सोशल मीडिया पर लड़की की आधी जली हुई लाश की एक तस्वीर वायरल है. दावा किया जा रहा है कि ये लड़की राजस्थान की 13 वर्षीय पायल जैन है जिसका बलात्कार उसी तहसील के रहनेवाले रिज़वान अन्सारी ने किया. तस्वीर के साथ शेयर किये जा रहे मेसेज के मुताबिक, रिज़वान ने पायल का बलात्कार कर उसकी लाश को जला दिया. बता दें कि ये तस्वीर हाल ही में हाथरस घटना के बाद शेयर हो रही है जिसने पूरे देश में कई जगह पर प्रदर्शनों को हवा दी. फ़ेसबुक यूज़र अशोक सिंह ने ये तस्वीर इसी दावे के साथ पोस्ट की. आर्टिकल लिखे जाने तक इसे 1,700 बार शेयर किया गया है. वायरल तस्वीर की संवेदनशीलता को देखते हुए हम इसे आर्टिकल में शामिल नहीं कर रहे हैं.

फ़ेसबुक ग्रुप ‘आरएसएस समर्थक Group’ में भी ये तस्वीर इसी दावे से शेयर हुई है. इस पोस्ट को आर्टिकल लिखे जाने तक 1,100 बार शेयर किया गया है.

ट्विटर पर भी ये तस्वीर इसी दावे से वायरल है.

फ़ैक्ट-चेक

गूगल रिवर्स इमेज सर्च करने पर हमें गौरव पांधी का 2 अक्टूबर 2020 का एक ट्वीट मिला. इस ट्वीट में वायरल तस्वीर के अलावा अखबार की एक क्लिप भी शेयर की गई है. ट्वीट में शामिल 30 सितंबर के इंदौर समाचार की क्लिप के मुताबिक, ये घटना मध्य प्रदेश में धार ज़िला के गंधवानी थाना क्षेत्र में आने वाले मनावर गांव की है. इंदौर समाचार की इस ख़बर के लिखे जाने तक पुलिस इस महिला के बारे में जांच कर रही थी.

की-वर्ड्स सर्च करने पर दैनिक भास्कर की एक रिपोर्ट मिली. इस रिपोर्ट के मुताबिक, महिला से पीछा छुड़ाने के लिए उसके प्रेमी ने अपने दोस्त के साथ मिलकर महिला को गोली मार दी. बाद में उन्होंने महिला की लाश को जला दिया. इस रिपोर्ट में आरोपियों का नाम गोविन्द और सोहन बताया गया है. नई दुनिया और ज़ी न्यूज़ ने भी इस घटना के बारे में खबर दी है.

आगे, इस मामले की हकीकत जानने के लिए ऑल्ट न्यूज़ ने धार के एसपी आदित्य प्रताप सिंह से बात की. एसपी ने हमें बताया कि इस घटना में कोई साम्प्रदायिक ऐंगल नहीं है. आरोपी और पीड़िता, दोनों ही भील समुदाय से हैं. उन्होंने बताया कि इस मामले में पुलिस ने सोहन नाम के एक आरोपी को गिरफ़्तार किया है. जबकि गोविंद नाम का दूसरा आरोपी अभी भी फरार है.

धार के एसपी की प्रेस कॉन्फ्रेंस का एक वीडियो भी है. वीडियो में एसपी इस पूरी घटना के बारे में बताते हैं.

इस तस्वीर की सच्चाई 5 अक्टूबर की द क्विन्ट की एक फ़ैक्ट-चेक रिपोर्ट में भी बताई गई है.

इस तरह, मध्यप्रदेश के धार ज़िले में आपसी विवाद के चलते एक महिला को मारकर जला देने की घटना की तस्वीर सोशल मीडिया पर सांप्रदायिक रंग देकर शेयर की गई. तस्वीर शेयर करते हुए ये झूठा दावा किया गया कि राजस्थान में एक मुस्लिम व्यक्ति ने 13 वर्षीय हिन्दू का बलात्कार कर उसे जला दिया. उत्तर प्रदेश, जो कि रेप की घटनाओं की वजह से ख़बरों में है, भाजपा शासित प्रदेश है. इसके ‘काउंटर’ में तस्वीर के साथ किया गया मनगढ़ंत दावा कांग्रेस शासित प्रदेश का नाम लेकर किया जा रहा है. इससे पहले पंजाब में एक सड़क दुर्घटना में मारी गयी पंजाब की महिला कांस्टेबल की तस्वीर को भी रेप और हत्या का ऐंगल देकर सोशल मीडिया पर शेयर किया गया था.

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.