ABP न्यूज़ की एक क्लिप सोशल मीडिया पर शेयर की जा रही है. वायरल क्लिप के अनुसार, मलयेशियाई सरकार ने इस्लामिक प्रचारक ज़ाकिर नाइक के प्रत्यर्पण को मंजूरी दे दी है और वो शायद ‘आज रात’ मुंबई पहुंचेगा और उसे कोर्ट में पेश किया जाएगा.

कई ट्विटर यूज़र्स ने इस दावे के साथ पोस्ट किया है – @KiranSi27813888, @KamalSinghnamo.

वायरल वीडियो पर एक हिंदी कैप्शन भी एडिट कर जोड़ा गया है. कैप्शन के अनुसार, “मोदी सरकार की बड़ी सफलता अपने भड़काऊ भाषणों से आतंकवाद को बढ़ावा देने के आरोप में नामजद ज़ाकिर नाइक को आज भारत वापस भेजेगी मलेशिया सरकार.”

कुछ यूज़र्स ने बिना वीडियो पोस्ट किये भी ऐसा ही दावा किया है. दावे में लिखा है कि मलयेशियाई सरकार ने ज़ाकिर नाइक को भारतीय अधिकारियों को सौंप दिया है और उसे बहुत जल्द भारत वापस लाया जाएगा.

This slideshow requires JavaScript.

ये दावा ट्विटर और फ़ेसबुक दोनों पर काफी वायरल है.

 

आया, जाकिर नाइक आया।
लिब्रांडुओ और सेकुलर गिरोह में उसके मित्रों को बज गई।

Posted by Suresh Lal on Thursday, 15 July 2021

 

जाकिर नाइक भारत की पकड़ में

Posted by Lion R S Parasar on Saturday, 17 July 2021

फ़ैक्ट-चेक

सबसे पहली चीज़ जो वायरल वीडियो में हमने देखी, वो है ABP न्यूज़ का पुराना लोगो. ABP न्यूज़ ने दिसंबर 2020 में अपने सभी न्यूज़ चैनलों के लिए एक नया लोगो बनाया था. नीचे हमने ABP न्यूज़ का पुराना और नया लोगो दिखाते हुए एक तस्वीर रखी है. इनमें अंतर देखा जा सकता है. इसका मतलब है कि ये खबर हाल की नहीं हो सकती.

वीडियो के निचले दाएं कोने में फ़ेसबुक पेज ‘फिर एक बार मोदी सरकार’ का लोगो है. इस पेज ने 4 जुलाई 2018 को ये वीडियो पोस्ट किया था. इसे 3.7 मिलियन व्यूज़ मिल चुके हैं.

ज़ाकिर नाइक की हुई भारत वापसी

कांग्रेस राज में फलने-फूलने वाला ज़ाकिर नाइक
मोदी राज में आया कानून के शिकंजे में

Posted by Phir Ek Baar Modi Sarkar on Wednesday, 4 July 2018

ट्विटर पर एक कीवर्ड सर्च करने पर हमने पाया कि ABP न्यूज़ ने 4 जुलाई, 2018 को “सूत्रों” के आधार पर रिपोर्ट प्रसारित की थी.

हमें ABP न्यूज़ द्वारा प्रसारित पूरी खबर भी मिली, जिसे ट्विटर पर 4 जुलाई, 2018 को पब्लिश किया गया था.

Controversial Islamic preacher Zakir Naik to be extradited to India by the Malaysian government

Controversial Islamic preacher Zakir Naik to be extradited to India by the Malaysian government

Posted by ABP Live on Wednesday, 4 July 2018

भारतीय विदेश मंत्रालय द्वारा नाइक के लिए प्रत्यर्पण अनुरोध मलयेशिया भेजने की ख़बर के आधार पर इस रिपोर्ट को तैयार किया गया था.

7 जुलाई 2018 को ‘न्यूज़’ ब्रेक करने के दो दिन बाद, ABP न्यूज़ ने बताया कि मलयेशियाई पीएम ने कहा है कि नाइक को भारत नहीं भेजा जाएगा.

7 जुलाई, 2018 को ज़ाकिर नाइक ने अपने प्रत्यर्पण के संबंध में गलत सूचना फैलाने के लिए ABP न्यूज़ सहित अन्य भारतीय न्यूज़ चैनलों की आलोचना करते हुए फ़ेसबुक पर एक वीडियो अपलोड किया. जिसमें उन्होंने कहा, “मैं टाइम्स नाउ चैनल, रिपब्लिक टीवी, NDTV, ABP न्यूज़ और कई अन्य न्यूज़ चैनलों और अख़बारों को मेरे खिलाफ 4 जुलाई को दो दिन पहले झूठी खबर प्रकाशित करने के लिए धन्यवाद देना चाहता हूं,”

Dr Zakir Naik thanks Indian Media for the Fake News of 4th July 2018

Dr Zakir Naik thanks Indian media for the Fake news of 4th July 2018 which proves that even the earlier news about him were Fake.

Posted by Dr Zakir Naik on Friday, 6 July 2018

हमने देखा कि वायरल वीडियो में लगभग 44 मिनट पर ABP न्यूज़ के संवाददाता ने दावा किया कि भारतीय अधिकारियों द्वारा की गई अपील के आधार पर, इंटरपोल ने ज़ाकिर नाइक की गिरफ़्तार के लिए रेड कॉर्नर नोटिस (RCN) जारी किया था. इस दावे की जांच करने पर हमने पाया कि अप्रैल 2021 तक इंटरपोल ने ज़ाकिर नाइक के लिए कोई RCN जारी नहीं किया है. 2017 के बाद से भारत ने कम से कम तीन बार ज़ाकिर नाइक पर RCN के लिए अनुरोध किया है, लेकिन इंटरपोल ने सभी अनुरोध अस्वीकार कर दिये.

इस तरह, ABP न्यूज़ की एक पुरानी क्लिप, जिसमें ये ग़लत दावा किया गया था कि प्रतिबंधित इस्लामिक ‘टेलीवेंजलिस्ट’ ज़ाकिर नाइक को मलयेशियाई अधिकारियों ने गिरफ़्तार कर लिया और उसे भारत भेजा जाएगा. ये ग़लत दावा सोशल मीडिया पर फिर से शेयर किया गया है.


योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधते हुए UP पुलिस कर्मियों का पुराना वीडियो शेयर

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

Donate Now

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.
Tagged:
About the Author

Kalim is a journalist with a keen interest in tech, misinformation, culture, etc