नहीं, अरविंद केजरीवाल इस वीडियो में नशे की हालत में नहीं बोल रहे हैं

दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी (AAP) के हेड अरविंद केजरीवाल का एक वीडियो विभिन्न सोशल मीडिया प्लेटफॉर्मों पर व्यापक रूप से शेयर किया जा रहा है। इस वीडियो में कार में बैठे केजरीवाल कैमरे के सामने बोल रहे हैं। उनकी आवाज में लड़खड़ाहट सुनाई देती है। इस वीडियो के साथ किए गए दावे के अनुसार केजरीवाल शराब के नशे में हैं। यह वीडियो लगभग एक मिनट का है।

उपरोक्त ट्वीट को एक यूजर @Being_Humor ने 7 जनवरी को पोस्ट किया है, जिसे अबतक 1100 बार रीट्वीट किया गया है। इस वीडियो को हैशटैग #DarubaazKejri के साथ पोस्ट किया गया है। यही वीडियो एक अन्य यूजर @himmat0606 और हैंडल @UnPaidTimes द्वारा भी पोस्ट किया गया है। वीडियो में ‘टिक टॉक’ (Tik Tok) का वाटरमार्क है।

इस वीडियो को फेसबुक पर भी व्यापक रूप से प्रसारित किया गया है, जिसमें केजरीवाल की निंदा की गई है। उपरोक्त स्क्रीनशॉट फेसबुक ग्रुप ‘वी सपोर्ट नरेंद्र मोदी’ का है, जहां एक यूजर ने इसे पोस्ट किया है। यह वीडियो एक अन्य ग्रुप ‘अर्नब गोस्वामी’ में भी पोस्ट किया गया है, जिसे 200 से ज्यादा बार शेयर किया गया है।

ऑल्ट न्यूज़ ने पाया कि यह वीडियो सबसे पहले एक यूजर राजन मदान ने फेसबुक पर पोस्ट किया था। शेयर किए गए वीडियो पर ‘@rkumarmadaan‘ का वाटरमार्क दिया गया है। दोनों प्रोफाइलों को देखने पर पता चलता है कि दोनों एक ही व्यक्ति हैं। ट्विटर पर इस वीडियो का सबसे शुरुआती उदाहरण हमें 4 जनवरी का मिला।

भ्रम पैदा करने के लिए मूल वीडियो को धीमा किया

इसका मूल वीडियो खुद अरविंद केजरीवाल द्वारा उनके आधिकारिक फेसबुक पेज पर पोस्ट किया गया था। केजरीवाल ने यह लाइव वीडियो 29 जनवरी, 2017 को पोस्ट किया था, जब वे उस वर्ष हुए विधानसभा चुनाव के दौरान अपनी पार्टी के लिए पंजाब में चुनाव प्रचार कर रहे थे। मूल वीडियो यहां नीचे दिया गया है।

 

कैप्टन और बादल साहेब बोल रहे हैं की ये उनका आख़री चुनाव है। जिसका आख़री चुनाव हो उसे कभी वोट नहीं देना चाहिए

Posted by Arvind Kejriwal on Saturday, 28 January 2017

जैसा कि देखा और सुना जा सकता है, मूल वीडियो की आवाज में वायरल वीडियो जैसा कुछ नहीं है, जिसे जानबूझकर धीमा कर दिया गया था ताकि यह लगे कि केजरीवाल नशे में धुत्त हैं। मूल वीडियो लगभग एक मिनट 50 सेकेंड लंबा है।

कई सोशल मीडिया यूजर्स ने विभिन्न प्लेटफॉर्मों पर शेयर किया

कई सोशल मीडिया यूजर्स ने उस वीडियो को शेयर किया, जिससे यह वायरल हो गया। कई यूजर्स ने इसे #Viral_SMS हैशटैग के साथ पोस्ट किया जिससे पता चलता है कि यह मैसेजिंग प्लेटफॉर्मों पर भी शेयर किया जा रहा है।

फेसबुक, ट्विटर और मैसेजिंग एप्प्स के अलावा, यह वीडियो यूट्यूब पर भी पोस्ट किया गया है।

सोशल मीडिया में केजरीवाल को गलत सूचनाओं के सहारे नियमित निशाना बनाया जाता रहा है। इससे पहले कश्मीर पर उनके नाम से गलत उद्धरण व्यापक रूप से प्रसारित किया गया था। एक अन्य घटना में, पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की मृत्यु वाले दिन अपना जन्मदिन मनाने के लिए उन्हें झूठे तरीके से निशाना बनाया गया था।

 

योगदान करें!!
सत्ता को आइना दिखाने वाली पत्रकारिता जो कॉरपोरेट और राजनीति के नियंत्रण से मुक्त भी हो, वो तभी संभव है जब जनता भी हाथ बटाए. फेक न्यूज़ और गलत जानकारी के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद कीजिये. डोनेट करिये.

Donate Now

तत्काल दान करने के लिए, ऊपर "Donate Now" बटन पर क्लिक करें। बैंक ट्रांसफर / चेक / डीडी के माध्यम से दान के बारे में जानकारी के लिए, यहां क्लिक करें

Send this to a friend