सोशल मीडिया पर कुछ तस्वीरें शेयर हो रही हैं जिसमें एक बस पलटी हुई है और आस-पास कई जवान दिख रहे हैं. लोग दावा कर रहे हैं कि ये जवान बिहार चुनाव ड्यूटी में जा रहे थे और बस पलटने की वजह से 9 जवान शहीद हो गए. उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमिटी SC डिपार्टमेंट के वाइस प्रेसिडेंट तनुज पुनिया ने 5 नवम्बर को 2 तस्वीरें ट्वीट करते हुए ये दावा किया है. उन्होंने लिखा है, “#दरभंगा में #बीएसएफ के जवानों से भरी बस पलटी, 9 जवान शहीद, कई घायल, चुनाव कराने जा रहे थे बीएसएफ जवान.” (ट्वीट का आर्काइव लिंक)

फ़ेसबुक पर ‘आशुतोष कुमार’ नाम के एक पेज ने भी ये तस्वीर शेयर करते हुए यही दावा किया है. इस पोस्ट को 6 हज़ार से भी ज़्यादा लाइक्स मिले हैं.

हमने देखा कि ये तस्वीरें फ़ेसबुक और ट्विटर पर काफ़ी ज़्यादा वायरल हैं. एक फ़ेसबुक ग्रुप ‘CRPF*Central Reserve Police Force*शहीदों का वलिदान‘ में शेयर की गयी इन तस्वीरों को लगभग 2 हज़ार लाइक्स मिले हैं.

फ़ैक्ट-चेक

जब हमने ऐसी किसी ख़बर के बारे में जानने के लिए गूगल पर की-वर्ड्स सर्च किया तो मालूम चला कि ये सच है कि बिहार के दरभंगा-मुज़फ्फ़रपुर ज़िले के बीच एक बस पलटी थी. 5 नवम्बर को छपी कई ख़बरों में इस घटना का ज़िक्र है लेकिन एक भी जवान के शहीद होने की ख़बर नहीं है. रिपोर्ट्स के अनुसार, इस घटना में 10 जवान ज़ख्मी हो गए थे.

आज तक की 5 नवम्बर, 2020 की रिपोर्ट के मुताबिक, “बिहार के मुजफ्फरपुर में बुधवार दोपहर चुनाव ड्यूटी में जा रहे बीएसएफ जवानों से भरी बस पलट गई. जिसमें बस ड्राइवर समेत दस जवान घायल हो गए. घायल जवानों को इलाज के पास की कम्यूनिटी हेल्थ सेंटर में भर्ती कराया गया है. डॉक्टर्स में मुताबिक जवानों की हालत स्थिर है.”

कंपनी कमांडर विजय बहादुर ने आज तक को बताया, “चुनाव ड्यूटी के लिए हम सिंहवाड़ा आए थे. जवानों की बस लालपुर चौक से जब हाईस्कूल की ओर बढ़ी तो स्कूल का सही लोकेशन नहीं समझ पाने के कारण बस स्कूल गेट के पास से कुछ आगे बढ़ गई. संकरी सड़क पर बस को पीछे लाने के लिए बस को कुछ आगे बढ़ाया गया. बस को घुमाने के लिए पीछे किया जा रहा था कि यह घटना हो गई.”

हमने जवानों के शहीद होने के दावे से वायरल हो रही तस्वीर की भी जांच की. हमें ये तस्वीर समाचार वेबसाइट ‘सन्मार्ग लाइव‘ की 5 नवम्बर की फ़ोटो गैलरी में मिली. तस्वीर के बारे में बताया गया है कि बिहार के दरभंगा ज़िले में 5 नवम्बर को तीसरे फ़ेज के मतदान के लिए जाने वाले पुलिसकर्मियों की बस पलट गयी.

इन ख़बरों में कहीं भी किसी जवान की मौत की बात नहीं होने पर हमने कतरा पुलिस थाना और सिंहवाड़ा थाना से संपर्क किया. दोनों ही पुलिस स्टेशन के SHO ने हमें ये कन्फ़र्म किया कि जवानों के शहीद होने के दावों में कोई सच्चाई नहीं है. सिंहवाड़ा SHO ने बताया, “सबको हलकी-फ़ुल्की चोटें लगी थीं और उसी दिन सब हॉस्पिटल से अपने-अपने गंतव्य स्थान को निकल गए थे. कोई गंभीर रूप से भी घायल नहीं हुआ था. इस दुर्घटना में किसी किसी की भी मौत होने की बात पूरी तरह से ग़लत है.”

इस तरह बिहार विधानसभा चुनाव के दौरान फैलाई जाने वाली ये एक और ग़लत जानकारी है. ये पूरी तरह से स्पष्ट है कि इस दुर्घटना में 9 जवानों के शहीद होने की बात पूरी तरह से ग़लत है.

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.

About the Author

Priyanka Jha specialises in monitoring and researching mis/disinformation at Alt News. She also manages the Alt News Hindi portal.