एक मुस्लिम नाम, वो भी एक औरत। वो यूपी में योगी आदित्यनाथ की सरकार बनने पर जश्न मनाती है और लगातार प्रधानमंत्री मोदी की ‘महानता’ की तारीफ करती है। वो मुसलमानों की बहुत आलोचना करती है। बार-बार पूरे मुस्लिम समुदाय को चरमपंथी के रूप में पेश करती है। क्या यह पूरे दक्षिणपंथी समुदाय के लिये किसी सपने के सच होने जैसा नहीं होगा? ट्विटर पर गिनी खान सर्च करें। वो अमेरिका के न्यूयॉर्क में रहने का दावा करती है। उसके ट्वीट्स पर होने वाले रीट्वीट्स पर गौर करें तो पता चलेगा कि वह दिखाती है कि वो राइट विंग के समर्थकों के बीच में कितनी मशहूर है।

Gini Khan's tweets giniromet

गिनी खान, दरअसल वो सभी बातें कहती है, जो बीजेपी कैंप से जुड़े हर एक शख्स को सुनना अच्छा लगेगा। मुस्लिम नाम वाली एक आधुनिक महिला, जो ऐसी बातें कह रही है, इसमें कोई आश्चर्य नहीं कि आखिर क्यों दक्षिणपंथी उसके ट्वीट्स को रीट्वीट करते हैं। हालांकि, क्या यह शख्स जो ट्विटर की दुनिया में उसके हैंडल @giniromet के नाम से जानी जाती है, असल दुनिया में भी मौजूद है? हम इस बात का पता लगाने जा रहे हैं।

Gini-Khan-Profile-Pictures

फर्जी तस्वीरें

गिनी खान का दावा है कि ऊपर की तस्वीरों में दिख रही महिला वो खुद है। हमने थोड़ी सी रिवर्स गूगल इमेज सर्चिंग की। हमने पाया कि बाईं ओर की तस्वीर सना खान नामक एक एक्ट्रेस का फोटो शूट से है जो ‘बिग बॉस’ में भी कंटेस्टेंट के तौर पर रही है। गिनी खान ने अपने ट्विटर अकाउंट पर जो तस्वीर डाली है, वो तस्वीर सना खान के इंस्टाग्राम अकाउंट से ली गई है।

Sana Khan Instagram

दाईं ओर की तस्वीर भी दरअसल सना खान की है और इसे ऑल सिने गैलरी नामक वेबसाइट से लिया गया है।

Sana Khan - All Cine Gallery

असल में, उसने न केवल सना खान की तस्वीरों को चुराया है, बल्कि दूसरी महिलाओं की तस्वीरों को भी चुराया है। प्रिया मेनन नाम की एक महिला ने पाया कि उनकी तस्वीरें गिनी खान की तस्वीर के तौर पर पोस्ट की जा रही हैं।

Giniromet stealing Priya Menon's pictures

तो गिनी खान अपनी असल मौजूदगी के बारे में ईमानदार नहीं रही है। लेकिन सोशल मीडिया पर बहुत सारे लोग हैं, जो अपनी असली तस्वीरों का इस्तेमाल नहीं करते। इसका मतलब यह नहीं है कि गिनी खान असली व्यक्ति नहीं है। आखिर हम इंस्टाग्राम फिल्टर की दुनिया में रहते हैं।

लोकेशन के बारे में गलत जानकारी

उसके अगले दावे पर गौर करें। फिलहाल तो उसने अपने अकाउंट पर लिखा है कि वो न्यूयॉर्क में रहती है। लेकिन इससे पहले वो कैनबरा, ऑस्ट्रेलिया में रहने का दावा करती थी। इस पर यकीन दिलाने के लिए वो नियमित रूप से ऑस्ट्रेलिया के बारे में ट्वीट करती थी। लेकिन ट्विटर में थोड़ी सी गहराई में पड़ताल करने से पता चलता है कि ऑस्ट्रेलिया के बारे में ट्वीट करते समय कई बार उसने असल में दूसरे लोगों की ट्वीट्स चोरी की है।

और तो और, यह दिखाने के लिए कि वो ऑस्ट्रेलिया में रहती है, उसने दूसरे देशों की तस्वीरों को ऑस्ट्रेलिया की तस्वीर बताकर सफेद झूठ बोला।

Australia airport - A pundit fearlessly & without any guilt or concern of what others might think doing his Puja. In India its not possible.

यह एक अजीब ऑस्ट्रेलियाई एयरपोर्ट है, जहां केवल भारतीय दिखाई देते हैं। अगर आप फोटो को जूम करते हैं तो आपको ये दिखाई देगा-

Air Vistara and Jet Airways circled

ऊपर बने सर्किल में एयर विस्तारा और जेट एयरवेज के गेट्स हैं, जो प्रार्थना करने वाले व्यक्ति के पीछे दिखाई दे रहे हैं। और एयर विस्तारा ने अभी तक इंटरनेशनल फ्लाइट्स की शुरुआत नहीं की है। गिनी खान ने ये साबित करने के लिए कि वह ऑस्ट्रेलिया में रहती है, एक भारतीय हवाई अड्डे को ऑस्ट्रेलियाई हवाई अड्डे के तौर पर दिखा दिया। ट्विटर थ्रेड पर कुछ कमेंट्स के मुताबिक, वो एयरपोर्ट शायद लखनऊ एयरपोर्ट है।

BREAKING JNU student Najeeb Ahmed found. Was abducted by Mohd Shameem close Aid of Kejriwal. Where is @BDUTT

हम सबको पता है कि JNU से गायब नजीब अभी तक नहीं मिला है। इन सारे पोस्ट में हमने देखा कि गिनी खान प्रोफाइल पिक्चर के लिए कैसे दूसरों के प्रोफाइल से तस्वीर चुराती हैं और उनका वो झूठ भी पकड़ा गया कि वो ऑस्ट्रेलिया से हैं।

एक ही इंसान के दो रंग?

हालांकि, इसमें भी संदेह है कि क्या गिनी खान वाकई एक ‘महिला’ है। यह दिखाने के लिए कि वो एक महिला है, इस अकाउंट से बॉडी पार्ट्स की तस्वीरें पोस्ट की जाती हैं। हालांकि, इसमें इस बात की चूक हो जाती है कि त्वचा के रंग को सभी तस्वीर में एक जैसा करने की जरूरत है।

साफ है कि जो खुद के गिनी खान होने का दावा कर रही है, वो असल में है ही नहीं। सवाल ऑस्ट्रेलिया या न्यूयॉर्क का नहीं है, सच ये है कि इस नाम की कोई महिला असलियत में नहीं है। यह वास्तव में एक फर्जी अकाउंट है जो फेसबुक / इंस्टाग्राम जैसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म से महिलाओं की फोटो को चुरा लेता है, और एक मुस्लिम महिला होने का नाटक करता है। और जो पूरी तरह से बीजेपी की राजनीति का समर्थन करता है।

(अनुवाद क्विंट हिंदी के सौजन्य से)

योगदान करें!!
सत्ता को आइना दिखाने वाली पत्रकारिता जो कॉरपोरेट और राजनीति के नियंत्रण से मुक्त भी हो, वो तभी संभव है जब जनता भी हाथ बटाए. फेक न्यूज़ और गलत जानकारी के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद कीजिये. डोनेट करिये.

तत्काल दान करने के लिए, ऊपर "Donate Now" बटन पर क्लिक करें। बैंक ट्रांसफर / चेक / डीडी के माध्यम से दान के बारे में जानकारी के लिए, यहां क्लिक करें

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of