सोशल मीडिया पर बगैर दवा दिए सुई लगाने का एक वीडियो काफ़ी शेयर किया जा रहा है. वीडियो में नर्स एक व्यक्ति को खाली सीरिंज से सुई लगाते हुए दिखती है. दावा किया जा रहा है कि ये वीडियो उत्तर प्रदेश के टीकाकरण की असलियत दिखाता है. ट्विटर हैन्डल ‘@Azeemsamajwadi1’ ने ये वीडियो ऐसे ही दावे के साथ ट्वीट किया. (आर्काइव लिंक)

फ़ेसबुक पर भी ये वीडियो उत्तर प्रदेश का बताते हुए शेयर किया गया है.

 

नर्स ने इंजेक्शन में दवाई कब भरी अगर किसी को दिखे तो जरूर बताएं। इसी तरह यूपी में टीकाकरण हो रहा है।

जय हो महाराज जी।।

Posted by Rajneesh Joshi on Monday, 28 June 2021

ऑल्ट न्यूज़ की मोबाइल ऐप पर भी इस वीडियो की सच्चाई जानने के लिए रीक्वेस्ट आयी हैं.

फ़ैक्ट-चेक

की-वर्ड्स सर्च करने पर हमें 25 जून 2021 की जनसत्ता की रिपोर्ट मिली. इस आर्टिकल का टाइटल है – “बिहारः कोरोना वैक्सीन भरने की जगह नर्स ने लगा दिया खाली इंजेक्शन, वीडियो से सामने आई गड़बड़ी, हुई कार्रवाई”. पूरा मामला कुछ यूं है कि बिहार के छपरा में एक नर्स ने वैक्सीन लेने आये एक युवक को बिना कोरोना वैक्सीन भरे ही खाली इंजेक्शन दे दिया था. इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया जिसके बाद स्वास्थ्य विभाग के कामकाज पर भी कई सवाल उठाए गए हैं.

आर्टिकल के मुताबिक, “दरअसल, जो वीडियो वायरल हो रहा है, उसमें एक नर्स इंजेक्शन को बिना कोरोना वैक्सीन से भरे ही उसे युवक को लगाती दिख रही हैं. इस दौरान सामने खड़े युवक के दोस्त ने इसका वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर अपलोड कर दिया. बताया गया है कि वीडियो वायरल करने वाले युवक ने अंजाने में ही इसे रिकॉर्ड कर के डाला था. लेकिन जब लोगों की इस पर नजर पड़ी, तो मामले ने तूल पकड़ लिया.”

ABP न्यूज़ ने भी इस घटना का वीडियो बिहार के छपरा का बताकर पोस्ट किया है.

#ViralVideo | नर्स ने वैक्सीन भरे बिना खाली सिरिंज युवक को लगाई

छपरा का ये वीडियो वायरल होने के बाद एक अधिकारी ने गुरुवार को बताया कि संबंधित नर्स को तुरंत टीकाकरण कार्य से हटा दिया गया और 48 घंटों के भीतर जवाब देने का आदेश दिया गया.

#CoronaVaccination #Bihar #COVID19Vaccine #Vaccination #BiharFightsCorona #BiharNews #Chhapra #Covid19Vaccination #Viral #VaccinationDrive #BiharHealthDept #hindinews #abpnews

Posted by ABP News on Thursday, 24 June 2021

न्यूज़18 हिन्दी की रिपोर्ट के मुताबिक, स्वास्थ्य विभाग ने इस मामले में कारवाई करते हुए खाली इन्जेक्शन लगाने वाली नर्स चंदा देवी को हटा दिया. इस मामले में चंदा ने स्पष्टीकरण देते हुए कहा कि भीड़ के कारण उनसे ये भूल हो गई थी. रिपोर्ट में बताया गया है, “मामला सामने आने के बाद जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी अजय कुमार शर्मा ने कहा है कि जिस लड़के को वैक्सीन नहीं लगा उसे दोबारा पहले डोज का वैक्सिन दिया जाएगा.”

यानी, बिहार के छपरा में एक नर्स द्वारा युवक को खाली इन्जेक्शन लगाने का वीडियो उत्तर प्रदेश का बताकर शेयर किया गया.


पश्चिम बंगाल में सब-इन्स्पेक्टर के पद पर ज़्यादातर मुसलमान उम्मीदवारों का हुआ चयन?

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

Donate Now

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.
Tagged: