कंगना रानौत के BJP के लिए प्रचार करने और स्कूल खोले जाने की ख़बर वाले फ़र्ज़ी ग्राफ़िक वायरल

ABP न्यूज़ के 2 कथित ग्राफ़िक्स सोशल मीडिया पर काफ़ी शेयर हो रहे हैं.

पहली ग्राफ़िक प्लेट

ABP न्यूज़ के पहले ग्राफ़िक प्लेट में ब्रेकिंग न्यूज़ बताते हुए स्क्रीन पर ये ख़बर दिख रही है- “बिहार चुनाव में भाजपा का समर्थन करेगी कंगना रनौत.” ट्विटर यूज़र नीतू त्रिवेदी ने ये स्क्रीनशॉट शेयर किया है जिसे आर्टिकल लिखे जाने तक 900 से ज़्यादा बार लाइक किया गया है. (ट्वीट का आर्काइव लिंक)

अभिनेत्री मोना अम्बेगांवकर ने नीतू त्रिवेदी के ट्वीट को कोट-ट्वीट किया है. (आर्काइव लिंक)

ABP न्यूज़ का ये कथित ग्राफ़िक फ़ेसबुक पर वायरल है.

दूसरी ग्राफ़िक प्लेट

ABP न्यूज़ की दूसरे ग्राफ़िक प्लेट में बताया गया है कि साल 2021 तक सरकार स्कूल-कॉलेज नहीं खोलेगी. इस ग्राफ़िक में प्रधानमंत्री मोदी की एक तस्वीर भी शामिल है. ग्राफ़िक में केन्द्रीय शिक्षा विभाग के हवाले लिखा गया है, “स्कुल व कॉलेज अब नहीं खुलेंगे। 2021 में खुल सकते हैं स्कुल व कॉलेज। बड़ी ख़बर। 2 हफ्ते में 97 हज़ार विधार्थी संक्रमित हुएं। :- केन्द्रीय शिक्षा विभाग,”

ये ग्राफ़िक भी फ़ेसबुक पर वायरल है.

फ़ैक्ट-चेक

पहला ग्राफ़िक

जांच में मालूम हुआ कि ये ग्राफ़िक प्लेट ABP न्यूज़ के ब्रॉडकास्ट की नहीं बल्कि बनावटी है.

इसे आप नीचे नोट किये गए कुछ पॉइंट्स पर गौर कर देख सकते हैं.

1. हमें ऐसा कोई ABP न्यूज़ का ब्रॉडकास्ट नहीं मिला जिसमें मीडिया आउट्लेट ने ये खबर चलाई हो. हकीकत में, किसी भी मीडिया संगठन ने कंगना रानौत के बिहार चुनाव में भाजपा का प्रचार करने की खबर शेयर नहीं की है.

2. वायरल ग्राफ़िक प्लेट में दिखने वाले फ़ॉन्ट ABP न्यूज़ के असली ब्रॉडकास्ट में इस्तेमाल किये गए फ़ॉन्ट से नहीं मिलते हैं.

3. वायरल ग्राफ़िक के वाक्य में अनावश्यक जगह पर अर्द्धविराम (सेमी कोलन) दिखाई देता है.

दूसरा ग्राफ़िक

इस दूसरी ग्राफ़िक प्लेट को ABP न्यूज़ के असली ब्रॉडकास्ट के ग्राफ़िक प्लेट के साथ कम्पेयर करने पर वायरल ग्राफ़िक के बनावटी होने की बात साफ़ हो गई. वायरल ग्राफ़िक और ABP न्यूज़ के असली ग्राफ़िक के फ़ॉन्ट अलग-अलग हैं. इसके अलावा, वायरल तस्वीर में 2 बार ‘अभी नहीं’ का इस्तेमाल किया गया है. तस्वीर में दिखने वाला पहला वाक्य भी अधूरा है. इसके अलावा स्कूल को ‘स्कुल’ लिखा गया है.

हेल्थ मिनिस्ट्री ने 21 सितंबर के बाद स्कूल, कॉलेज और हायर एडुकेशन के इंस्टिट्यूट खोलने की मंज़ूरी दी है. द इंडियन एक्स्प्रेस की एक रिपोर्ट के मुताबिक, “स्कूल के लिए कक्षा 9 से 12 के बच्चों को ऑफ़लाइन क्लास अटेन्ड करने का ऑप्शन दिया जाएगा. स्कूल सिर्फ़ उन स्टूडेंट्स के लिए खोले जाएंगें जिनके पास ऑनलाइन क्लास अटेंड करने की सुविधा नहीं हैं या उन्हें इसमें परेशानी हो रही हैं. कॉलेजेज़ में भी PhD, पोस्ट ग्रेजुएट, कौशल संस्थानों के छात्र और जिन छात्रों के प्रैक्टिकल्स होते हैं, उन्हें ही पहले कॉलेज कॅम्पस में बुलाया जाएगा.” हेल्थ मिनिस्ट्री ने और भी कुछ गाइडलाइन जारी की हैं.

इस तरह, ABP न्यूज़ की दोनों ग्राफ़िक प्लेट्स फ़र्ज़ी हैं. ये बात ABP न्यूज़ के वरिष्ठ पत्रकार ने हमें कन्फ़र्म कर बताई है. इससे पहले भी एक फ़र्ज़ी ग्राफ़िक प्लेट वायरल हुई थी जिसमें उत्तर-प्रदेश सरकार द्वारा इस साल के छात्रों को स्कॉलरशिप नहीं दी जाने की गलत ख़बर थी.

योगदान करें!!
सत्ता को आइना दिखाने वाली पत्रकारिता जो कॉरपोरेट और राजनीति के नियंत्रण से मुक्त भी हो, वो तभी संभव है जब जनता भी हाथ बटाए. फेक न्यूज़ और गलत जानकारी के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद कीजिये. डोनेट करिये.

Donate Now

तत्काल दान करने के लिए, ऊपर "Donate Now" बटन पर क्लिक करें। बैंक ट्रांसफर / चेक / डीडी के माध्यम से दान के बारे में जानकारी के लिए, यहां क्लिक करें

Send this to a friend