राम मंदिर निर्माण पर स्पेन में खुशी मनाए जाने के दावे से मराठी ग्रुप का पुराना वीडियो वायरल

सोशल मीडिया में एक वीडियो शेयर कर दावा किया जाने लगा कि स्पेन में राम मंदिर निर्माण के फैसले को लेकर खुश भारतीय लोगों ने ढोल-नगाड़ों के साथ रास्ते पर जुलूस निकाला. ट्विटर पर भारतीय जनता युवा मोर्चा, तेलंगाना के प्रवक्ता रूप डराक ने ये वीडियो ट्वीट किया है. उन्होंने लिखा है, स्पेन में भारतीयों ने राम मंदिर निर्माण का जश्न मनाना शुरू कर दिया है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा फ़ॉलो की जा रही ट्विटर यूज़र ‘@RenukaJain6’ ने ये वीडियो ट्वीट करते हुए लिखा, ” हर घर भगवा छायेगा – फिर से राम राज्य आयेगा…* स्पेन मे राम मंदिर के निमार्ण के समर्थन पर हिन्दुस्तानी लोगो द्धारा निकाला गया ढोल – नगाडे के साथ एक छोटा सा जुलूस…* जय श्रीराम – भारत माता की जय 🇮🇳*” आर्टिकल लिखे जाने तक इस वीडियो को 5 हज़ार बार देखा गया है. (ट्वीट का आर्काइव लिंक)

फ़ेसबुक यूज़र श्रेया राजपूत ने एक फ़ेसबुक ग्रुप ‘RSS(राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ)’ में ये वीडियो इसी दावे से 29 जुलाई को शेयर किया. इसके अलावा, फ़ेसबुक पेज ‘ज्ञान सागर’ ने भी इसी दावे से ये वीडियो पोस्ट किया था जिसे डिलीट किये जाने से पहले 32 हज़ार से ज़्यादा बार देखा गया और करीब 600 बार शेयर किया गया. (फ़ेसबुक पोस्ट का आर्काइव लिंक)

ये वीडियो इसी दावे से फ़ेसबुक और ट्विटर पर शेयर हो रहा है. ऑल्ट न्यूज़ के ऑफ़िशियल मोबाइल ऐप पर इस वीडियो की सच्चाई जानने के लिए कई रीक्वेस्ट आई हैं.

फ़ैक्ट-चेक

की-वर्ड्स सर्च करने पर यूट्यूब चैनल ‘स्वरगंधार ढोल ताशा पथक’ का 16 अक्टूबर 2018 का एक वीडियो मिला. वीडियो के साथ बताया गया कि 2018 में मुंबई से म्यूज़िकल बैंड ‘स्वरगंधार’ ने स्पेन में मराठी संस्कृति दिखाने के लिए एक फ़ोक म्यूज़िक फ़ेस्टिवल में हिस्सा लिया था.

‘स्वरगंधार’ ने 12 नवंबर 2018 को स्पेन यात्रा के बारे में एक डॉक्युमेंट्री वीडियो शेयर किया था जिसमें वायरल वीडियो के दृश्य 14 मिनट 45 सेकंड पर दिखाई देते हैं.

स्पेन में परफ़ॉर्म करने पहुंचे इस लोकल मराठी बैंड की खबर 25 जून 2018 के ‘मिड डे’ के एक आर्टिकल में पब्लिश हुई थी. इस रिपोर्ट में बताया गया है कि स्वरगंधार ग्रुप 25 जून से 30 जून, 2018 तक इंटरनेशनल फ़ोक  म्यूज़िक फ़ेस्टिवल में परफ़ॉर्म करेगा. ये फ़ेस्टिवल 2018 में स्पेन के यॉरे डी मार शहर में आयोजित हुआ था.

इस तरह राम मंदिर निर्माण की खबर सुनकर स्पेन में भारतीयों द्वारा जुलूस निकाले जाने का दावा ग़लत साबित हो जाता है. ये वीडियो असल में 2018 में महाराष्ट्र के एक ट्रेडिशनल म्यूज़िकल ग्रुप के स्पेन में परफ़ॉर्म करने का है.

योगदान करें!!
सत्ता को आइना दिखाने वाली पत्रकारिता जो कॉरपोरेट और राजनीति के नियंत्रण से मुक्त भी हो, वो तभी संभव है जब जनता भी हाथ बटाए. फेक न्यूज़ और गलत जानकारी के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद कीजिये. डोनेट करिये.

Donate Now

तत्काल दान करने के लिए, ऊपर "Donate Now" बटन पर क्लिक करें। बैंक ट्रांसफर / चेक / डीडी के माध्यम से दान के बारे में जानकारी के लिए, यहां क्लिक करें

Send this to a friend