वरिष्ठ पत्रकार और आज तक के ऐंकर रोहित सरदाना का 30 अप्रैल 2021 को हार्ट अटैक के कारण निधन हो गया. वो कोरोना का भी इलाज करवा रहे थे. इस घटना के बाद सोशल मीडिया पर उनके चाहनेवालों के बीच शोक का माहोल देखने को मिला. इस बीच एक व्यक्ति के कोरोना महामारी की भयावह स्थिति के बारे में रोते हुए बात करने का वीडियो शेयर किया जा रहा है. वीडियो में ये व्यक्ति सरकार की आलोचना करते हुए दिखता है. दावा किया जा रहा है कि ये वीडियो पत्रकार रोहित सरदाना ने अपने आख़िरी वक़्त में रिकॉर्ड किया था.

ये वीडियो व्हाट्सऐप पर वायरल है. ऑल्ट न्यूज़ के व्हाट्सऐप नंबर (+91 76000 11160) और ऑफ़िशियल मोबाइल ऐप (Android, iOS) पर भी इस वीडियो की सच्चाई जानने के लिए कई रीक्वेस्ट मिली हैं.

This slideshow requires JavaScript.

फ़ेसबुक यूज़र मदन लाल नैन चौधरी ने ये वीडियो रोहित सरदाना के अंतिम समय का बताकर पोस्ट किया है. (आर्काइव लिंक)

 

रोहित सरदाना के अंतिम शब्द

Posted by Madan Lal Nain Choudhary on Saturday, 1 May 2021

एक और फ़ेसबुक यूज़र ने ये वीडियो रोहित सरदाना के आखिरी शब्द का बताते हुए पोस्ट किया है. (आर्काइव लिंक)

 

रोहित सरदाना के अंतिम बोल👆

Posted by Asif Shaikh on Saturday, 1 May 2021

ट्विटर और फ़ेसबुक पर ये वीडियो काफ़ी शेयर किया जा रहा है.

फ़ैक्ट-चेक

वीडियो में एक पीले रंग का लोगो दिख रहा है जिसपर ‘दो बोल’ लिखा हुआ है.

इसके चलते, यूट्यूब पर सर्च करने से हमें ये वीडियो 26 अप्रैल 2021 को अपलोड किया हुआ मिला. कैप्शन में इस वीडियो को पत्रकार नवीन कुमार का बताया गया है.

इसके अलावा, हिन्दी न्यूज़ पोर्टल बोलता हिंदुस्तान ने भी 1 मई को ये वीडियो पत्रकार नवीन कुमार का बताते हुए ट्वीट किया. इस ट्वीट में नवीन कुमार को टैग भी किया गया है. पत्रकार नवीन कुमार की ट्विटर प्रोफ़ाइल आप यहां पर देख सकते हैं.

वीडियो में दिख रहे व्यक्ति पत्रकार नवीन कुमार ही हैं. ये बात आप नीचे तस्वीर में भी दिख सकते हैं.

पत्रकार अभिसार शर्मा और रणविजय सिंह ने भी ये वीडियो पत्रकार नवीन कुमार का बताते हुए ट्वीट किया है.

कुल मिलाकर, रोहित सरदाना की मौत के बाद कोविड से जूझ रहे पत्रकार नवीन कुमार का वीडियो रोहित सरदाना का बताते हुए सोशल मीडिया पर शेयर किया गया.


हरियाणा के करनाल में हो रही वेब सीरीज़ की शूटिंग के दृश्य को लोगों ने असली घटना बताकर शेयर किया :

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

Donate Now

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.
Tagged: