सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल है जिसमें एक टेबल पर बहुत सारे जेवरात रखे हैं. वीडियो में कुछ लोग और पुलिसकर्मी टेबल को घेरकर खड़े हैं. ये वीडियो शेयर करते हुए दावा किया जा रहा है कि तिरुपति बालाजी मंदिर के पूजारियों में से एक पुजारी के घर पर आयकर विभाग ने छापा मारा. इस दौरान, उनके घर से 128 किलो सोना, 150 करोड़ रुपये नगद और 77 करोड़ रुपये के हीरे मिलें.

एक ट्विटर यूज़र ने ये वीडियो इसी दावे के साथ ट्वीट किया. (ट्वीट का आर्काइव लिंक)

ट्विटर से लेकर फ़ेसबुक तक ये वीडियो इसी दावे के साथ वायरल है.

इस घटना की कुछ तस्वीरें भी व्हाट्सऐप पर शेयर की जा रही हैं. ऑल्ट न्यूज़ के व्हाट्सऐप हेल्पलाइन नंबर पर इस वीडियो की असलियत जानने के लिए कुछ रीक्वेस्ट आयी हैं.

ज़ी 5 वेबसाइट पर दैनिक सवेरा टाइम्स का आर्टिकल शेयर किया गया है एक तस्वीर शेयर करते हुए ऐसा ही दावा किया गया है.

फ़ैक्ट-चेक

ऑल्ट न्यूज़ के व्हाट्सऐप हेल्पलाइन नंबर पर एक यूज़र ने इस घटना की तस्वीरें शेयर करते हुए बताया कि ये तमिलनाडु के वेल्लोर में हुई चोरी की घटना की तस्वीरें हैं.

इस आधार पर की-वर्ड्स सर्च करते हुए ऑल्ट न्यूज़ को कुछ रिपोर्ट्स मिलीं. 21 दिसंबर 2021 की द हिन्दू की रिपोर्ट में इस घटना के बारे में बताया गया है. आर्टिकल के मुताबिक, चोरी के एक हफ़्ते के बाद पुलिस ने इस पूरे मामले को सुलझाते हुए एक शख्स को गिरफ़्तार कर लिया था. और 16 किलो सोना भी बरामद किया गया था. 15 दिसंबर को इस शख्स ने ज्वेलरी शॉप में ड्रिल की मदद से दीवार में एक छेद किया और अंदर घुसा. पुलिस ने शो रूम के CCTV फ़ुटेज के आधार पर आरोपी की पहचान की.

वेल्लोर शहर के SP S. राजेश कान्नन और ASP अल्बर्ट जॉन ने बताया कि इस मामले को सुलझाने में उन्होंने CCTV फुटेज का विश्लेषण किया. उन्होंने कहा कि आरोपी ने अपना चेहरा मास्क से छुपा रखा था. ऐसा ज़्यादातर आस-पास रहनेवाले लोग ही करते हैं. ताकि उनकी पहचान किसी के सामने न आए. इस आधार पर पुलिस ने छानबीन करते हुए 23 वर्षीय T. K रमण को गिरफ़्तार किया.

और भी कई मीडिया संगठनों ने इस घटना को रिपोर्ट किया था. (लिंक 1, लिंक 2)

न्यूज़18 तमिलनाडु के पत्रकार महालिंगम पोन्नुसामी ने भी इस घटना के बारे में बताते हुए एक वीडियो ट्वीट किया था.

आगे, ऑल्ट न्यूज़ ने तिरुपति बालाजी मंदिर से जुड़े लोगों के घर पर छापा पड़ने को लेकर सर्च किया. लेकिन हमें इस दावे की पुष्टि करती कोई मीडिया रिपोर्ट नहीं मिली.

कुल मिलाकर, तमिलनाडु में पुलिस द्वारा चोरी का सामान ज़प्त करने की तस्वीरें और वीडियो शेयर करते हुए झूठा दावा किया गया कि तिरुपति बालाजी मंदिर के पुजारी के घर छापेमारी की गई थी जहां से ये सोना बरामद किया गया.

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.