बक्सर के चौसा में पावर प्लांट के लिए किसानों से भूमि अधिग्रहण किया गया था. किसान इस अधिग्रहित भूमि उचित मुआवजे को लेकर प्रदर्शन कर रहे थे. बीते दिनों पुलिस द्वारा रात के समय में प्रदर्शन कर रहे किसानों के घर में घुसकर पीटने की रिपोर्ट आई. जिसके बाद उग्र किसानों ने पुलिस के वाहन फूंक दिए. स्थिति को नियंत्रण करने के लिए पुलिस को हवाई फ़ायरिंग भी करनी पड़ी थी. घटना के अगले दिन जब केंद्रीय मंत्री और भाजपा नेता अश्विनी चौबे चौसा पहुंचे थे तो उन्हें पीड़ित किसानों का आक्रोश भी झेलना पड़ा था. किसानों ने उनके खिलाफ जमकर नारे भी लगाए थे जिससे उन्हें सभा छोड़कर वापस जाना पड़ा था. इसके बाद अश्विनी चौबे ने बक्सर के अंबेडकर चौक पर किसानों पर हुए अत्याचार के विरोध में मौन व्रत और उपवास रखा था. उन्होंने धरने के वक्त भीम आर्मी से जुड़े लोगों द्वारा उनपर हमला करने का आरोप लगाया. इसी हमले में आरोपियों की गिरफ़्तारी करने के लिए आयोजित आक्रोश मार्च के दौरान बक्सर के भगत सिंह पार्क में प्रवेश करने के दौरान भाजपा नेता परशुराम चतुर्वेदी को दिल का दौरा पड़ा और उनकी मृत्यु हो गई.

इसी संदर्भ में एक वीडियो वायरल हुआ जिसमें भाजपा नेता और सांसद अश्विनी चौबे प्रेस कॉन्फ्रेंस में रोते हुए दिखाई दे रहे हैं. इसे शेयर करते हुए दावा किया जा रहा है कि अश्विनी चौबे किसानों की बात करते हुए रोने लगे.

NDTV ने वीडियो ट्वीट करते हुए दावा किया कि केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे किसानों की बात करते हुए रोने लगे. (आर्काइव लिंक)

पत्रकार प्रभाकर कुमार मिश्रा ने NDTV के वीडियो को क्वोट ट्वीट करते हुए लिखा “किसानों के लिए केंद्रीय मंत्री के इन आँसुओं को देखकर सीना छलनी हो रहा है! ” (आर्काइव लिंक)

जागरण के पत्रकार विनीत त्रिपाठी ने NDTV के वीडियो को क्वोट ट्वीट करते हुए कहा कि विपक्ष अच्छे से काम नहीं कर रही है इसलिए किसानों की ऐसी हालत है और एक केंद्रीय मंत्री को उनके लिए रोना पड़ रहा है. (आर्काइव लिंक)

फ़ैक्ट-चेक

हमने अश्विनी चौबे के प्रेस कॉन्फ्रेंस का वीडियो यूट्यूब पर सर्च किया. हमें Live Cities के यूट्यूब चैनल पर एक वीडियो मिला. इसमें अश्विनी चौबे कह रहे हैं कि इस आंदोलन में कई दिनों से लगातार उनके साथ साये की तरह रहने वाले भाजपा नेता परशुराम चतुर्वेदी का दिल का दौरा पड़ने की वजह से मौत हो गया. ये बात रखते हुए वे फूट-फूट कर रोने लगते हैं.

हमें ऐसी कई न्यूज़ रिपोर्ट्स भी मिलीं जिसमें साफ तौर पर कहा गया है कि अश्विनी चौबे को प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान ही उनके करीबी परशुराम चतुर्वेदी का दिल का दौरा पड़ने की वजह से मौत की ख़बर मिली. आजतक ने वीडियो भी ट्वीट किया है जिसमें बताया गया है कि भाजपा नेता परशुराम चतुर्वेदी के निधन की ख़बर सुनकर अश्विनी चौबे प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान रोने लगे.

कुल मिलाकर, प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान अश्विनी चौबे अपने करीबी रहे भाजपा नेता परशुराम चतुर्वेदी के निधन की खबर सुनकर भावुक हो गए और वहीं फूट-फूट कर रोने लगे. हालांकि इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में रामचारित मानस, किसानों की समस्या, एम्स, इत्यादि जैसे मुद्दों पर बात की गई, लेकिन इसका केंद्र किसानों से जुड़ी समस्या थी इसलिए इस प्रेस कॉन्फ्रेंस के वीडियो को भ्रामक दावे के साथ शेयर किया गया कि केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे किसानों की बात करते हुए रोने लगे.

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.

Tagged:
About the Author

Abhishek is a journalist at Alt News.