कर्नाटक में कांग्रेस नेता को 20 करोड़ रूपये के साथ पकड़े जाने की फर्जी तस्वीरें वायरल

“अभी कर्नाटक में राहुल गाँधी का नेता पकड़ा गया 20 करोड़ रूपये के साथ जो j.d.S. को देने जा रहा था कल पार्टी बनी और आज से हेरा फेरी शुरू” इन दावों के साथ तस्वीरों का एक सेट वायरल हो रहा है। Yogi Adityanath-True Indian नाम के पेज ने इन तस्वीरों को इस दावे के साथ 21 मई, 2018 को पोस्ट किया है, जिसे 25000 से ज्यादा बार शेयर किया जा चूका है। इस पेज के 9 लाख से भी ज्यादा फॉलोअर्स हैं।

अभी कर्नाटक में राहुल गाँधी
का नेता पकड़ा गया 20 करोड़ रूपये
के साथ जो j.d.S. को देने जा रहा था
कल पार्टी बनी और आज से हेरा फेरी शुरू

Posted by Yogi Adityanath – True Indian on Monday, 21 May 2018

कई ऐसे फेसबुक पेज जिसके लाखों फॉलोअर्स हैं, इन पेजों ने भी इसी दावे के साथ ये तस्वीरें पोस्ट की है। नरेन्द्र मोदी फॉलोअर्स नाम के पेज से इन्हीं दावों के साथ तस्वीरों को पोस्ट किया गया है, इस पेज के 3 लाख से ज्यादा फॉलोअर्स हैं। इंडिया वायरल नाम के पेज से भी इन तस्वीरों को पोस्ट किया गया है जिसे 10 हजार से ज्यादा बार शेयर किया गया है। कई पर्सनल आईडी और पेजों से भी इन तस्वीरों को इसी दावे के साथ शेयर किया जा रहा है। एक ही शब्दों के साथ कई लोगों का शेयर किया जाना फिर से इस ओर इशारा करता है कि व्हात्सप्प पर भी ये तस्वीरें इन्हीं दावों के साथ फ़ैल रही है।

कुछ समय पहले इन तस्वीरों को I.T & Social media cell Congress पेज ने इस दावे के साथ पोस्ट किया था कि “तिप्पनाहल्ली (कर्नाटक) में 120 करोड़ रुपयों का काला धन ले जाते हुए एक भाजपा कार्यकर्ता पकड़ा गया…!!उसने बताया कि ये पैसा कर्नाटक में होने वाले विधानसभा चुनाव में इस्तेमाल होने वाला था…लगता है ATM से ग़ायब 2000 के सारे नोट…भाजपा के पास ही हैं…”

तिप्पनाहल्ली (कर्नाटक) में 120 करोड़ रुपयों का काला धन ले जाते हुए एक भाजपा कार्यकर्ता पकड़ा गया…!!
उसने बताया कि ये…

Posted by I.T & Social media cell Congress on Sunday, 22 April 2018

इन तस्वीरों की सच्चाई क्या है?

ऑल्ट न्यूज़ ने इन तस्वीरों की सच्चाई 27 अप्रैल,2018 को ही बताई थी। फिर से इन तस्वीरों को एक अलग दावे से फैलाया गया है। वास्तव में मुद्रा नोटों की तस्वीर तब ली गयी थी जब आयकर अधिकारियों ने नवंबर, 2017 में दिल्ली में एनएसई ब्रोकर के यहाँ छापा मारा था।

बाकी की दो तस्वीरें के लिए ऑल्ट न्यूज़ को 18 अप्रैल, 2018 का एक लेख मिला था जो The Hindu के तमिल संस्करण में प्रकाशित हुआ था। इस लेख के अनुसार एक निजी बस में आंध्रप्रदेश से कर्नाटक 120 करोड़ रुपये की मुद्रा नोट की तस्करी पुलिस द्वारा पकड़ी गई थी।

द हिन्दू के इस लेख में यह उल्लेख किया गया था कि पुलिस यह निर्धारित नहीं कर सकी है कि इन बक्सों को कौन लाया हैं, एक मामला दर्ज किया गया और जांच अभी भी जारी है। राजनीतिक दलों की भागीदारी के बारे में अभी तक कोई सबूत नहीं है, हालांकि पुलिस को संदेह था कि इस पैसे का इस्तेमाल विधानसभा चुनावों के लिए किया जा सकता है।

इस तरह अलग-अलग कुछ तस्वीरों को दो गलत दावे के साथ शेयर किया गया है। यह गलत कार्य दोनों पक्ष और विपक्ष राजनितिक दलों के समर्थकों ने एक-दूसरे को गलत दिखाने के लिए किया है। हालांकि इस प्रकिया में सिर्फ सोशल मीडिया यूजर्स गलत जानकारी के शिकार होते हैं।

योगदान करें!!
सत्ता को आइना दिखाने वाली पत्रकारिता जो कॉरपोरेट और राजनीति के नियंत्रण से मुक्त भी हो, वो तभी संभव है जब जनता भी हाथ बटाए. फेक न्यूज़ और गलत जानकारी के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद कीजिये. डोनेट करिये.

Donate Now

तत्काल दान करने के लिए, ऊपर "Donate Now" बटन पर क्लिक करें। बैंक ट्रांसफर / चेक / डीडी के माध्यम से दान के बारे में जानकारी के लिए, यहां क्लिक करें

Send this to a friend