सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे एक वीडियो में सड़क पर खड़ा एक आदमी बिना मास्क के बाइक चला रहे एक व्यक्ति को डंडे मारता है. ट्विटर यूज़र देवेश ने 20 सेकंड का ये वीडियो ट्वीट करते हुए लिखा, “कलेक्टर हो तो ऐसे। हमारे रायपुर मे भी ऐसा होना चाहिए ।” आर्टिकल लिखे जाने तक इस वीडियो को 5,900 बार देखा जा चुका है. (आर्काइव लिंक)

इस वीडियो का ही आखिरी कुछ सेकंड का हिस्सा अलग से सोशल मीडिया पर शेयर किया जा रहा है. इस वीडियो को शेयर करते हुए यूज़र्स दावा कर रहे हैं कि बाइक सवार को डंडा मारने वाला शख्स छतीसगढ़ के दुर्ग ज़िले के कलेक्टर डॉक्टर सर्वेश्वर भूरे हैं. इन दोनों वीडियो में बाइक चलाने वाले व्यक्ति को डंडे से मारने वाला व्यक्ति एक ही है. ट्विटर यूज़र ‘GM NEWS MP-CG’ ने दुर्ग के कलेक्टर का बताते हुए ट्वीट किया है. (आर्काइव लिंक)

ऑल्ट न्यूज़ की ऑफ़िशियल ऐप पर भी इस वीडियो की जांच की रीक्वेस्ट मिली है.

फ़ैक्ट-चेक

इस वीडियो की असलियत बताते हुए ख़ुद दुर्ग के कलेक्टर सुर्वेश्वर भूरे ने एक ट्वीट किया. उन्होंने बताया कि वीडियो में दिख रहे व्यक्ति वो नहीं बल्कि कोई और है. इसके अलावा उन्होंने बताया कि ये वीडियो भी दुर्ग ज़िले का नहीं है. सुर्वेश्वर भूरे ने इसके साथ एक तस्वीर शेयर की जो इस वायरल वीडियो का स्क्रीनशॉट है.

वीडियो को ध्यान से देखने पर हमें एक दुकान का बोर्ड दिखा जिसपर “वर्धमान एंटरप्राइस, छोटा नागदा” लिखा है. नागदा, मध्य प्रदेश के उज्जैन ज़िले का एक शहर है.

की-वर्ड्स सर्च की मदद से हमें फ़ेसबुक यूज़र सुरेंद्र शेखावत केसुर का पोस्ट मिला. सुरेंद्र ने ये वीडियो बदनावर क्षेत्र के गांव नागदा (छोटा नागदा) का बताया है. इस पोस्ट में लाठी मारने वाले व्यक्ति का नाम SDM वीरेंद्र कटारे बताया गया है.

 

जनता के सात केसा व्यवहार कर रहा है प्रशासन
🚩 आज बदनावर क्षेत्र के गाँव नागदा ( छोटा नागदा ) मे
प्रशासनिक अधिकारी SDM वीरेंद्र कटारे द्वारा आम जनता से दुर्भाग्यपूर्ण व्यवहार किया जो की गलत हे l
👉 आप जनता के सेवक हे l आप चाहते तो जनता को मास्क बाटकर भी जागरूक कर सकते थे l
जो कि अपने किया ही नहीं l
लाठी चार्ज करना हर समस्या का हल नहीं है l

Posted by सुरेंद्र शेखावत केसुर on Wednesday, 31 March 2021

यूट्यूब चैनल ‘धार न्यूज़ चैनल’ का 31 मार्च 2021 का एक वीडियो मिला. इस वीडियो में 44 सेकंड से 1 मिनट के बीच वायरल वीडियो का हिस्सा दिखता है. वीडियो में बताया गया है कि धार क्षेत्र में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के चलते पुलिस ने ‘रोको टोको’ अभियान चलाया था. इस दौरान बदनावर के SDM वीरेंद्र कटारे ख़ुद सड़कों पर निकल कर बिना मास्क के घूम रहे व्यक्तियों का चालान काट रहे थे और उन्हें लाठियां भी मार रहे थे.

31 मार्च के नई दुनिया के आर्टिकल में बताया गया है कि बदनावर में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखकर पुलिस ने सख्ती बरती. आर्टिकल के मुताबिक, “एसडीएम वीरेंद्र कटारे हाथ में डंडा लेकर स्वयं मैदान में उतरे और बगैर मास्क घूम रहे लोगों को गाइडलाइन का पालन करवाने के लिए डंडे बरसाए.”

कुल मिलाकर, मध्यप्रदेश के नागदा में मास्क नहीं पहनने पर लोगों को डंडे मारने का वीडियो छतीसगढ़ के दुर्ग ज़िले के कलेक्टर सर्वेश्वर भूरे का बताकर शेयर किया गया.


NDTV पर सोशल मीडिया का निशाना, लेकिन क्या उसने झूठ रिपोर्ट किया था?

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

Donate Now

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.