बीते दिनों राजस्थान के उदयपुर में दो मुस्लिम व्यक्तियों ने टेलर कन्हैया लाल की दुकान में घुसकर बेरहमी से हत्या कर दी. पुलिस ने दोनों आरिपियों को राजसमंद ज़िले के भीम से गिरफ़्तार कर लिया. राजस्थान पुलिस ने दोनों आरोपियों की पहचान मोहम्मद रियाज़ और गौस मोहम्मद के रूप में की है. आरोपियों ने इस जघन्य अपराध को कैमरे में रिकॉर्ड किया और इसे नूपुर शर्मा के बयान का बदला बताया. ज्ञात हो कि कुछ दिनों पहले भाजपा की पूर्व प्रवक्ता नूपुर शर्मा ने पैगम्बर मोहम्मद पर विवादित टिपण्णी की थी.

ज़ी न्यूज़ ने 1 जुलाई को लाइव टीवी पर राहुल गांधी का एक वीडियो चलाते हुए कहा कि उन्होंने उदयपुर हत्याकांड के आरोपियों को ‘बच्चा’ कहा है. चैनल ने इसे ट्वीट भी किया था लेकिन बाद में डिलीट कर दिया. ऐंकर रोहित रंजन कहता है, “इस बर्बरता को देश का हर वर्ग सीधे-सीधे कह रहा है कि ये ग़लत है और इसको कड़ी से कड़ी सज़ा मिलनी चाहिए. राहुल गांधी विपक्ष के सबसे बड़े नेता के तौर पर हैं और उनका कहा सबके सामने बहुत मायने रखता है. लेकिन राहुल गांधी अगर उन आरोपियों को बच्चा कह रहे हैं और फिर सोचिये कि ये आगे क्या सन्देश लेकर जाता है…क्या कन्हैया को मारने वाला, बेरहमी से उसका क़त्ल करने वाला बच्चा था?”

भाजपा नेता, पत्रकार, व कई सोशल मीडिया यूज़र्स ने राहुल गांधी का ये वीडियो शेयर करते हुए उनपर निशाना साधा. ज़्यादातर लोगों ने ज़ी न्यूज़ का ये वीडियो शेयर करते हुए ऐसा दावा किया.

कन्नौज से भाजपा सांसद सुब्रत पाठक ने राहुल गांधी का एक वीडियो ट्वीट करते हुए दावा किया कि राहुल गांधी ने हत्यारों के बारे में कहा कि वे बच्चे हैं जिनसे क़त्ल हो जाता है. (ट्वीट का आर्काइव लिंक)

पूर्व केंद्रीय मंत्री व भाजपा नेता राजवर्धन राठौर ने वीडियो ट्वीट करते हुए दावा किया कि राहुल गांधी ने आतंकियों को बच्चा कहा है. बाद में उन्होंने ये ट्वीट डिलीट कर दिया.

बिजनौर के चांदपुर विधानसभा से विधायक कमलेश सैनी ने वीडियो ट्वीट करते हुए ऐसा ही दावा किया. (आर्काइव लिंक)

भाजपा प्रवक्ता अजय शेरावत, भाजपा समर्थक अभिजीत अय्यर मित्रा, हिमांशु मिश्रा, सुदर्शन न्यूज़ के सागर कुमार, ज़ी राजस्थान के पत्रकार क़मर, आरएसएस की मुखपत्रिका Organiser से जुड़े निशांत आज़ाद, भाजपा समर्थक मेजर सुरेन्द्र पुनिया ऐसा दावा करने वालों की लिस्ट में शामिल हैं.

This slideshow requires JavaScript.

फ़ैक्ट-चेक

हमने देखा कि कांग्रेस के नेताओं ने वायरल दावे को फ़र्ज़ी बताया था. कई लोगों ने वायरल ट्वीट्स के रिप्लाय में लिखा था कि राहुल गांधी ने हाल ही में केरल में उनके दफ्तर पर हमला करने वालों को बच्चा कहा था.

ऑल्ट न्यूज़ ने देखा कि वायरल वीडियो में न्यूज एजेंसी ANI की माइक दिख रही है. हमने ट्विटर पर ANI के ट्वीट्स सर्च किये तो हमें वहां इसी वीडियो का एक फ्रेम मिला. इसमें राहुल गांधी वायनाड के ऑफिस में तोड़फोड़ करने पर बयान दे रहे थे.

वायरल वीडियो में कुछ रीजनल मीडिया चैनल भी दिखाई दे रहे हैं. हमने राहुल गांधी व उनके ऑफिस से जुड़े कुछ की-वर्ड्स मलयालम भाषा में ट्रांस्लेट करके यूट्यूब पर सर्च किया. हमें ये पूरा वीडियो मनोरमा न्यूज़ के यूट्यूब चैनल पर मिला. इसमें राहुल गांधी कह रहे हैं कि जिन लड़कों ने उनके ऑफिस में तोड़-फोड़ की वो ‘बच्चे’ हैं. आगे उन्होंने कहा कि ये अच्छा नहीं है, लड़कों ने गैर-ज़िम्मेदाराना हरकत की है.

कुल मिलाकर, ज़ी न्यूज़ ने राहुल गांधी के बारे में झूठा दावा किया कि उन्होंने उदयपुर घटना के आरोपियों को ‘बच्चा’ कहा. इसके बाद कई भाजपा नेताओं, पत्रकारों और सोशल मीडिया यूज़र्स ने इस दावे को सोशल मीडिया पर शेयर किया. असल में राहुल गांधी ने उनके वायनाड ऑफिस पर हमला करने वालों को बच्चा कहा था. कथित तौर पर छात्र संगठन SFI के कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस दफ़्तर पर हमला किया था.

बाद में ज़ी न्यूज़ ने इस ग़लत ख़बर के लिए माफ़ी मांगी. ये ट्वीट रोहित रंजन ने किया है जिन्होंने DNA में राहुल गांधी का वीडियो ग़लत संदर्भ में चलाया था.

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.

Tagged:
About the Author

Abhishek is a journalist at Alt News.