योग कर रहे एक व्यक्ति का ब्लैक एंड व्हाइट वीडियो सोशल मीडिया पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का बताकर शेयर किया जा रहा है. जानेमाने ऐक्टर और फ़िल्म एंड टेलिविज़न इंस्टिट्यूट ऑफ़ इंडिया (FTII) के पूर्व चेयरमैन गजेन्द्र चौहान ने ये वीडियो ट्वीट करते हुए लिखा, “मोदी जी का यह योगी रूप आपने कभी नही देखा होगा.” (ट्वीट का आर्काइव)

कई मौकों पर ग़लत जानकारी फ़ैलाने वाले आकाश RSS ने भी ये वीडियो शेयर करते हुए इसे पीएम मोदी का बताया. इस आर्टिकल के पब्लिश होने के बाद आकाश RSS ने ये ट्वीट डिलीट कर दिया था.

यूज़र्स ये वीडियो शेयर करते हुए कह रहे हैं कि नरेंद्र मोदी की सफ़लता का राज़ योग है. फ़ेसबुक यूज़र नवराज कुमाई मौदगल्य ने ये वीडियो पोस्ट करते हुए लिखा, “प्रधानमंत्री श्री #नरेंद्र_मोदी जी की 35 साल पुराना एक दुर्लभ योग Video..महात्मा नरेन्द्र दामोदर दास मोदी जी को सफलता की चावी बहुत मेहनत और कडा परिश्रम के बाद मिली है।जय हिंद” आर्टिकल लिखे जाने तक इस वीडियो को 2,700 बार देखा जा चुका है. (पोस्ट का आर्काइव लिंक)

एक और फ़ेसबुक यूज़र ने ये वीडियो एक गुजराती मेसेज के साथ पोस्ट किया है.

ट्विटर हैन्डल ‘@ShakunthalaHS’ ने कन्नडा में लिखे मेसेज के साथ ये वीडियो ट्वीट किया. डिलीट किये जाने तक इसे 1,200 बार देखा जा चुका था. (ट्वीट का आर्काइव लिंक) फ़ेसबुक पर ये वीडियो नरेंद्र मोदी का बताकर वायरल है. ऑल्ट न्यूज़ की ऑफ़िशियल एंड्रॉइड ऐप पर इस वीडियो की जांच के लिए कुछ रीक्वेस्ट आई हैं.

This slideshow requires JavaScript.

फ़ैक्ट-चेक

वीडियो के फ़्रेम्स गूगल पर रिवर्स इमेज सर्च करने से हमें एक यूट्यूब वीडियो मिला. ये वीडियो 31 मई 2009 को अपलोड किया गया था. इसे बेल्लुर कृष्णमाचार सुन्दरराजा अय्यंगार और तिरुमलाई कृष्णमाचार्य का बताया गया है. कैप्शन के मुताबिक ये वीडियो साल 1938 का है. गौर करने वाली बात है कि ये वीडियो साल 1938 में शूट किया गया था जबकि नरेंद्र मोदी का जन्म 17 सितंबर 1950 को हुआ था.

आगे, सर्च करने पर 12 मई 2006 को अपलोड किया हुआ एक वीडियो मिला. इस वीडियो में वायरल वीडियो के दृश्य देखने को मिलते हैं. कैप्शन के मुताबिक योग कर रहे व्यक्ति बीकेएस अय्यंगार हैं. बीकेएस अय्यंगार प्रतिष्ठित योगगुरु हैं जिन्होंने अय्यंगार योग नाम की योगशैली के जनक के रूप में जाना जाता है.

वायरल वीडियो के स्क्रीनशॉट और यूट्यूब वीडियो की तुलना करने से वायरल वीडियो में अय्यंगार ही हैं, ये बात साफ़ हो जाती है.

बीकेएस अय्यंगार की वेबसाइट पर मौजूद उनकी तस्वीर का मिलान हमने वायरल वीडियो के स्क्रीनशॉट से किया है.

 

तो इस तरह, आधुनिक योग के पिता माने जाने वाले बीकेएस अय्यंगार के साल 1938 में योग करने का वीडियो नरेंद्र मोदी का बताकर शेयर किया जा रहा है.


ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें:

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

Donate Now

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.
Tagged: