सोशल मीडिया पर तेजप्रताप यादव की एक तस्वीर काफ़ी शेयर की जा रही है. तेजप्रताप यादव बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे हैं और बिहार विधानसभा में मंत्री भी रह चुके हैं. तस्वीर में तेजप्रताप बांसुरी बजाते दिख रहे हैं और नीचे सीढ़ियों पर एक बकरी खड़ी दिखती है. ABVP के छात्र कार्यकर्ता आदित्य शर्मा ने ये तस्वीर पोस्ट करते हुए लिखा, “कोई इस नववी फेल दुग्गल भैया को बताओ रे की श्री कृष्ण गाय पालते थे बकरी नही”.

 

ट्विटर यूज़र जानवी सिंह ने ये तस्वीर ऐसे ही दावे के साथ ट्वीट की. (आर्काइव लिंक)

ट्विटर, फ़ेसबुक पर ये तस्वीर ऐसे ही कैप्शन के साथ शेयर की जा रही है.

This slideshow requires JavaScript.

फ़ैक्ट-चेक

इस तस्वीर की सच्चाई जानने के लिए ऑल्ट न्यूज़ ने तेजप्रताप यादव के सोशल मीडिया अकाउंट्स खंगाले. इंस्टाग्राम पर तेजप्रताप ने 4 सितंबर 2019 को ये तस्वीर पोस्ट की थी. वायरल तस्वीर से अलग तेजप्रताप द्वारा पोस्ट की गई तस्वीर में कोई बकरी नहीं दिखती है.

तेजप्रताप ने जनवरी 2020 और जून 2020 में इसका वीडियो भी इंस्टाग्राम पर शेयर किया था. वीडियो में भी तेजप्रताप के आस-पास कोई बकरी नहीं दिखती है.

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Tej Pratap Yadav (@tejpratapyadavrjd)

आगे, यांडेक्स पर वायरल तस्वीर का बकरी वाला हिस्सा रिवर्स इमेज सर्च करने पर हमें टॉप पीएनजी नाम की वेबसाइट पर ये तस्वीर मिली. वेबसाइट के मुताबिक, ये तस्वीर 23 अप्रैल 2019 को पब्लिश की गई थी. बता दें कि वेबसाइट पर बकरी की इस तस्वीर का फॉर्मेट PNG है. इस फॉर्मेट में तस्वीर के पीछे कोई बैकग्राउंड नहीं होता. ऐसे में, इसे किसी और तस्वीर पर रखकर उसी के हिस्से के रूप में दिखाया जा सकता है.

यानी, तेजप्रताप यादव की पुरानी तस्वीर एडिट कर उसमें बकरी की तस्वीर डाली गई. एडिट की गई तस्वीर सोशल मीडिया पर शेयर करते हुए तेजप्रताप पर निशाना साधा जा रहा है.


ज़ी हिंदुस्तान ने पंजशीर के दृश्य बताते हुए जिस बच्ची को बन्दूक चलाते दिखाया, वो बलूचिस्तान की थी :

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

Donate Now

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.