पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनावों के दौरान कुछ इलाकों में भाजपा और तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं के बीच झड़प हुई थी. पश्चिम बंगाल में चौथे चरण के मतदान के वक़्त कोच बिहार के सितालकुची में हिंसा भड़की थी. इस हिंसा में 4 लोगों की मौत हो गई थी. सोशल मीडिया पर इस हमले का बताकर एक वीडियो शेयर किया जा रहा है. वीडियो में भीड़ पोलिंग बूथ पर हमला करती दिख रही है जिसके बाद बूथ पर तैनात जवान उन्हें रोकने के लिए गोली चलाते हैं. ट्विटर यूज़र सुब्बा राव ने ये वीडियो ट्वीट करते हुए लिखा, “ममता बनर्जी के समर्थकों ने पश्चिम बंगाल के कोच बिहार के पोलिंग बूथ पर हमला किया. CRPF जवानों ने भीड़ को वहां से भगाकर अच्छा काम किया. #WestBengalPolls”. (आर्काइव लिंक)

ट्विटर यूज़र मोहित बाबू ने पॉलिटिकल कीड़ा का एक वीडियो पोस्ट किया था. इस वीडियो में वायरल वीडियो के साथ ममता बनर्जी का एक और वीडियो शामिल है जिसमें ममता बनर्जी ने CRPF जवानों से अत्याचार बंद करने को कहा है. इस वीडियो को फ़िलहाल डिलीट कर दिया गया है (आर्काइव लिंक). पॉलिटिकल कीड़ा ने पहले भी कई बार सोशल मीडिया पर गलत जानकारियां शेयर की हैं जिसपर लिखे हमारे आर्टिकल्स आप यहां पर पढ़ सकते हैं.

फ़ेसबुक पेज ‘Bharatiya Janata Party Mission Goaltore’ ने ये वीडियो बंगाली मेसेज के साथ पोस्ट किया है. (आर्काइव लिंक) फ़ेसबुक और ट्विटर पर ये वीडियो पश्चिम बंगाल के कोच बिहार का बताते हुए वायरल है.

फ़ेसबुक यूज़र हराधान घोष ने भी ये वीडियो पोस्ट किया था. इसे डिलीट करने से पहले 51 हज़ार बार देखा और 3,500 बार शेयर किया गया था.

फ़ैक्ट-चेक

की-वर्ड्स सर्च करने पर हमें वायरल वीडियो 18 अप्रैल 2019 की द न्यू इंडियन एक्सप्रेस की वीडियो रिपोर्ट में मिला. कैप्शन के मुताबिक, 2019 के चुनाव के दौरान मणिपुर के पोलिंग बूथ में हिंसा भड़की थी. वीडियो के साथ बताया गया है कि मणिपुर के Kyamgei Muslim Makha Leikaik में भीड़ ने पोलिंग बूथ में घुसने की कोशिश की थी. इसके बाद CRPF जवानों ने भीड़ को वहां से भगाने के लिए लाठीचार्ज और ब्लैंक फ़ायर किया था.

अप्रैल 2019 की ईस्ट मोजो की रिपोर्ट के मुताबिक, ये घटना 18 अप्रैल 2019 को हुई थी. रिपोर्ट में बताया गया है कि EVM में होने वाली गड़बड़ी से गुस्साए लोगों ने पोलिंग बूथ में घुसकर तोड़फोड़ की थी. उन्होंने EVM और VVPAT को तोड़ा था. ईस्ट मोजो ने ये वीडियो ट्वीट भी किया था.

18 अप्रैल 2019 की द हिन्दू की रिपोर्ट में मणिपुर के Kyamgei Muslim Makha Leikaik पोलिंग बूथ में हुई हिंसा की ख़बर पब्लिश की थी.

कुल मिलाकर, 2019 के लोकसभा चुनाव के दौरान मणिपुर के पोलिंग बूथ में भीड़ द्वारा हमला करने का वीडियो हाल में पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में कोच बिहार में हुई झड़प दिखाते हुए शेयर किया गया.


NDTV पर सोशल मीडिया का निशाना, लेकिन क्या उसने झूठ रिपोर्ट किया था?

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

Donate Now

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.
Tagged: