फ़ैक्ट-चेक: शिवसेना कार्यकर्ताओं ने जिसके साथ मारपीट की वो पूर्व नौसैनिक नहीं?

शिवसेना के कार्यकर्ताओं ने 11 सितम्बर को एक 65 वर्षीय बुज़ुर्ग पर हमला कर दिया था. बताया जा रहा है कि हमला महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे पर बना एक व्यंग्यात्मक कार्टून व्हाट्सऐप पर शेयर करने की वजह से किया गया. इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हुआ. भाजपा विधायक अतुल भटखलकर ने वीडियो ट्वीट करते हुए दावा किया कि शिवसेना कार्यकर्ता भारतीय नौसेना से रिटायर हुए मदन शर्मा को पीट रहे हैं. रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने भी वीडियो ट्वीट कर हमले की निंदा की.

ट्विटर यूज़र @Raja_Africa ने 13 सितम्बर को मदन शर्मा की फ़ेसबुक प्रोफ़ाइल का स्क्रीनशॉट पोस्ट करते हुए कहा कि वे रिटायर्ड नेवी अफ़सर नहीं बल्कि मर्चेंट नेवी से हैं. कई अन्य ट्विटर यूज़र्स ने ठीक यही दावा किया. इस ट्वीट को महाराष्ट्र कांग्रेस के प्रवक्ता सचिन सावंत ने कोट ट्वीट करते हुए लिखा, ” हे भगवान! क्या ये सच है?”

फ़ैक्ट-चेक

ट्विटर पर कीवर्ड सर्च करने पर हमें मदन शर्मा का पूर्व आईडी कार्ड मिला जिसे पत्रकार वरुण शर्मा ने शेयर किया था. इस कार्ड पर लिखा रजिस्ट्रेशन नंबर है, 201814-W और आईडी कार्ड का नंबर MAH-01/013527 है.

इस आईडी कार्ड के मुताबिक मदन शर्मा भारतीय नेवी में चीफ़ इलेक्ट्रिकल पॉवर की रैंक पर थे. कार्ड पर इसी का शाॅर्ट फॉर्म ‘CHEL(P)’ लिखा हुआ है. रिपब्लिक टीवी के साथ बात करते हुए उन्होंने बताया कि उन्होंने नेवी में 15 वर्ष सेवाएं दी जिसके बाद अपने परिवार को पालने के लिए मर्चेंट नेवी ज्वाइन किया था. कुछ मीडिया रिपोर्ट्स ने शर्मा की पहचान रिटायर्ड Chief Petty Officer के तौर पर की है.

फ़ैक्ट चेकिंग वेबसाइट BOOM ने मदन शर्मा के बेटे सनी शर्मा से बात की. उन्होंने अपने पिता की पूर्व सैनिक अंशदायी स्वास्थ्य योजना (ECHS) स्मार्ट कार्ड की फ़ोटो शेयर की और कहा, “ये उनके मर्चेंट नेवी को ज्वाइन करने के बाद की प्रोफ़ाइल है. मेरे पिता ने भारतीय नौसेना में 16 साल तक सेवाएं देने के बाद मर्चेंट नेवी ज्वाइन किया था.”

Source: BOOM

रिटायर्ड नेवी ऑफ़िसर पर हमले में शामिल शिवसेना के 6 कार्यकर्ताओं को दोबारा गिरफ़्तार कर मुंबई के बोरिवली कोर्ट में पेश किया गया था. उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया था. इंडिया टुडे से बात करते हुए मदन शर्मा ने कहा कि अब उन्होंने BJP-RSS ज्वाइन कर लिया है.

मदन शर्मा की फ़ेसबुक प्रोफ़ाइल, जहां उन्होंने मर्चेंट नेवी में होने की बात कही है, उसका स्क्रीनशॉट लेकर इस ग़लत दावे के साथ शेयर किया गया कि वे भारतीय नौसना में कभी थे ही नहीं. वो चीफ़ पेटी ऑफिसर की रैंक से रिटायर हुए जो कि ऑफिसर नहीं बल्कि सेलर केटेगरी में आती है. नौसेना में केटेगरी और रैंक का पूरा मसला समझने के लिए इस लिंक पर क्लिक कर के जानकारी पायी जा सकती है.

योगदान करें!!
सत्ता को आइना दिखाने वाली पत्रकारिता जो कॉरपोरेट और राजनीति के नियंत्रण से मुक्त भी हो, वो तभी संभव है जब जनता भी हाथ बटाए. फेक न्यूज़ और गलत जानकारी के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद कीजिये. डोनेट करिये.

Donate Now

तत्काल दान करने के लिए, ऊपर "Donate Now" बटन पर क्लिक करें। बैंक ट्रांसफर / चेक / डीडी के माध्यम से दान के बारे में जानकारी के लिए, यहां क्लिक करें

Send this to a friend