एक मंदिर का वीडियो क्लिप सोशल मीडिया पर वायरल है जिसके कैप्शन में लिखा है, “अयोध्या मे निर्माणाधीन श्री राम मंदिर की अनुपम कलाकृती की एक झलक”

ये वीडियो ट्विटर और फ़ेसबुक दोनों पर काफी वायरल हो रहा है.

अयोध्या मे निर्माणाधीन राम मंदिर की अनुपम कलाकृती की एक झलक ! जय श्री राम

अयोध्या मे निर्माणाधीन राम मंदिर की अनुपम कलाकृती की एक झलक !

#जय_श्री_राम

Posted by सच के साथ भारत on Saturday, 10 July 2021

 

अयोध्या मे निर्माणाधीन श्री राम मंदिर की अनुपम कलाकृती की एक झलक 👆🚩नमो नमो👏🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻

Posted by Rajendra Singh Pawar on Thursday, 8 July 2021

ऑल्ट न्यूज़ के व्हाट्सऐप नंबर (+91 76000 11160) पर दावे की सच्चाई जानने के लिए कई सारी रिक्वेस्ट मिलीं.

This slideshow requires JavaScript.

गुजरात का चुली जैन मंदिर

हमने वायरल वीडियो में से एक कीफ़्रेम लेकर रिवर्स इमेज सर्च किया. इससे हमें ऐसा ही एक वीडियो दिखा जिसे ट्विटर यूज़र @Astro_Healer_Sh ने अपलोड किया था. उसने वीडियो में मंदिर को चुली जैन मंदिर बताया था. ये मंदिर गुजरात में हलवाड़-धनगंधरा राजमार्ग पर स्थित है. इसे ध्यान में रख कर हमने गूगल पर कीवर्ड सर्च किया और ट्रैवलॉग नामक एक ट्रैवेल ब्लॉग पर मंदिर की तस्वीरें दिखीं.

नीचे हमने ट्रैवलॉग पर मौजूद तस्वीरों और मंदिर की तस्वीरों को एक साथ रखकर दिखाया है. आप इनमें समानता देख सकते हैं.

This slideshow requires JavaScript.

आगे गूगल मैप्स पर की गयी सर्च ये साबित करती है कि मंदिर असल में गुजरात में ही है, जैसा ब्लॉग में भी बताया गया है.

यूट्यूब पर एक और की-वर्ड सर्च करने पर हमें इस प्लेटफ़ॉर्म पर मौजूद वायरल वीडियो का लम्बा वर्ज़न मिला.

हमने श्री रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र का आधिकारिक ट्विटर हैंडल चेक किया जो अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण और प्रबंधन की देखभाल के लिए बनाया गया ट्रस्ट है. हैंडल ने मई 2021 में खुदाई प्रक्रिया की कुछ तस्वीरें अपलोड की थीं. स्पष्ट रूप से दिखता है कि मंदिर की नींव भी अभी तक पूरी नहीं हुई है.

राम मंदिर के फ़ाउंडेशन का काम मार्च 2021 में शुरू हुआ था. श्री रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के एक प्रमुख पदाधिकारी ने जून में मीडिया से बातचीत में कहा था कि अयोध्या में राम मंदिर के फ़ाउंडेशन का कार्य इस साल अक्टूबर तक पूरा होने की संभावना है.


एबीपी न्यूज़ के मुताबिक, जुलाई में राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने कहा था कि राम मंदिर 2025 में पूरी तरह से तैयार हो जाएगा लेकिन भक्त 2023 में भगवान के दर्शन कर सकेंगे.

इस तरह गुजरात के चुली जैन मंदिर का एक वीडियो राम मंदिर के रूप में शेयर किया गया जो अभी बन ही रहा है.


हिज़बुल के कमांडर को मार गिराया गया, मीडिया ने ISIS आतंकी की तस्वीर दिखाई

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

Donate Now

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.
Tagged:
About the Author

Kalim is a journalist with a keen interest in tech, misinformation, culture, etc