सोशल मीडिया पर 1 मिनट 34 सेकेंड का एक CCTV क्लिप काफी वायरल है. इस वीडियो क्लिप में एक महिला को कार से नीचे उतरते हुए देखा जा सकता है. और जैसे ही कार वहां से निकलती है, काली टोपी पहना एक शख्स उस महिला पर चाकू से हमला कर देता है. हमले के तुरंत बाद महिला नीचे गिर जाती है. इसके बाद हमलावर महिला को सड़क से किनारे करता है. ये क्लिप इस दावे के साथ शेयर की जा रही है कि ये मुंबई के अंधेरी की घटना है. इसे “#HatmanKillerInMumbai” टेक्स्ट के साथ शेयर किया जा रहा है.

ट्विटर यूज़र संदीप किशोर ने ये फ़ुटेज शेयर करते हुए लिखा, “अंधेरी के एक इलाके से एक लीक CCTV फ़ुटेज में एक बहुत ही भयानक घटना सामने आई, जहां एक काली हैट में एक व्यक्ति को एक महिला की बेरहमी से हत्या करते देखा! इसे #HatmanKillerInMumbai कहा जा रहा है. सतर्क रहें सभी.” आर्टिकल लिखे जाने तक इस यूज़र ने ये ट्वीट डिलीट कर दिया था.

ट्विटर बायो में खुद को भारतीय राष्ट्रीय छात्र संघ (NSUI) के राष्ट्रीय सचिव बतानेवाले हुसैन सुल्तानिया ने भी इसी तरह के कैप्शन के साथ ये वीडिय ट्वीट किया. (आर्काइव लिंक)

न्यूज़ 18 के पत्रकार अंकित कुमार ने भी ‘#HatmanKillerInMumbai’ के साथ ये क्लिप ट्वीट की .

इस क्लिप को शेयर करने वाले अन्य लोगों में जफ़र सैफी, वसीम अकरम त्यागी, जिब्रान उद्दीन और मोहम्मद अल्ताफ़ अली शामिल हैं.

This slideshow requires JavaScript.

इंडिया टीवी ने भी बिना किसी अतिरिक्त जानकारी के ट्वीट के आधार पर रिपोर्ट पब्लिश किया.

फ़ैक्ट-चेक

हमने देखा कि CCTV फ़ुटेज में “5-11-22” की तारीख है. यानी, ये क्लिप कम से कम एक हफ्ते पुरानी है. लेकिन हमें मुंबई में इस तरह के अपराध की कोई विश्वसनीय ख़बर नहीं मिली. इससे ये पता चलता है कि शायद फ़ुटेज में दी गई तारीख ग़लत हो सकती है. मीडिया से बात करते हुए भी मुंबई पुलिस ने साफ़ किया कि शहर में ऐसी कोई हत्या नहीं हुई है. पुलिस के इस बयान को आजतक ने भी रिपोर्ट किया था.

ABP मांझा की रिपोर्ट का अंग्रेज़ी अनुवाद

वीडियो की जांच करते समय हमने कुछ चीज़ें नोटिस कीं जो असामान्य लग रही थीं:

  1. जब वीडियो चला रहे व्यक्ति को ‘किलर’ के उपर ज़ूम इन करने के लिए कहा जाता है तो उसे ऐसा करने में बस एक सेकेंड का टाइम लगता है. और ज़ूम किए गए फ़ुटेज बिल्कुल भी पिक्सलेटेड नहीं लगते हैं. वीडियो का ये हिस्सा भी इसकी पहली क्वालिटी के जैसा ही दिखता है.
  2. 45 सेकेंड पर, कंप्यूटर ऑपरेटर को कार के डैशकैम फ़ुटेज को चलाने के लिए कहा जाता है. दोबारा, ये फ़ुटेज एक सेकंड के भीतर प्ले हो जाता है.

ऑल्ट न्यूज़ ने वायरल फ़ुटेज में पहले कुछ सेकंड में लिखे शब्द ‘मारिच’ पर भी गौर किया. ये हिंदू महाकाव्य रामायण में एक राक्षस का नाम है.

इन बातों को ध्यान में रखकर हमने ट्विटर पर की-वर्ड्स सर्च किया जिससे हमें देवांग त्रिवेदी का एक ट्वीट मिला. इस ट्वीट के मुताबिक, वायरल क्लिप आगामी फ़िल्म मारीच के लिए एक प्रचार रणनीति है.

मारीच, अभिनेता/निर्माता तुषार कपूर की आगामी फ़िल्म है जिसका प्रोमो तुषार कपूर ने 13 सितंबर को ट्वीट किया था. इंडिया टुडे के मुताबिक, तुषार कपूर फ़िल्म में एक पुलिस वाले की भूमिका निभाएंगे. ‘मारीच’ शब्द की वर्तनी और सार्वजनिक डोमेन में मौजूद जानकारी इस बात की ओर इशारा करते हैं कि वायरल क्लिप शायद इस फ़िल्म के लिए प्रचार रणनीति का हिस्सा है.

वायरल क्लिप के बारे में और जानकारी जुटाने के लिए ऑल्ट न्यूज़ ने ई-मेल के जरिए ‘NH Studioz’ से संपर्क किया. तुषार कपूर के सोशल मीडिया मैनेजर को भी इस बारे में मैसेज रिक्वेस्ट भेजी गई. आर्टिकल लिखे जाने तक हमें उनकी तरफ से कोई जवाब नहीं मिला है. अगर हमें कोई जवाब मिलता है तो इस आर्टिकल को अपडेट किया जाएगा.

ऑल्ट न्यूज़ ने इस वीडियो क्लिप को शेयर करने वाले एक व्यक्ति से संपर्क किया. उन्होंने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि उन्होंने इसे पेड प्रमोशन के हिस्से के रूप में पोस्ट किया था. हालांकि, वो ये पता नहीं लगा सके कि ये फ़िल्म ‘मारीच’ के लिए है या नहीं. बाद में उन्होंने ये वीडियो हटा दिया था.

कुल मिलाकर, काली टोपी पहने एक व्यक्ति द्वारा महिला पर हमले का CCTV फ़ुटेज आने वाली फ़िल्म ‘मारीच’ से जुड़ा हुआ है. मुंबई पुलिस ने स्पष्ट किया है कि शहर में ऐसी कोई हत्या नहीं हुई है.

ऑल्ट न्यूज़, पहले भी ऐसे कई स्क्रिप्टेड CCTV वीडियोज़ की जांच चुका है. ऐसे फुटेज के बारे में ऑल्ट न्यूज़ द्वारा लिखे गए आर्टिकल्स आप यहां पढ़ सकते हैं.

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.

Tagged:
About the Author

Kalim is a journalist with a keen interest in tech, misinformation, culture, etc