दिल्ली वालों को टीवी पर मुफ़्तखोर कहने के बाद सुधीर चौधरी की पिटाई और तोड़फोड़ के दावों की तस्वीरों का फ़ैक्ट चेक

एक फ़ेसबुक यूज़र ने दो तस्वीरें यह कहते हुए पोस्ट की कि, “दिल्ली के लोगों को मुफ्तखोर और गद्दार कहने पर भड़की जनता ने ज़ी न्यूज़ के ऑफिस पर किया हमला। #ये सुना है सही है क्या?#” इस पोस्ट को 900 से ज़्यादा बार शेयर किया जा चुका है। तस्वीर में ज़ी न्यूज़ के एंकर सुधीर चौधरी को देखा जा सकता है। उनकी नाक पर चोट लगी हुई है। साथ ही एक तस्वीर और भी है। इसमें किसी ईमारत की खिड़की के कांच टूटे हुए दिखाई दे रहे हैं।

ये मेसेज दिल्ली चुनावों के बाद अरविन्द केजरीवाल की अगुवाई वाली आम आदमी पार्टी को एग्ज़िट पोल में मिली बढ़त के बाद सुधीर चौधरी ने दिल्ली मतदाताओं को भला बुरा सुनाया था

इस पोस्ट को कई फ़ेसबुक उपयोगकर्ताओं ने शेयर किया है।

फ़ैक्ट चेक

तस्वीर 1

सुधीर चौधरी के नाक पर लगी चोट वाली तस्वीर, हमें 13 जुलाई, 2019 के गरजा छत्तीसगढ़ न्यूज़ के लेख में मिली। वेबसाइट के मुताबिक, चौधरी का मुंबई में एक्सीडेंट हुआ था। ज़ी न्यूज़ के एंकर ने 11 जुलाई को एक फ़ेसबुक लाइव के दौरान दर्शकों को बताया था कि घायल होने की वजह से कुछ दिन वो चैनल के लिए काम नहीं कर पाएंगे। उन्होंने कहा, “दो-तीन दिन पहले, मैं मुंबई गया था और मेरा एक्सीडेंट हो गया। मेरे नाक पर हेयरलाइन फ्रैक्चर हुआ है और डॉक्टर ने मुझे आराम करने की सलाह दी है।”

उन्हें ऐसी चोटों के साथ अन्य लाइव वीडियो में भी देखा जा सकता है।

तस्वीर 2

दूसरी तस्वीर को रिवर्स इमेज सर्च करने पर हमें मुंबई लाइव का एक लेख मिला, जिसमें इस तस्वीर को इस आर्टिकल के लिखे जाने से दो साल पहले दिखाया गया था। मुंबई लाइव के आर्टिकल में MNS कार्यकर्ताओं द्वारा मुंबई कांग्रेस कार्यलय में तोड़फोड़ की गई थी। पार्टी के नेता संदीप पांडेय को गिरफ्तार भी किया गया था। तस्वीर का क्रेडिट ANI को दिया गया था। ट्विटर पर जब हमने सर्च किया तो ANI की 1 दिसंबर 2017 को अपलोड की गई यही तस्वीर मिली। इसमें लिखा हुआ था – “Mumbai: Unidentified persons vandalized Mumbai Congress office at CST, more details awaited” (अनुवाद – मुंबई: अज्ञात वयक्ति ने CST में स्थित मुंबई कांग्रेस कार्यालय में तोड़-फोड़ की। ज़्यादा जानकारियों की प्रतीक्षा।)

ANI के एक ट्वीट के मुताबिक, “MNS leader Sandeep Deshpande & seven other party workers sent to judicial custody till 18 December for vandalising the Mumbai Regional Congress Committee office near Azad Maidan.” (अनुवाद -MNS नेता संदीप देशपांडे और अन्य 7 पार्टी नेताओं को 18 दिसंबर तक आज़ाद मैदान के नज़दीक में मुंबई क्षेत्रीय कांग्रेस कमेटी ऑफिस की तोड़-फोड़ करने की वजह से न्यायिक हिरासत में भेजा गया है।) इन्हें बाद में बेल के ज़रिये रिहा कर दिया गया था।

इसके अलावा, कहीं किसी भी जगह कोई भी मामला दर्ज़ नहीं किया गया है।

इस प्रकार, एक पुरानी और एक रैंडम तस्वीर के कॉम्कोबिनेशन को इस झठे दावे से शेयर किया गया कि दिल्ली मतदाताओं को खरी-खोटी सुनाने की वजह से ज़ी न्यूज़ के कार्यालय में तोड़-फोड़ की गई और सुधीर चौधरी को पीटा गया.

योगदान करें!!
सत्ता को आइना दिखाने वाली पत्रकारिता जो कॉरपोरेट और राजनीति के नियंत्रण से मुक्त भी हो, वो तभी संभव है जब जनता भी हाथ बटाए. फेक न्यूज़ और गलत जानकारी के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद कीजिये. डोनेट करिये.

Donate Now

तत्काल दान करने के लिए, ऊपर "Donate Now" बटन पर क्लिक करें। बैंक ट्रांसफर / चेक / डीडी के माध्यम से दान के बारे में जानकारी के लिए, यहां क्लिक करें

Send this to a friend