’ओम्’ के उच्चारण से चलता है फव्वारा? नहीं, यह ध्वनि-नियंत्रित झरना है

इन दिनों सोशल मीडिया में एक वीडियो इस दावे के साथ प्रसारित किया जा रहा है कि थाईलैंड स्थित फव्वारे से, जब कोई हिंदू मंत्र ‘ओम्’ (ॐ) का उच्चारण करता है तो जादुई रूप से पानी निकलने लगता है। इस क्लिप में, एक महिला को माइक पर जोर से बोलते हुए सुना जा सकता है और उसके सामने घाटी से पानी निकलने लगता है।

 

थाइलैंड में एक पर्वत के नीचे पानी का एक छोटा झरना है जिसके बाजु वाले पर्वत पे ओम् ( ॐ) का उच्चारण करने पर पानी का फ़व्वारा बन कर पर्वत से भी उपर तक उछलता है.. ये किसी बोद्ध साधु – सम्प्रदाय ने बनाया है ।पानी का वज़न + गुरुत्वाकर्षण से भी इतना ऊपर पानी सिर्फ़ आवाज़ के तरंग से कैसे जा सकता है ?ऐसा सिर्फ़ ओम् (ॐ)बोलने पर ही होता हे !! ये भी एक अजूबा है.

Posted by Ujwala Deo on Saturday, 6 July 2019


वीडियो के साथ शेयर किये जाने वाले संदेश में लिखा है, “थाइलैंड में एक पर्वत के नीचे पानी का एक छोटा जरंना (small natural river) के बाजु वाले पर्वत पे *ओम् (ॐ)* का उच्चारण करते पानी फ़ूवाँरा बन कर पर्वत से भी अपर तक उछलता है….ये किसी साधु सम्प्रदाय ने बनाया है…. हमें ये नहि समज में आता है की ये एैसे कैसे होता है ? पानी का वज़न + गुरुत्वाकर्षण से भी इतना अपर पानी सिर्फ़ आवाज़ के तरंग से कैसे जा सकता है? ये कोई विज्ञानी ही बता सकता है…. उसे जान ने के लिए हमें बहुत जिज्ञासा है क्योंकि ऐसा सिर्फ़ *ओम् (ॐ)* बोल ने पर ही होता हे !! ये भी एक अजीबो अजूबा है.”

फेसबुक पर कई यूज़र्स ने इस वीडियो को उपरोक्त संदेश के साथ शेयर किया है।

ट्विटर पर भी यह वीडियो वायरल है।

महिला “ओम” नहीं बोलती है

यदि ध्यान से वायरल वीडियो को सुना जाए, तो महिला “ओम” नहीं बोलती है, बल्कि वास्तव में “आ…” कहती है। इससे पता चलता है कि फव्वारे के बारे में दावे संदिग्ध हैं कि यह रहस्यमय शब्द से चलता है।

जादुई फव्वारा नहीं, ध्वनि-नियंत्रित झरना है यह

जब कोई “ओम” कहता है तो इस झरने से पानी जादुई रूप से नहीं निकलता है। यह वास्तव में, एक ध्वनि-प्रेरित झरना है। इसलिए, आप जितना जोर से बोलते हैं, पानी उतना अधिक निकलता है। आप क्या बोलते हैं, इससे कोई फर्क नहीं पड़ता है।

ऑल्ट न्यूज़ को एक चीनी वीडियो स्ट्रीमिंग वेबसाइट टेनसेंट वीडियो (Tencent Video/ v.qq.com) पर वायरल क्लिप का मूल वीडियो मिला। इससे पता चलता है कि यह फव्वारा थाईलैंड में नहीं, बल्कि चीन में है। वीडियो के विवरण का गूगल अनुवाद बतलाता है — “वसंत की सूक्ष्मता को चिल्लाते हुए, आप वसंत के पानी को कितना अधिक चाहते हैं, यह आपके फेफड़ों की क्षमता पर निर्भर करता है!”

इंडिया टुडे की तथ्य-जांच में, एक चीनी समाचार चैनल न्यू चाइना टीवी (New China TV) द्वारा पोस्ट किया गया एक वीडियो मिला, जिसमें दावा किया गया था कि यह फव्वारा उत्तरी चीन के शांक्शी प्रांत के कैंगशान पर्वतीय क्षेत्र में स्थित है। इस वीडियो की शुरुआत वायरल वीडियो के समान लगती है। हालांकि, बाद के हिस्से कोई अलग स्थान, किसी दूसरे ध्वनि-प्रेरित फव्वारे के साथ दिखाते हैं। ऑल्ट न्यूज़ इसके सटीक स्थान की स्वतंत्र रूप से पुष्टि नहीं कर पाया है।

यही तकनीक दिखलाने वाले कुछ यूट्यूब वीडियो हमें मिले। नीचे पोस्ट किए गए वीडियो में एक आदमी को “आ…” चिल्लाते हुए सुना जा सकता है और उसके सामने झरने से पानी निकलने लगता है।

दरअसल, इस प्रकार के ध्वनि-नियंत्रित झरने ऑनलाइन खरीदारी के लिए भी उपलब्ध हैं। चीनी ई-कॉमर्स वेबसाइट ChinaHao.com ऐसा एक उपकरण 106.98 अमरीकी डॉलर में बेच रहा है।

 

सोशल मीडिया में झूठा दावा वायरल

सोशल मीडिया में वायरल दावा झूठा है कि ‘ओम्’ का उच्चारण करने पर झरने से पानी निकलता है।

यही झूठा दावा व्हाट्सएप्प पर भी शेयर किया जा रहा है।

योगदान करें!!
सत्ता को आइना दिखाने वाली पत्रकारिता जो कॉरपोरेट और राजनीति के नियंत्रण से मुक्त भी हो, वो तभी संभव है जब जनता भी हाथ बटाए. फेक न्यूज़ और गलत जानकारी के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद कीजिये. डोनेट करिये.

Donate Now

तत्काल दान करने के लिए, ऊपर "Donate Now" बटन पर क्लिक करें। बैंक ट्रांसफर / चेक / डीडी के माध्यम से दान के बारे में जानकारी के लिए, यहां क्लिक करें

Send this to a friend