोड़ के पार पहुंच गया. देश में जब रोज़ ये मामले अपना पिछला रिकॉर्ड तोड़ रहे हैं, इसके बावजूद हरिद्वार में लाखों की संख्या में हिन्दू तीर्थयात्री स्नान करने पहुंचे. इस लापरवाही की आलोचना करते हुए लोगों ने सरकार से इसे रोकने की मांग भी की. आजतक की रिपोर्ट मुताबिक पीएम नरेंद्र मोदी द्वारा कुम्भ मेले को सांकेतिक रखने की अपील के बावजूद तीरथ रावत की सरकार इसे 30 अप्रैल तक चलाने पर अड़ी हुई है. इसी बीच कई सोशल मीडिया यूज़र्स ने दर्जनों खाली पड़े बेड की दो तस्वीरें शेयर की और कहा कि मुंबई के श्री स्वामीनारायण मंदिर को कोविड हॉस्पिटल में बदला गया है जिसका खर्च मंदिर के पैसों से उठाया जा रहा है.

भाजपा सांसद शोभा करंदलाजे ने यही दोनों तस्वीरें शेयर करते हुए लिखा, “हम साथ मिलकर #CoronaPandemic को हराएंगे. मुंबई के स्वामीनारायण मंदिर को कोविड हॉस्पिटल में बदला गया है. क्या लिबरल मीडिया हिन्दू संगठन का ये योगदान देखेंगे?”

भाजपा नेता बीएल संतोष ने भी दोनों तस्वीरें शेयर कीं.

कांग्रेस नेता और उर्दू के कवि मोहम्मद इमरान प्रतापगढ़ी ने लिखा, “मुंबई के श्री स्वामीनारायण मंदिर को कोविड अस्पताल में बदल दिया गया है. वहां पर इलाज कराने वाले सभी बीमारों का ख़र्च भी मंदिर ही उठाएगा. मंदिर प्रशासन को दिल से साधुवाद.” उनके ट्वीट को 6,000 से ज़्यादा बार रीट्वीट किया गया.

ट्विटर यूज़र @marineravin के ट्वीट को भी 2,000 से ज़्यादा लोगों ने रीट्वीट किया.

कुछ अन्य वेरिफ़ाइड अकाउंट ने भी ये तस्वीरें शेयर कीं जिनमें पत्रकार पद्मजा जोशी, राहुल पंडिता, उत्तम कुमार, कॉलमिस्ट हरिनी कालामुर, ऐक्टर ऋचा चड्ढा और स्वरा भास्कर शामिल हैं. टीवी ऐक्टर श्रुति सेठ, निर्देशक ओनिर और द डायलॉग के फ़ाउंडर काज़िम रिज़वी भी शामिल हैं.

This slideshow requires JavaScript.

पुष्पेन्द्र कुलश्रेष्ठ के फ़र्ज़ी अकाउंट ThePushpendra_ से भी यही दावा किया गया कि मुंबई के स्वामीनारायण मंदिर को अस्पताल में बदला गया है. इस ट्वीट को 10 हज़ार से ज़्यादा लोगों ने लाइक किया.

ट्विटर की ही तरह ये दावा फ़ेसबुक पर भी बहुत वायरल है.

फ़ैक्ट-चेक

TV9 गुजराती ने 14 अप्रैल को रिपोर्ट किया कि गुजरात में हॉस्पिटल में बेड की कमी होने के चलते वडोदरा के बाप्स परम्परा वाले श्री स्वामी नारायण मंदिर के प्रार्थना हॉल को 200 बेड वाले कोविड फ़ैसिलिटी में बदला गया. साथ में ये भी बताया गया कि 200 बेड से शुरुआत की गयी है और आगे 500 बेड तक बढ़ाये जाएंगे.

रिपोर्ट में बताया गया कि इस पहल के तहत 13,000 लीटर ऑक्सीजन सप्लाई, 30 टॉयलेट्स और 40 बाथरूम समेत वेंटीलेटर और इंटेंसिव केयर यूनिट का इंतज़ाम किया जाना है. चैनल के मुताबिक, 21 मरीज़ों को भर्ती भी किया जा चुका था. उसी दिन देश गुजरात की रिपोर्ट के मुताबिक, मरीज़ों की संख्या 45 हो गयी थी. अगले दिन यानी, 15 अप्रैल को द टाइम्स ऑफ़ इंडिया ने रिपोर्ट किया कि 300 बेड फ़ैसिलिटी पूरी तरह से तैयार है. टाइम्स ऑफ़ इंडिया ने ये भी बताया कि वडोदरा के एक मस्जिद को भी 142 बेड वाले फ़ैसिलिटी की अनुमति दे दी गयी है.

वायरल इमेज में दिख रहे विज़ुअल और वीडियो रिपोर्ट में दिख रहा विज़ुअल एक ही है.

नीचे वायरल तस्वीर और वीडियो रिपोर्ट के विज़ुअल के बीच समानताएं चिन्हित की गयी हैं. वीडियो के 25 सेकंड पर एक जैसी बेडशीट और 47 सेकंड पर पीछे दिख रहा स्टेज, दोनों हुबहू एक जैसे हैं.

फ़ेसबुक पेज ‘आवर वडोदरा‘ ने इसी हॉस्पिटल का हाई क्वालिटी वीडियो शेयर किया हुआ है. कुछ अन्य यूज़र्स और पजेज़ ने भी बेड्स की तस्वीर शेयर की है जिनमें फ्रेंड्स ऑफ़ बाप्स पोलैंड, वॉइस ऑफ़ वडोदरा और संजय कोरिया शामिल हैं.

BAPS Shri Swaminarayan Mandir – London Our global efforts to combat the effects of #COVID19 continue in India with a…

Posted by Friends of BAPS Poland on Thursday, April 15, 2021

ऑल्ट न्यूज़ ने बाप्स श्री स्वामीनारायण मंदिर, वडोदरा के ज्ञान वत्सल स्वामी से संपर्क किया. उन्होंने हमें बताया, “मुझे मालूम चला कि कुछ तस्वीरें भ्रामक दावे के साथ शेयर की जा रही हैं. ऐसा इसलिए हो सकता है क्योंकि बेड पर जो लेबल है उसमें मुंबई का पता है. पिछले साल कोरोना के मामले बढ़ने पर हमने बेड्स बनायें थे और उन्हें मुंबई भेजा था. स्थिति ठीक होने के बाद बेड्स को वापस वडोदरा लाया गया क्योंकि हमारे पास इन्हें रखने के लिए ज़्यादा जगह उपलब्ध है. इन्हीं बेड्स का अब वडोदरा में इस्तेमाल किया जा रहा है.”

बेड की तस्वीर शेयर करने वाले एक यूज़र ने भी इस बात की तरफ़ इशारा किया था कि बेड पर दादर लिखा हुआ है.

बाप्स मुंबई ने एक प्रेस रिलीज़ जारी करते हुए बताया कि कोविड फ़ैसिलिटी वडोदरा में खोली गयी है न कि मुंबई में. साधु भक्तिप्रियादास ने इस प्रेस नोट में कहा है, “पोवाई के बाप्स स्वामीनारायण मंदिर में कोविड फ़ैसिलिटी खोलने की बात चल रही है. उम्मीद है कि दादर में भी जल्द ही खोला जाएगा.”

कुल मिलाकर, वडोदरा के बाप्स परंपरा वाले श्री स्वामीनारायण मंदिर जिसे कोविड-19 फ़ैसिलिटी बनाया गया है, लोगों ने मुंबई का स्वामीनारायण मंदिर बताकर शेयर किया. अभी तक मुंबई से जुड़ी ऐसी कोई मीडिया रिपोर्ट्स सामने नहीं आई है.


हरियाणा के करनाल में हो रही वेब सीरीज़ की शूटिंग के दृश्य को लोगों ने असली घटना बताकर शेयर किया

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

Donate Now

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.