सोशल मीडिया पर वायरल एक वीडियो में कुछ लोग एक व्यक्ति को धारदार हथियार से मार रहे हैं. दावा है कि ये त्रिपुरा में मुस्लिम समुदाय के घर पर हमले का वीडियो है. ट्विटर हैन्डल ‘@SAFWANC20847940’ ने ये वीडियो कन्नड़ा मेसेज के साथ ट्वीट किया और इसे त्रिपुरा का बताया.

[नोट : वीडियो में हिंसा होने के कारण ऑल्ट न्यूज़ इसे आर्टिकल में एम्बेड नहीं कर रहा है.]

एक फ़ेसबुक यूज़र ने भी ये वीडियो इसी दावे के साथ पोस्ट किया है.

एक ट्विटर यूज़र ने इस वीडियो की असलियत जानने के लिए ऑल्ट न्यूज़ को टैग किया.

फ़ैक्ट-चेक

वीडियो के फ़्रेम्स को रिवर्स इमेज सर्च करने पर ऑल्ट न्यूज़ को 26 अप्रैल 2021 की ETV भारत की रिपोर्ट मिली. खबर के मुताबिक, बेंगलुरु के अशोक नगर में एक अपराधी की हत्या कर दी गई थी. इस मामले में पुलिस ने 6 लोगों को गिरफ़्तार किया था.

पूरा मामला कुछ यूं है कि रवि वर्मा उर्फ़ अप्पू नाम के एक अपराधी की दिनेश और बाकी कुछ लोगों ने हत्या कर दी थी. रवि इस घटना के 2 हफ़्ते पहले ही जेल से रिहा हुआ था. 20 अप्रैल 2021 की रात वो अशोक नगर के फ़ाजिमा गली में एक दुकान पर गया था. उस वक़्त करीब 55 लोगों ने उसपर हमला कर उसकी हत्या कर दी थी.

द हिन्दू और द न्यू इंडियन एक्स्प्रेस ने भी उस समय इस घटना के बारे में आर्टिकल पब्लिश किया था. रिपोर्ट्स में इस मामले में कोई सांप्रदायिक हिंसा होने की बात नहीं बताई गई है.

कुल मिलाकर, अप्रैल 2021 में बेंगलुरु में एक अपराधी की हत्या का वीडियो हाल में त्रिपुरा में मुस्लिम समुदाय के खिलाफ़ हुई हिंसा से जोड़कर शेयर किया गया.


तालिबान ने अफ़गानिस्तान की महिला वॉलीबॉल प्लेयर का गला नहीं काटा, मीडिया ने फैलाई ग़लत ख़बर

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.

Tagged: