एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल है जिसमें मंच पर एक व्यक्ति उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कान में कुछ कहने के लिए आता है. लेकिन मुख्यमंत्री उसे डांटकर बैठने को कह देते हैं. ये वीडियो शेयर करते हुए दावा किया जा रहा है कि कड़े लहजे में जिस शख्स को योगी आदित्यनाथ बैठने को कह रहे हैं, वो उत्तर प्रदेश के उप-मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य हैं.

उत्तर प्रदेश कांग्रेस के ऑफ़िशियल हैंडल ने इसपर तंज कसते हुए लिखा, “पहले स्टूल पर बिठाया, अब डांट कर पीछे बिठाया. कौन है ये चुप मुख्यमंत्री जिसको योगी जी इतना अपमानित कर रहे हैं?” (ट्वीट का आर्काइव लिंक) यूपी कांग्रेस ने सीधे तौर पर केशव प्रसाद मौर्य का नाम नहीं लिया, लेकिन कैप्शन में स्टूल, चुप मुख्यमंत्री शब्दों का इस्तेमाल किया.

आम आदमी पार्टी से जुड़ी प्रियंका चौहान ने ये वीडियो ट्वीट करते हुए लिखा, “ये इज़्ज़त है केशव प्रसाद मौर्या (उप्र के डिप्टी CM ) की ढोंगी बाबा के आगे” (आर्काइव लिंक)

ट्विटर यूज़र सुजीत सिंह ने भी ये वीडियो ट्वीट करते कहा कि केशव प्रसाद मौर्य की बेइज्ज़ती हो गयी. (आर्काइव लिंक)

फ़ैक्ट-चेक

गूगल पर की-वर्ड्स सर्च करने पर ऑल्ट न्यूज़ को आज तक की एक रिपोर्ट मिली. रिपोर्ट के मुताबिक, वीडियो में दिख रहे शख्स भाजपा नेता विभ्राट चंद कौशिक हैं. और ये घटना बांसगांव विधानसभा क्षेत्र में हुए एक खेल प्रोग्राम की है जहां योगी आदित्यनाथ मुख्य अतिथि के रूप में आए थे.

ऑल्ट न्यूज़ ने मामले की असलियत जानने के लिए विभ्राट चंद कौशिक के फ़ेसबुक प्रोफ़ाइल चेक की. हमें उस कार्यक्रम की कुछ तस्वीरें मिलीं. यानी, विभ्राट चंद कौशिक उस कार्यक्रम में मौजूद थे.

Posted by Vibhrat Chand Kaushik on Sunday, 28 November 2021

यूट्यूब पर की-वर्ड्स सर्च करने पर हमें उत्तर प्रदेश सरकार के यूट्यूब चैनल पर उस दिन का एक वीडियो मिला. वीडियो में 10 मिनट 5 सेकंड पर वायरल वीडियो का हिस्सा दूसरे ऐंगल से दिखता है. इसमें साफ़ देखा जा सकता है कि विभ्राट चंद कौशिक अपनी कुर्सी से उठकर योगी आदित्यनाथ के कान में कुछ कहना चाह रहे थे फिर मुख्यमंत्री ने उन्हें बैठने को कहा था.

पत्रकार मनीष पांडेय ने 30 नवम्बर को ये वीडियो ट्वीट करते हुए लिखा था कि भाजपा नेता विभ्राट चंद कौशिक को सार्वजनिक रूप से फटकार लगाया गया.

इस मामले को लेकर ऑल्ट न्यूज ने भाजपा नेता विभ्राट चंद कौशिक से बात की. उन्होंने बताया कि वीडियो में वही हैं, केशव प्रसाद मौर्य नहीं. उन्होंने बताया कि वो योगी आदित्यनाथ को स्टेडियम बनाने के बारे में कुछ कहना चाह रहे थे. तभी CM ने उन्हें बैठने को कह दिया. लेकिन उनका वीडियो अलग-अलग दावे के साथ सोशल मीडिया पर शेयर किया जा रहा है. उन्होंने ये भी बताया कि केशव प्रसाद मौर्य इस कार्यक्रम में मौजूद नहीं थे.

यानी, वायरल वीडियो में मंच पर योगी आदित्यनाथ ने भाजपा नेता विभ्राट चंद कौशिक को डांटा था न कि उत्तर प्रदेश के उप-मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य को. कांग्रेस सहित कई लोगों ने ये वीडियो ग़लत दावे के साथ शेयर किया.

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.

Tagged:
About the Author

Abhishek is a journalist at Alt News.