तिरंगा लहराते हुए भारतीय सैनिकों की वायरल तस्वीर कैलाश पर्वत की नहीं बल्कि फ़ोटोशॉप्ड है

सोशल मीडिया पर वायरल हो रही तस्वीर के साथ दावा किया गया है – “कैलाश पर्वत श्रृंखला की भारत ने 60-70 किलोमीटर तक का वह पूरा क्षेत्र अपने अधिकार में ले कर ऐसी चोटियों पर कब्जा कर लिया है जिसके दम पर चीन हर बार कैलाश मानसरोवर की यात्रा रोकने की धमकी देने के साथ ही आंखें दिखाता था।वहां भारतीय सैनिकों ने लगाए हर हर महादेव के नारे.” तस्वीर में सेना के जवान दिख रहे हैं जिसमें से एक के हाथ में तिरंगा है और पीछे कुछ पहाड़ हैं.

ट्विटर अकाउंट  @RajSriv43245377 के इस ट्वीट को 300 से ज़्यादा बार रीट्वीट और करीब 600 बार लाइक किया गया.

ये तस्वीर भारतीय सेना के 29 अगस्त की रात को चुशूल बाउल के सामने कैलाश पर्वत श्रृंखला को अपने कब्ज़े में लेने की ख़बर के बाद शेयर की जा रही है.

ट्विटर हैंडल @Qweenofjhansi ने भी यही दावा किया. इसे 900 से ज़्यादा बार लाइक किया गया.

ये तस्वीर फ़ेसबुक पर भी शेयर की जा रही है. ये एक अन्य मेसेज के साथ भी वायरल हो रही है, “हिन्द के रणबाकुरों ने 1962 में चीन द्वारा क़ब्ज़ाये गए कैलाश पर्वत बड़ा हिस्सा अब अपने कब्जे में लेकर तिरंगा लहराया.”

(कैलाश पर्वत श्रृंखला के उन पहाडि़यों को अपने अधिकार में लेने के बाद भारतीय सेना की यह तस्वीर)
हमसे महज़ कुछ दूर है बस…

Posted by Neeraj Kumar on Monday, September 14, 2020

पुरानी फ़ोटो की गयी मॉर्फ़

ऐसी ही एक तस्वीर जून में वायरल में हुई थी. तब ये ग़लत दावा किया गया था कि भारतीयों ने पैंगोंग त्सो झील के चीनी क्षेत्र पर कब्ज़ा कर लिया है. एक संदिन्ग्ध वेबसाइट के फैलाये गये इस दावे का ऑल्ट न्यूज़ ने फ़ैक्ट चेक किया था जिसे आप यहां पढ़ सकते हैं.

रिवर्स इमेज सर्च करने पर हमें ओरिजिनल तस्वीर मिली जिसे द प्रिंट ने 13 मई, 2020 को एक आर्टिकल में लगाया था. फोटो का क्रेडिट ANI को दिया गया था जिसका इस्तेमाल सिर्फ रिप्रेज़ेंटेशन के लिये किया गया था.

साफ़ है कि तस्वीर हाल ही में मॉर्फ़ (एडिट) की गयी है.

हमें इसी मौके की एक और तस्वीर 26 जनवरी, 2020 को पब्लिश की गयी इंडिया टुडे की एक रिपोर्ट में मिली. इस आर्टिकल के अनुसार, इस तस्वीर में जवान लाइन ऑफ़ कंट्रोल (LoC) पर गणतंत्र दिवस 2020 मन रहे थे.

ऑल्ट न्यूज़ ने वायरल तस्वीर से जवानों और झंडे को हटाकर यांडेक्स (Yandex) पर भी रिवर्स इमेज सर्च किया. इससे हमें ओरिजिनल तस्वीर मिली जिसका बैकग्राउंड में इस्तेमाल किया गया है.

यानी LoC पर गणतंत्र दिवस 2020 मनाये जाने के मौके की तस्वीर को मॉर्फ़ करके गलत दावे के साथ शेयर किया गया कि तस्वीर में भारतीय जवान कैलाश पर्वत पर तिरंगा फहरा रहे हैं. भारत ने हाल ही में चुशूल बाउल की चोटी पर अपनी जगह बनाई है.

योगदान करें!!
सत्ता को आइना दिखाने वाली पत्रकारिता जो कॉरपोरेट और राजनीति के नियंत्रण से मुक्त भी हो, वो तभी संभव है जब जनता भी हाथ बटाए. फेक न्यूज़ और गलत जानकारी के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद कीजिये. डोनेट करिये.

Donate Now

तत्काल दान करने के लिए, ऊपर "Donate Now" बटन पर क्लिक करें। बैंक ट्रांसफर / चेक / डीडी के माध्यम से दान के बारे में जानकारी के लिए, यहां क्लिक करें

Send this to a friend